Top Story
  • पुलवामा आतंकी हमला: आज जम्मू-कश्मीर की विशेष कोर्ट में चार्जशीट दायर करेगी NIA, 40 जवान हुए थे शहीद

    एनआईए की तरफ से दाखिल होने वाली चार्ज शीट में हमले की पूरी साजिश का खुलासा भी होगा.

    ये भी खुलासा किया जाएगा कि आतंकियों की पाकिस्तान में बैठे हैंडलरों से किस तरह से बातचीत होती थी.

    श्रीनगर: पिछले साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (NIA) आज जम्मू-कश्मीर की विशेष कोर्ट में दोपहर दो बजे के बाद चार्जशीट दायर करेगी. ये चार्जशीट करीब पांच हजार पन्नों की होगी. इस हमले में सीआरपीएफ के चालीस जवान शहीद हुए थे. वहीं, कई जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

     

    चार्ज शीट में होगा पूरी साजिश का खुलासा 

     

    जम्मू की विशेष अदालत के सामने जो चार्ज शीट दाखिल की जाएगी, उसमें आतंकियों समेत लगभग 19 आरोपियों के नाम होंगे. एनआईए की तरफ से दाखिल होने वाली चार्ज शीट में हमले की पूरी साजिश का खुलासा भी होगा. इतना ही नहीं ये भी खुलासा किया जाएगा कि आतंकियों की पाकिस्तान में बैठे हैंडलरों से किस तरह से बातचीत होती थी.

     

    2019 में हुआ था पुलवामा हमला

     

    पिछले साल 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर विस्फोटकों से भरी गाड़ी के जरिए आतंकी हमला किया गया था और इस हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे. जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने आईईडी से भरी कार को सेना के काफिले से भिड़ा दिया था. आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के असली साजिशकर्ता अभी भी पाकिस्तान में मौजूद हैं.

