Entertainment News
Shani Dev: शनिदेव की दृष्टि से बचना है तो भूलकर भी न करें ये काम 20-Feb-2021

Shani Ki Drishti: शनिदेव को न्याय का देवता कहा गया है. आज शनिवार है. शनिवार का दिन शनिदेव को समर्पित है. शनि देव कुछ कार्यों को करने से बहुत जल्दी नाराज होते हैं. इसलिए इन कार्यों को नहीं करना चाहिए

Mahima Shani Dev Ki: 20 फरवरी 2021 शनिवार को माघ शुक्ल की अष्टमी तिथि है. शनिवार के दिन पूजा करने से शनिदेव बहुत जल्द प्रसन्न होते हैं और शुभ फल प्रदान करते हैं. शनि ग्रह को ज्योतिष शास्त्र में एक कू्रर ग्रह माना गया है.

 

शनि की दृष्टि को इसीलिए शुभ नहीं माना जाता है. शनि देव साढ़ेसाती और ढैय्या के दौरान अशुभ फल प्रदान करते हैं. वहीं शनि की महादशा में भी शनि देव शुभ फल नहीं प्रदान नहीं करते हैं. लेकिन कुछ मामलों में शनि शुभ फल भी देते हैं. जन्म कुंडली में शनि जब शुभ स्थिति में विराजमान होते हैं तो शनि अच्छे फल भी प्रदान करते हैं.

 

शनिदेव को न्याय प्रिय ग्रह माना गया है. ग्रहों में शनि को न्यायाधीश का दर्जा प्राप्त है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि व्यक्ति को उसके कर्मों के आधार पर फल प्रदान करते हैं. यानि शुभ कार्य करने पर अच्छे और बुरे कार्य को करने पर शनिदेव अशुभ फल प्रदान करते हैं. इसलिए व्यक्ति को गलत कार्यों को करने से बचना चाहिए.

 

शनिदेव इन कार्यों को करने से नाराज होते हैं
शनिदेव के प्रकोप से बचना है तो भूलकर भी आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्ति, मजदूर और दिव्यांग जनों को नहीं सताना चाहिए. इनका अनादर और अपमान भी नहीं करना चाहिए. जो इन बातों का ध्यान नहीं रखता है उसे शनि की महादशा, शनि की साढ़ेसाती और शनि की ढैय्या के दौरान अत्याधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

 

शनिवार को शनि का दान करें
शनिवार को शनि का दान करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं. शनिवार के दिन नजदीकी शनि मंदिर में शनिदेव पर सरसों का तेल चढ़ाना चाहिए. इस दिन सरसों के तेल का दान भी कर सकते हैं. इस दिन जरूरतमंद व्यक्तियों को भोजन करना चाहिए और उनकी यथा संभव मदद करनी चाहिए.

 

 

More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.