Top Story
  • सुषमा स्वराज कश्मीर की आजादी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देने के बाद दुनिया से अलविदा कर गई
    भारत की कद्दावर महिला नेत्री पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वराज का आज निधन हो गया 67 साल की उम्र में दिल्ली के एम्स अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली - हर किसी की मदद करने वाली चाहे देश हो जा विदेश किसी को कोई भी परेशानी हो उसकी सहायता को हमेशा तत्पर रहने वाली सुषमा स्वराज के निधन से देश को एक बड़ी क्षति हुई है
  • नान के दफ्तर में EOW ने मारा छापा…कई दस्तावेज किये गये जब्त...विभाग में मचा हड़कंप...

    रायपुर | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि नया रायपुर स्थित नागरिक आपूर्ति निगम के दफ्तर पर ईओडब्ल्यू की टीम ने मंगलवार को दबिश दी है। बताया जा रहा है कि ईओडब्ल्यू की टीम ने पूर्व में लंबित नान घोटाला मामले के दस्तावेजों को जब्त करने पहुंची हैं। डीएसपी स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में यह दल पहुंचा नान के दफ्तर पर पहुंचे हैं। फिलहाल 10 अधिकारियों द्वारा कार्रवाई जारी है। बता दें कि नान घोटाले के मामले में ईओडब्ल्यू जांच कर रही है।

  • जनसम्पर्क विभाग: न्यूज वेबसाईटों से विज्ञापन के लिए 12 अगस्त तक ऑनलाईन लिए जायेंगे आवेदन...

    रायपुर। राज्य शासन के जनसम्पर्क विभाग ने नये विज्ञापन नियम लागू कर दिये हैं. छत्तीसगढ़ राजपत्र में विज्ञापन संबधी नियमावली 2019 की अधिसूचना के प्रकाशन के साथ ही ये प्रभावशील हो गये हैं. डिजीटल माध्यम की उपयोगिता को देखते हुए न्यूज वेबसाईटों के लिए भी मापदंड तय कर दिये गये हैं.न्यूज वेबसाईटों/न्यूज पोर्टलों से प्रति माह की 12 अगस्त तक निर्धारित प्रपत्र में विज्ञापन के लिए ऑनलाईन आवेदन लिया जायेगा. ऑनलाईन आवेदन वेबसाईट cg.nic.in/dpr पर भरा जा सकता है. आनलाईन आवेदन करते समय कोई कठिनाई आने पर कार्यालयीन दिवस एवं समय में टेलीफोन नंबर 0771-2512575 पर सीनियर प्रोग्रामर से संपर्क कर सकते हैं.