  • भूपेश बघेल की जमीन बारिश में नपवाने वाले डॉ रमन अपनो पर लगे आरोप तो खामोश हो गये
    भूपेश बघेल की जमीन बारिश में नपवाने वाले डॉ रमन अपनो पर लगे आरोप तो खामोश हो गये मंत्री मो अकबर के जवाब के बाद पूरी भाजपा को सांप सूंघ गया है कुशाभाऊ ठाकरे परिसर और कवर्धा स्थित पैतृक मकान पर सरकारी जमीन कब्जे पर क्या कहेंगे डॉ रमन प्रदेश भाजपा कार्यालय और कवर्धा निवास के जमीन की नाप करवाये प्रदेश सरकार-विकास तिवारी रायपुर 24 अगस्त 2020। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कवर्धा में होमगार्ड भवन के लिए आरक्षित जमीन पर कांग्रेस भवन के निर्माण-भूमिपूजन के पूर्व सीएम रमन सिंह के आरोपों पर तीखा पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार के मंत्री मोहम्मद अकबर ने पहले तो रमन सिंह के आरोपों को तथ्यहीन और गुमराह करने वाला बताया है और उन्होंने डॉ रमन सिंह से ही पूछ लिया कि कवर्धा स्थित मकान से सटी सरकारी जमीन पर किए गए कब्जे पर कुछ क्यों नहीं कहना चाहते। प्राप्त जानकारी के अनुसार डॉ रमन सिंह-परिवार ने मंडी की कुछ जमीन को घेरा हुआ है और इसमें भारी गड़बड़ी का दावा किया जा रहा है। प्रवक्ता विकास में कहा कि अपनो के ऊपर लगे इस गंभीर आरोप पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह क्या जवाब देंगे और अगर उनके परिजनों के द्वारा सरकारी जमीन पर बलात, दबावपूर्वक अतिक्रमण, कब्जा किया गया है तो क्या वह इसके लिए प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर उक्त जमीन को सरकारी अधिग्रहण करने हेतु अनुरोध करेंगे और क्या दोषियों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग करेंगे। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा तत्कालीन प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की जमीन को भरे बारिश में नाप-जोख करवाने वाले पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह अपने परिजनों और अपने पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर लगे सरकारी जमीन कब्जे पर चुप्पी साध ली है और पूरी भाजपा को सांप सूंघ गया है कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि विश्वस्त सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार राजधानी रायपुर के डुमरतराई स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर करीब पांच एकड़ जमीन में फैला हुआ है। इसमें से एक एकड़ जमीन धमतरी के एक दवा कारोबारी की थी। उस समय दवाब पूर्वक एवं नियम विरुद्ध पूर्ववर्ती रमन सरकार ने दवा कारोबारी को उसके जमीन के बदले में एक एकड़ से अधिक सरकारी जमीन आबंटित कर दी। हाउसिंग बोर्ड की जमीन को भी भाजपा दफ्तर तक जाने के लिए ले लिया गया। 15 सालों में भाजपा के आला नेता और पदाधिकारी सरकारी जमीनों पर बलात बलपूर्वक कब्जा करके उसे व्यवसायिक एवं भाजपा कार्यालय तक के लिए उपयोग किए हुए हैं भाजपा के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर पर उक्त सरकारी जमीन पर कब्जा कर निर्माण की बात बेहद गंभीर और संगीन है इस आरोप के बाद भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में को सांप सूंघ गया है और जवाब देने के लिए बगले झांकने लगे हैं। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने चुनौती पूर्वक पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय से उक्त दोनों सरकारी जमीन पर कब्जे के आरोप पर तत्काल प्रतिक्रिया मांगी है और कहां है कि जिस प्रकार कवर्धा बिलासपुर के कांग्रेस भवन के निर्माण दिवस के दिन झूठा आरोप लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व इन कांग्रेस के इन सवालों का जवाब कब देंगे और अगर उक्त आरोपों का जवाब भारतीय जनता पार्टी नहीं देगी तो हम प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मांग करेंगे कि उक्त आरोपों पर तत्काल एक जांच कमेटी गठित करके प्रदेश भाजपा कार्यालय और डॉ रमन सिंह के कवर्धा स्थित पैतृक मकान की नाप जोख तत्काल करवाएं और अगर उस में सरकारी जमीन को बलात, गुंडागर्दी पूर्वक अधिग्रहित किया गया है तो उसे मुक्त कराकर प्रदेश सरकार अपने अधिग्रहण में लेवे। एवं दोषी व्यक्ति के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की अनुशंसा करें।
  • सुशांत सिंह के घर पहुंची सीबीआई की टीम, क्राइम सीन रिक्रिएट करने का पूरा इंतजाम

    सीबीआई की टीम सात गाड़ियों में दिवंगत अभिनेता के घर के तरफ रुख कर चुकी है. ऐसा बताया जा रहा है उनके साथ कुक नीरज और फ्लैटमेट रहे सिद्धार्थ पिठानी भी मौजूद हैं.इस बीच सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई और बिहार बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह ने कहा कि सीबीआई की जांच सही दिशा में जा रही है और जांच की गति को देखते हुए, हमें उम्मीद है कि आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगासीबीआई की टीम सिद्धार्थ पिठानी, दीपेश और नीरज को साथ लेकर आई है. मौके के वक्त सिद्धार्थ, दीपेश और नीरज वहां मौजूद थे. कल सीबीआई ने नीरज से पूछताछ की थी. फॉरेंसिक टीम भी सीबीआई के साथ में है. चार से पांच घंटे तक पड़ताल चल सकती है.सुशांत सिंह राजपूत के घर सीबीआई की टीम पहुंच गई है. ऐसा बताया जा रहा है कि सुशांत सिंह राजपूत के मौत के सिलसिले में टीम क्राइम सीन को रिक्रिएट कर सकती है, जिसके इंताजाम के लिए सीबीआई की टीम साजो सामान को लेकर पहुंची है.

