State News
पनामा पेपर से पता चलेगा कि जो विदेश में खाता है उसका रमन सिंह जी के घर से क्या नाता है 16-Nov-2019
रमन सिंह की बयानबाजी पर कांग्रेस की तीखी प्रतिक्रिया रायपुर/16 नवंबर 2019। चिटफंड घोटाले के मामले में रमन सिंह जी के बेटे अभिषेक सिंह जमानत पर हैं अंतागढ़ मामले में राजेश मूणत ने जमानत ली हुई है डीकेएसघोटाले को लेकर रमन सिंह के दामाद डॉ पुनीत गुप्ता आरोपों के घेरे में है। जिस रमन सिंह जी के परिवारजन और नजदीकी लोग गंभीर वित्तीय अनियमितताओं में जमानत पर हैं वे कम से कम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर झूठे निराधार आरोप लगाने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। शराब में कमीशनखोरी के रमन सिंह आरोपों का कड़ा विरोध करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि रमन सिंह जी 2003 से लेके 2018 तक 15 वर्ष प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। उन्हें बहुत अच्छा अनुभव है शासन चलाने का जरूर इस प्रकार से रमन टेक्स की वसूली रमन सिंह जी के शासनकाल मे होती रही होगी। लोग रायगढ़ में प्रदेश भाजपा कार्यसमिति मे रमन सिंह जी का वो भाषण जिसमे उन्होंने एक साल तक कमीशनखोरी रोकने की बात कही थी ये डिगर बात है कि एक दिन भी कमीशनखोरी नही रुकी रमन सिंह जी सरकार में और आज रमन सिंह जी ईमानदारी से काम कर रहे, जनता की सेवा कर रहे है, किसानों के हितों में काम कर रहे है भूपेश बघेल जी की सरकार पर ऐसे झूठे निराधार का आरोप लगा रहे है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि रमन सिंह जी राफेल मामले की चिंता छोड़ें और पनामा पेपर्स के जांच की चिंता करें जिससे इस बात का खुलासा होगा कि जो विदेश में जिस खाता है उससे रमन सिंह जी के घर का क्या नाता है? डॉ. रमन सिंह से आग्रह करता हूं की में राफेल मामले में सर्वोच्च न्यायालय के जजमेन्ट के पृष्ठ क्रमांक 87 को पढ़ ले जिसमें सर्वोच्च न्यायालय कहा है कि आगे जांच अभी भी खुली हुई है। रफाएल मामले में किसी भी प्रकार के जांच को सर्वोच्च न्यायालय ने बाधित नही किया है। सीबीआई और ईडी जैसी जिन संस्थाओं का प्रयोग नरेन्द्र मोदी और अमित शाह अपने राजनैतिक विरोधियो के खिलाफ कर रहे है, उन एजेंन्सियो को रफाएल मामले में जांच के लिए क्यो नहीं लगाते? सर्वोच्च न्यायालय ने जांच को खुला रखी है। रफाएल मामले में संयुक्त संसदीय समिति के गठन की कांग्रेस की मांग आज तक यथावत है। अगर मोदी जी में और भाजपा नेताओं में जरा भी नैतिकता और साहस बचा हो तो संयुक्त संसदीय समिति की जांच की मांग को स्वीकार करने का नैतिक साहस दिखाए। बोफोर्स मामले में संयुक्त संसदीय समिति से जांच करवायी थी। राजीव गांधी जी बोफोर्स मामले में निर्दोष साबित हुए थे। अगर मोदी जी ने कुछ भी गड़बड़ नही किया हो रफाएल मामले में तो वे भी सँयुक्त संसदीय समिति से रफाएल मामले की जांच कराने का साहस दिखाये अन्यथा पूरा देश मोदी जी को दोषी मान चुका है।  रमन सिंह द्वारा किसान हित की बड़ी-बड़ी बातो पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने किसानों के प्रति ये संवेदनशीलता रमन सिंह जी की उस समय कहां सोई हुई थी, जब वे मुख्यमंत्री थे? किसानों से झूठे वादे करते थे और किसानों से धोखाधड़ी करते थे? रमन सिंह जी ने कहा था 5 साल तक 300 रुपया बोनस देंगे नही दिया रमन सिंह जी ने कहा था कि धान का 2100रु. समर्थन मूल्य देंगे, नही दिया, रमन सिंह जी ने कहा था एक-एक दाना धान खरीदेंगे नही खरीदा, रमन सिंह जी ने कहा था किसानों के पांच हार्सपावर पम्पो की मुफ्त बिजली देंगे नही दी। किसानों से धोखाधड़ी के दोषी रहे रमन सिंह जी पर कांग्रेस पर इस तरीके से झूठे निराधार आरोप लगाने से उनकी और पूरी पार्टी भाजपा की विश्वसीनीयता आम लोगो के बीच में समाप्त हो चुकी है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि डॉ रमन सिंह जी जब से सत्ता से उतरे है उन्हें दिव्य ज्ञान की प्राप्ति हुई है। रमन सिंह जी के अचानक ज्ञान चक्क्षु खुल गए है। रमन सिंह जी को छत्तीसगढ़ में अपराध बढ़ते हुए दिख रहे है। जिस रमन सिंह जी के शासनकाल मे बिलासपुर के कांग्रेस भवन के भीतर अंदर घुसकर कांग्रेस भवन में लाठी चार्ज किया गया था, जिस रमन सिंह जी के शासनकाल मे झलियामारी, सारकेगुड़ा, एड़समेटा, पेद्दागेलूर जैसे घटनाये हुए, जो रमन सिंह जी जीरम में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा को सुरक्षा नही देने का आरोपी है और कांग्रेस के नेताओ की शहादत हुई, रमन सिंह जी के शासनकाल में जिस स्थान पुलिस सुरक्षा व्यवस्था नही थी, ठीक उसी स्थान पर कांग्रेस की परिर्वतन यात्रा पर माओवादी हमला हुआ। ऐसे रमन सिंह जी के द्वारा कानून व्यवस्था की स्थिति को देखकर लगाया जा रहे निराधार आरोप केवल और केवल सत्ता से उतर जाने की बौखलाहट है।  प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि हम छत्तीसगढ़ के लोग रमन सिंह जी के उन बयानों को नही भूले है जिन्होंने उसमें बेटे के द्वारा गलती होने पर बाप को पीटने की बात कही थी। छत्तीसगढ़ के लोग यह भी नही भूले है जब रमन सिंह जी ने दुर्घटनाओं के लिए मोटर साईकिल में पीछे बैठी महिलाओ को दोषी ठहराया था। रमन सिंह जी अपने मुख्यमंत्रित्व काल मे लगातार असंसदीय, अशोभनीय अशिष्ट बाते करते रहे है और आज वे कांग्रेस के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को शिष्टाचार की सीख न दे। छत्तीसगढ़ की माटी के लाडले सपूत है। छत्तीसगढ़ के स्वाभिमान की रक्षा के लिए लड़ रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी पर रमन सिंह जी के द्वारा राजनैतिक विद्वेषवश मढ़े जा रहे निर्रथक निराधार आरोपो में कोई सत्यता नही है।
More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.