  • विज्ञापन नियमावली 2019 लागू : न्यूज़ वेबसाइटों , न्यूज़ पोर्टलों को भी मिलेगा विज्ञापन -
    रायपुर, 06 अगस्त 2019/ राज्य शासन के जनसम्पर्क विभाग ने नये विज्ञापन नियम लागू कर दिये हैं। छत्तीसगढ़ राजपत्र में विज्ञापन संबधी नियमावली 2019 की अधिसूचना के प्रकाशन के साथ ही ये प्रभावशील हो गये हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप प्रिंट मीडिया में राज्य दर को पहले की दर की तुलना में दो गुना कर किया गया है। साथ ही डिजीटल माध्यम की उपयोगिता को देखते हुए न्यूज वेबसाईटों के लिए भी मापदंड तय कर दिये गये हैं। इसके अनुसार एक वर्ष की अवधि पूर्ण कर चुके वेबसाईटों को प्रति माह न्यूनतम दस हजार की यूनिक यूजर संख्या होने पर विज्ञापन दिये जाने पर विचार किया जा सकेगा। इसके लिए निर्धारित प्रपत्र में आॅनलाईन आवेदन लिया जायेगा। सोशल-मीडिया के विभिन्न माध्यमों में आवश्यकता के आधार पर विज्ञापन जारी किया जा सकेगा। विज्ञापन संबंधी नियमावली में प्रिन्ट मीडिया, इलेक्ट्रानिक मीडिया, सोशल मीडिया, न्यूज वेबसाईटों/न्यूज पोर्टलों के लिए स्पष्ट प्रावधान किया गया है। विज्ञापन नियमावली 2019 को वेबसाईट dprcg.gov.in और cg.nic.in/dpr पर देखा जा सकता है।
  • भाजपा शासन में शमशान घाट में भी हुआ घोटाला - जल्द होगा खुलासा
    प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी एक और बड़ा खुलासा करने जा रहे हैं - प्रदेश में खर्च करके उजाड़ पड़े श्मशान घाट को लेकर उन्होंने विस्तृत जानकारी एकत्र की है - जिसके आधार पर भारतीय जनता पार्टी की रमन सरकार के खिलाफ शमशान घोटाला के नाम से शीघ्र ही बड़ा खुलासा करने वाले हैं - उल्लेखनीय है कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद अनेक घोटाले उजागर हो रहे हैं - अब शमशान घोटाला लोगों की जिज्ञासा का कारण बनेगा जहां सबको एक ना एक दिन जे पहुंचना है उस जगह के नाम पर घोटाला अपने आप में कष्टदायक बात है | CG 24 News - Lavinderpal
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अब तक का सबसे बड़ा ऐतिहासिक कदम
    5 अगस्त 2019 हर भारतीय के लिए खुशी का दिन है , हर भारतीय सीना चौड़ा करके *एक भारत, एक संविधान, एक निशान,की बात कर सकता है, इतना बड़ा फैसला लेने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गृह मंत्री अमित शाह का हर कोई आभारी है - भारत ही नहीं पूरी दुनिया में आज का दिन सदियों तक याद रखा जाएगा - जम्मू कश्मीर से धारा 370 के साथ 35 A को हटाने के लिए नरेंद्र मोदी एवं अमित शाह हमेशा याद किए जाएंगे , क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह की जोड़ी ने वह कर दिखाया है जिसका इंतजार देश की जनता वर्षों से कर रही थी परंतु कहीं कोई आशा की किरण नजर नहीं आ रही थी और उस आशा की किरण पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह की जोड़ी ने बहुत साल पहले से ही तैयारी शुरू कर दी थी - जिसके तहत उन्होंने भारत के अधिकांश जिलों में भारतीय जनता पार्टी का परचम फहराया और उसी दम पर दूसरी बार देश की कमान संभाल कर इतना बड़ा कदम उठाकर देश को बहुत बड़ा तोहफा दिया - जाहिर सी बात है कि कुछ स्वार्थी व अलगाववादी लोग इसके खिलाफ होंगे परंतु उन सब की परवाह किए बिना यह जो निर्णय है पूरा भारत इससे खुश है - पूरे भारत में खुशियां मनाई जा रही है - पूरे भारत में ऐसा माहौल है मानो आज देश आजाद हुआ हो हर व्यक्ति के दिल की आवाज थी कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 के साथ 35 A को हटाया जाए और देश के अधिकांश लोगों के इस सपने को पूरा करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं उनकी टीम देशवासियों के दिल में घर का गई - *मोदी है तो मुमकिन है नारा यथार्थ में लगातार बदल रहा है* Sukhbir Singhotra - पत्रकार
  • जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटी घोषित हुआ केंद्र शासित राज्य छत्तीसगढ़ में हाई अलर्ट
    जम्मू कश्मीर को केन्द्र शासित राज्य बनने के बाद रायपुर मे हाई अलर्ट. संवेदनशील मौदहापारा, राजातालाब, बैजनाथपारा, संतोषीनगर, उरला, टिकरापारा समेत मुस्लिम बहुल इलाके मे पुलिस की निगरानी बढी, सादे ड्रेस मे जवानो को घुमने कहा गया.
  • सच करेंगे सुविकसित, सुपोषित और स्वस्थ छत्तीसगढ़ का सपना - भूपेश बघेल : कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में स्त्री-पुरुषों के बीच गैर बराबरी बड़ी बाधा


     

    रायपुर : सच करेंगे सुविकसित, सुपोषित और स्वस्थ छत्तीसगढ़ का सपना - श्री भूपेश बघेल : कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में स्त्री-पुरुषों के बीच गैर बराबरी बड़ी बाधा

     

    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने आउटलुक पत्रिका की पोषण संगोष्ठी में कुपोषण के चक्र को समन्वित प्रयास से लक्षित करने पर दिया जोर

        रायपुर 3 अगस्त 2019

    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि उनकी सरकार छत्तीसगढ़ को कुपोषण के चक्र से मुक्त कराकर सुविकसित, सुपोषित और स्वस्थ राज्य बनाने का सपना सच करने के लिये कटिबद्ध है। श्री बघेल आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आउटलुक पत्रिका द्वारा आयोजित कुपोषण संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में स्त्री-पुरुषों के बीच की गैर बराबरी एक बड़ी बाधा है। पोषण आहार के मामले में इस गैरबराबरी को भी दूर करना होगा। संगोष्ठी में बस्तर के सांसद श्री दीपक बैज और राज्य सभा सदस्य श्रीमती छाया वर्मा भी उपस्थित थीं।

     

     मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें प्रसन्नता है कि जाति-धर्म जैसे समाज को बांटने वाले मुद्दों के बजाय हम सुपोषण पर चर्चा करने के लिये इकट्ठा हुए हैं। उन्होंने कहा कि आज हमें चांद से ज्यादा जरुरत अपनी धरती पर ही जीवन खोजने की है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ और देश में कुपोषण की स्थिति चिंताजनक है और हमने पिछले छह महीने में न्यूट्रीशन गैप को समाप्त करने के लिये कई कदम उठाये हैं । उन्होंने कहा कि हमारी महत्वाकांक्षी नरवा, गुरवा, घुरवा, बाड़ी योजना में बाड़ी अर्थात किचन गार्डन की बात इसीलिए की है ताकि लोगों को उनके घर में ही पौष्टिक भोजन मिले और कुपोषण को दूर करने का इंतजाम घर में ही हो सके। हमने हरेली के परंपरागत त्यौहार को सार्वजनिक अवकाश देकर उसे स्थानीय व्यंजनों से जोड़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान बाजार के अभाव में फल सब्जियों की खेती न छोड़ दंे, इसलिए हमने हर ब्लाक में फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की भी योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि हम छत्तीसगढ़ में यूनिवर्सल स्वास्थ्य योजना लागू करने की दिशा में भी कार्य कर रहे हैं। किसानों को हमने कर्ज से मुक्त किया और उन्हें उपज का सही दाम भी दिया जिससे वे अपने परिवार के लिये पौष्टिक भोजन का भी इंतजाम कर सकें और उनकी आर्थिक सेहत भी सुधरे। हमने डीएमएफ को गैरजरूरी निर्माण के बजाय शिक्षा और सुपोषण से जोड़ा ।
        मुख्यमंत्री ने बताया कि मिड डे मील में अंडा एक बड़ी जरूरत हैं, अंडे की पौष्टिकता निर्विवाद हैं, हमने इसे छत्तीसगढ़ में प्रारंभ किया और जनता का भरपूर साथ मिला। हमने उन बच्चों के लिये भी वैकल्पिक इंतजाम किये जो अंडा नहीं खाते हैं ।
        श्री बघेल ने कहा कि कुपोषण के खिलाफ लड़ाई के कई आयाम हैं, अगर गैरबराबरी चुनौती हैं तो गरीबी, पौष्टिकता के ज्ञान  और राजनीतिक इरादों का अभाव भी बड़ी चुनौती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में हम कुपोषण के खिलाफ लड़ाई को अगले चरण में ले जा रहे हैं। हमारा लक्ष्य है कि हम भूख पर विजय पाएं और सुपोषित छत्तीसगढ़ का निर्माण करें और मुझे पूरा विश्वास है कि हम अपना लक्ष्य हासिल करेंगे। विज्ञान भवन में आयोजित इस संगोष्ठी में पोषण के क्षेत्र में कार्य करने वाली अनेक अंतराष्ट्रीय और राष्ट्रीय संस्थाओं के विशेषज्ञ उपस्थित थे ।

     
  • मोटर परिवहन कानून का पालन भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा
    नया मोटर वाहन अधिनियम विधायक 2019 - 1 अगस्त 2019 को राज्यसभा में पारित हुआ है - जिसके अनुसार सड़क सुरक्षा, वाहनों की दुरुस्ती, वाहनों को वापस बुलाना, सड़क सुरक्षा बोर्ड, दुर्घटना में मदद करने वाले लोगों को संरक्षण, दुर्घटना के बाद नाजुक समय के दौरान नजदीक उपचार, थर्ड पार्टी बीमा, मोटर वाहन दुर्घटना निधि, ई सुशासन के द्वारा सेवाओं में सुधार, ऑनलाइन वाहन लाइसेंस का प्रावधान, वाहनों के पंजीकरण की प्रक्रिया, चालक प्रशिक्षण, परिवहन प्रणाली में सुधार, टैक्सी संचालक, ड्राइविंग लाइसेंस में सुधार, वाहन पंजीकरण की प्रक्रिया में सुधार, परिवहन प्रणाली में सुधार, जैसे मुद्दों पर अब नया कानून परिवहन विभाग लागू करेगा - मोटर वाहन अधिनियम में समय के साथ सुधार किए गए हैं, परंतु जो पुराने नियम हैं उन पर ही परिवहन विभाग आज तक सख्ती नहीं बरत सका - अर्थात मोटर परिवहन कानून का पालन भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ता रहा है - कानून बना देना ही इतिश्री नहीं होता, उस कानून का पालन नियमानुसार हो इसकी जिम्मेदारी मैदानी अधिकारियों की होती है - अब वे अपनी जिम्मेदारियों को किस तरह पूरी करते हैं इसके उदाहरण हम आपको चित्रों एवं वीडियो के माध्यम से समय-समय पर दिखाते रहेंगे - *इस कड़ी की शुरुआत हम वाहनों की नंबर प्लेट से करते हैं - देखिए इस कार का नंबर - क्या आपको समझ आ रहा है ? - क्या आप बता सकते हैं कि इस कार का नंबर क्या है ? -* जब ऐसे वाहन सड़कों पर फर्राटे भरते घूमेंगे और कोई घटना दुर्घटना या आवश्यक कार्य हो तो कैसे परिवहन विभाग, पुलिस विभाग, यातायात विभाग इन्हें ढूंढ पाएगा - इस नंबर को अगर आप पढ़ सकते हैं तो हमारे facebook ID https://www.facebook.com/cg24news/ पर शेयर करें -
  • आदर्श गोठान अमोरा को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ट्वीटर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर साधा निशाना...

    रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 17 जून को आदर्श गोठान की शुरूआत अमोरा से किया था। जहां पिछले कुछ दिनों से ताला जड़ा हुआ है। जिसको लेकर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपनेट्वीटर पर  प्रदेश के कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि तुम्हारी फाइलों में गांव का मौसम गुलाबी है, मगर ये आंकड़े झूठे हैं ये दावा किताबी है। उन्होंने आगे लिखा है कि सीएम भूपेश बघेल जी, जो गोठान आपकी फाइलों में आदर्श दर्जा प्राप्त हैं उनकी जमीनी हकीकत से शायद आप अनभिज्ञ हैं। चारा-चरवाहों के आभाव में ताले जड़े गोठान देखकर दनता आपसे जवाब मांग रही है। यह लिखते हुए डॉ. रमन सिंह अपने ट्वीटर पर आज प्रकाशित एक अखबार की प्रति भी पोस्ट किया है।

     

    तुम्हारी फाइलों में गाँव का मौसम गुलाबी है, मगर ये आंकड़े झूठे हैं ये दावा किताबी है। CM जी, जो गोठान आपकी फाइलों में आदर्श दर्जा प्राप्त हैं उनकी ज़मीनी हक़ीक़त से शायद आप अनभिज्ञ हैं। चारा-चरवाहों के आभाव में ताले जड़े गोठान देखकर जनता आपसे जवाब माँग रही है।

  • ‘रेमन मैग्सेसे अवार्ड‘ के लिए रवीश कुमार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी बधाई - CG 24 News

    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एशिया के नोबेल कहे जाने वाले प्रतिष्ठित मैग्सेसे अवार्ड के लिए चुने जाने पर देश के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को टेलीफोन कर उन्हें बधाई दी है। मुख्यमंत्री बघेल ने अपने बधाई संदेश में कहा है कि मुश्किल वक्त में पत्रकारिता के मूल्यों को जिंदा रख, पक्ष-विपक्ष दोनों से सवाल करना, लोगों की आवाज बुलंद करना आपकी पहचान है। आशा है कि आने वाले समय में आपकी पत्रकारिता समूचे कालखंड के लिए उदाहरण बनेगी।

     रेमन मैगसेसे पुरस्कार एक वार्षिक पुरस्कार है, जो फिलीपीन के पूर्व राष्ट्रपति रेमन मैग्सेसे के शासन में ईमानदारी, लोगों के लिए साहसी सेवा और लोकतांत्रिक समाज के भीतर व्यावहारिक आदर्शवाद को बनाए रखने के लिए स्थापित किया गया है। २०१९ का यह पुरस्कार इस बार भारत के रविश कुमार को मिला है । CG 24 News 

  • मजदूर-किसानों के घर खुशी देख भाजपा के पेट में हो रहा दर्द : शैलेश नितिन त्रिवेदी

    रायपुर। पूरे प्रदेश में हंसी-खुशी व उल्लास के वातावरण में हरेली त्यौहार मनाया गया। इससे भाजपा और उसके सहयोगियों के पेट में दर्द शुरू हो गया है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 15 वर्षों में भाजपा सरकार ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति, छत्तीसगढ़ के तीज-त्यौहार को देश में पहचान दिलाने के लिए कुछ भी नहीं किया। छत्तीसगढ़ राज्य गठन के बाद पहली बार हरेली, तीजा, विश्व आदिवासी दिवस, मां कर्मा जयंती और छठ में कांग्रेस  सरकार ने छुट्टी घोषित की है। शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि लगातार छत्तीसगढ़ की पहचान, छत्तीसगढ़ का आत्म गौरव और छत्तीसगढ़ के स्वाभिमान के लिए कांग्रेस की सरकार भूपेश बघेल की सरकार काम कर रही है तो भाजपा के नेताओं के पेट में दर्द क्यों हो रहा है? हरेली पर छुट्टी और छत्तीसगढ़ के परंपरागत तीज त्योहारों की छुट्टी की वजह से प्रदेश के किसान, मजदूरों के घर में खुशी का वातावरण है जिसे भाजपा पचा नहीं पा रही है।