  • जगदलपुर : राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के माध्यम से सुपोषण युक्त मुगफल्ली, गुड युक्त काजू निर्माण

    बस्तर संभाग में कुपोषण एवं एनीमिया एक बड़ी चुनौती है। बस्तर एक आदिवासी बाहुल क्षेत्र है जहाँ सामाजिक रहन सहन व खानपान की विविधता अशिक्षा व कुपोषण व एनिमिया का मुख्य कारण है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान से क्षेत्र को कुपोषण व एनीमिया से मुक्त कर विकास की ओर अग्रसर होना है।

     

     बस्तर जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा उत्तम रणनीति तैयार कर कुपोषण व एनीमिया से बस्तर से मुक्त कराने हेतु प्रयास किया जा रहा है। कुपोषण मे कमी लाने के लिए समुदाय की सहभागिता और शासकीय प्रयासों के समन्वय से लक्ष्यों को प्राप्त किया जा रहा है। वजन त्यौहार के आंकड़ो के अनुसार बस्तर जिले मे कुपोषण का 25.60 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के अंर्तगत 06 माह से 06 आयु वर्ष के बच्चे ‘‘हरिक नानी बेरा‘‘ (खुशहाल बचपन ) व 15 आयु वर्ष से 49 आयु वर्ष के गंभीर एनीमिक महिलाओं के लिए आमचो लेकी, आमचो माय (हमारी लड़की हमारी माता) आरंभ किया गया था।

         आदिवासी बहुल क्षेत्र बस्तर में कुपोषण व एनीमिया का कारण गर्भवती, शिशुवती माताओं व बच्चों को पर्याप्त पौष्टिक आहार ना मिलना, बच्चों का बिमारी से ग्रस्त होना, साथ ही समाज में पोषण संबंधी जागरूकता का अभाव है। ‘‘गढबो नवा छत्तीसगढ़‘‘ क्रियान्वयन में मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप जनजातीय बहुल क्षेत्रों में बच्चों के कुपोषण स्तर में कमी लाना, 15 से 49 आयु वर्ष की एनीमिया पीड़ित महिलाओं में एनीमिया को कम करना प्राथमिकता में है। लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए बस्तर जिले में ‘‘हरिक नानीबेरा (खुशहाल बचपन)‘‘ अभियान अंतर्गत प्रथम चरण में जिले के 82 सर्वाधिक कुपोषण वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों को चयनित किया गया। द्वितीय चरण में 95 आंगनबाड़ी केन्द्रों को चयनित किया गया। अब इस अभियान का विस्तार करते हुए तृतीय चरण में जिले के 1081 आंगनबाड़ी केन्द्रों के जो कि प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से डीएमएफटी प्रभावित क्षेत्र अंतर्गत आते है, उनमें लागू किया गया था जिसमें 41474 बच्चों लाभान्तिव होंगे, जिसमें अतिरिक्त पूरक पोषण आहार में अण्डा, मुंगफल्ली व गुड़ का लड्डू प्रदाय किया जा रहा है और वर्तमान में 1981 आंगनवाडी केंद्र के 72 हजार लाभार्थियों को 3 दिवस लडडू एवं 3 दिवस अण्डा प्रदाय करने हेतु सप्ताह के सोमवार, बुधवार, शुक्रवार को मूंगफल्ली गुड़ का 25 ग्राम का 01 लड्डू तथा मंगलवार, गुरूवार तथा शनिवार को 01 उबला अण्डा दिया जाने हेतु महिला बाल विकास विभाग के समन्वय के माध्यम से बिहान द्वारा गठित स्व-सहायता समूह को दायित्व दिया गया है।

        मुगफल्ली एवं गुड युक्त लडडू निर्माण हेतु का कलस्टर आधार पर चयन किया गया एवं चयन के पश्चात् लड्डू बनाने हेतु जिला स्तर पर महिला बाल विकास विभाग की ओर से प्रशिक्षण किया गया। सर्वप्रथम प्रथम चरण हेतु समूह 81 केंद्रो के लिए 5 समूह द्वितीय चरण हेतु 1081 केंद्रो हेतु 11 समूह एवं तृतीय चरण हेतु 1981 केंद्रो 24 बिहान महिला स्व-सहायता समूह का चयन कर लडडू बनाने हेतु चिन्हांकित किया गया है।
         आँगनबाड़ी केंद्रो के माध्यम से सुपरवाईजर के द्वारा लड्डू हेतु बच्चों के अनुसार मांग पत्र लड्डू बनाने हेतु प्रस्तुत की जाती है। तद्पश्चात् दिशा निर्देशानुसार प्रति बच्चें को 25 गाम मूंगफल्ली व गुड युक्त लड्डू दिये जाने है, और 1 किलो मे 40 लड्डू मिठाई डिब्बा में प्रदाय किये जाने है, जिसमें मुंगफल्ली  650  ग्राम, गुड 350 ग्राम, ईलायची स्वादानुसार मिक्स कर समूह के माध्यम से लडडू तैयार कर विकासखण्ड के महिला बाल विकास विभाग, सेक्टर, आँगनबाड़ी केंद्र तक सप्लाई की जाती है।

