Top Story
निजी अस्पताल संचालक होटलों को किराए पर लेकर कर रहे हैं अवैध कमाई 15-Apr-2021
*मरीजों की मजबूरी का फायदा उठाकर उनसे नाजायज उगाही करने वाले डाक्टरों और अस्पताल मालिकों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध करके उन्हें जेल भेजा जाये और उनके लाईसेंस निरस्त किये जायें।* आज पूरा विश्व जहां कोरोना महामारी से ग्रसित है, और रोजाना लोग सैकड़ों की संख्या में मौत के मुंह में समा रहे है, पिछले वर्ष कोरोना के कारण कई लोगों के रोजगार खत्म हो गये और अब कोरोना की दूसरी वेव शुरू हो गई है, और बाजार मे दवाओं की कमी है, लोगों को ईलाज नही मिल रहा और मध्यमवर्गीय पैसों की कमी से जूझ रहा है, वही प्राईवेट अस्पताल के मालिकों और डाॅक्टरों ने इस आपदा मे लोगों का नाजायज फायदा उठाना शुरू कर दिया है, लोग डाॅक्टर को भगवान मानते है, वही आज डाॅक्टर लोगों से अवैध उगाही और इलाज के नाम पर बेवजह बिल बढ़ाकर उगाही कर रहे है। शिवसेना के पास ऐसे अस्पतालों के मालिक और डाॅक्टरों की शिकायतें लगातार पहुंच रही है, जिसको लेकर शिवसेना ने ऐसे डाॅक्टरों को सूचि तैयार की है, और जल्द ही यह सूचि स्वास्थ्य मंत्री , कलेक्टर, मुख्यमंत्रि , मेडिकल कार्पोरेशन को सौंपकर ऐसे डाॅक्टरों के लिये कार्यवाही करने हेतु ज्ञापन देगी, और सरकार से मांग करेगी की इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये, इनके ऊपर जुर्म दर्ज कर इनके लाईसेंस निरस्त किये जाये। इस कठिन परिस्थिति को देखते हुये शिवसेना प्रदेश महासचिव सुनिल कुकरेजा ने चेतावनी दी है, कि ऐसे डाॅक्टरों का खिलाफ सख्त कार्रवाई करवाई जायेगी और किसी को बख्शा नही जायेगा, इन डाक्टरों ने अवैध उगाही करने के लिये बिना सुविधा के प्राईवेट होटलों को किराये पर ले लिया है और मरीजों से रोजाना 60,000 रूपये के हिसाब से उगाही कर रहे है, आपदा मे जहां लोग एक दूसरे की मदद कर रहे है, वहीं ये लोग ऐसे कृत्य को अंजाम देकर इंसानियत को शर्मसार कर रहे है।
More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.