Rajdhani
कृषि मंत्री को विपक्ष की भूमिका समझाने की आवश्यकता नहीं : बृजमोहन अग्रवाल 25-Jun-2022
रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र को लेकर पक्ष और विपक्ष दोनों एक दूसरे पर हमलावर हैं। विपक्ष ने सत्र बढ़ाने की मांग की है तो वहीं कांग्रेस के संसदीय कार्य मंत्री व कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का बयान सामने आने के बाद पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने उस पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री को विपक्ष की भूमिका समझाने की आवश्यकता नहीं है। संसदीय मंत्री का दायित्व है कि सत्र ज्यादा से ज्यादा चलाएं। पार्लियामेंट्री का जो एथिक्स बना है कि छोटे राज्यों का सत्र 50 दिन होने चाहिए। पर -मंत्री चौबे यह बताएं कि सत्र अभी तक पूरे क्यों नहीं हो पाए। श्री अग्रवाल ने कहा कि वर्षा कालीन जो सत्र है अगर रविंद्र चौबे में दम है तो यह सत्र कम से कम 15 दिन चला कर दिखाए। हम सिर्फ 14 विधायक कांग्रेस की नाक में दम कर के रखते हैं और कांग्रेस जवाब देने से भागती है। प्रश्नों के उत्तर देने से भागती है। संवैधानिक मर्यादाओं को तोड़ती है। कांग्रेस विधानसभा बढ़ाने की मांग की बात को हास्यास्पद बता रही है। विधानसभा और संसदीय परंपराओं का अपमान कर रहे हैं। रविंद्र चौबे यह बताए कि उनके विधायक अपने प्रश्नों के दिनों में अनुपस्थित रहते हैं, उसका कारण क्या है।
More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.