State News
दोनों प्रमुख पार्टियों को पछाड़कर बसना नगर पंचायत में बनी निर्दलीयों की सरकार , कैसे ? 14-Jan-2020
*दोनों प्रमुख पार्टियों को पछाड़कर बसना नगर पंचायत में बनी निर्दलीयों की सरकार , कैसे ?-* बसना नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष संपत अग्रवाल ने राजधानी रायपुर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि भाजपा और कांग्रेस का वर्चस्व बसना से समाप्त हो चुका है उन्होंने बताया कि बसना नगर पंचायत प्रदेश में एक मिसाल के रूप में सामने आई है जहां निर्दलीयों की सरकार है | प्रदेश में हाल ही नगरीय निकाय चुनाव सम्पन्न हुए। एक ओर सभी नगर निगमों में कांग्रेस पार्टी ने अपना महापौर बनाकर सरकार के कामकाज का बेहतर परिणाम बता रही है, तो वहीं भाजपा ने भी प्रदेश के सभी 2800 वार्डों में से 1138 पार्षदों के जीत का दावा कर भारतीय जनता पार्टी की बेहतर स्थिति की बात कर रहे हैं। लेकिन बसना नगर पंचायत में सम्पत अग्रवाल का प्रभाव बरकरार रहा। नगर पंचायत बसना में 7 निर्दलीय पार्षदों के साथ सम्पत अग्रवाल ने अपना अध्यक्ष बनाने का ऐतिहासिक कीर्तिमान हासिल किया। शायद छत्तीसगढ के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जहां किसी जनप्रतिनिधि की व्यक्तिगत लोकप्रियता के कारण भाजपा एवं कांग्रेस दोनो को मुंह की खानी पडी । सम्पत अग्रवाल प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में बहुत ही कम अन्तर से चुनाव हार थे - भाजपा प्रत्याशी तीसरे स्थान पर रहे थे - बसना नगर पंचायत के परिणाम ने यह स्पष्ट कर दिया है कि सम्पत अग्रवाल का पलडा आगामी विधानसभा चुनाव में और मजबूत होगा। ।
More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.