         महिला समूह के द्वारा प्रतिदिवस 10 सदस्यों के माध्यम से 2000 से 2500 लड्डू निर्माण किया जाता है, अब तक 65.37 लाख रूपये तक 12.48 लाख लड्डू वितरण किया जा चुका है। प्रति किलो लड्डू बनाने मे 115 रूपये समस्त व्यय के साथ खर्च होता एवं प्रति किलो वर्तमान दर से 45 रूपये प्रतिकिलो फायदा होता है अर्थात् अब तक 31.50 लाख रूपये समूह को आय हुआ। पूर्व में प्रति नग लड्डू की कीमत 6 रूपये एवं वर्तमान मे 4 रूपये की दर से समूह के खाते मे विभाग के माध्यम से राशि प्राप्त होती है।

         आंगनवाडी केंद्र मे बच्चे एवं महिलाओं को मुंगफल्ली लड्डू देने के लिए मिठाई डिब्बा में ही मांग की गयी थी ताकि लड्डू टूटे ना इसलिए समूह के द्वारा उक्त डिब्बा बाहर से लेना पड़ता था जिसके कारण से दिक्कत होती थी। इसलिए उक्त मिठाई के डिब्बा बनाने हेतु 5 समूह को जिला स्तर पर प्रशिक्षित किया गया और वर्तमान मे समूहों के द्वारा स्वयं मिठाई डिब्बा बनाकर लड्डू प्रदाय करने वाले समूहों को सप्लाई करते है। डिब्बा बनाने मे समूह के माध्यम से एक लाख रूपए की पूंजी लगाया गया, जिसमें 13335 डिब्बा मिलता है। प्रति डिब्बा 10 रूपये की दर से अर्थात् 1 लाख 35 हजार रूपये मे बेचते है, जिससे शुद्ध समूह को 33 हजार रूपये आमदानी हो जाती है।

        जिले में हरिक नानीबेरा, (खुशहाल बचपन) व आमचो लेकी, आमचो माय (हमारी लड़की, हमारी माता) अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए नोडल एजेन्सी पंचायत एवं ग्रामीण विकास है। ग्राम पंचायत स्तर पर सरपंच व पंच की भूमिका महत्वपूर्ण है ग्राम पंचायत स्तर पर समस्त कार्यक्रम की निगरानी व मार्गदर्शन में किया जाता है।स्थानीय एनआरएलएम (बिहान) समुह के द्वारा चयनित आंगबनाड़ी केन्द्र के बच्चों के लिए मुँगफल्ली गुड़ का लड्डु, उबला अण्डा प्रदाय, स्थानीय महिला समूहों की मासिक बैठक आंगबनाड़ी केन्द्रों में किया जा रहा है जिसमें स्वच्छता कुपोषण पोषण आहार इत्यादि पर चर्चा होती है और बिहान समूह के सदस्यों द्वारा बच्चों के माता-पिता को केन्द्र में बुलाने एवं उन्हे परामर्श देने में सहयोग किया जा रहा है

  •  कैबिनेट की बैठक खत्म  जलजीवन मिशन,अंग्रेज़ी मीडियम स्कूल समेत सभी योजनाएं शामिल

    कैबिनेट की बैठक खत्म, भूपेश कैबिनेट की अहम बैठक में आज कई बड़े फैसले हुए

     करीब 4 घंटे चली बैठक में 33 अहम बिंदुओं पर फैसला लिया गया

     राज्य कैबिनेट ने आज विधायकों व पूर्व विधायकों को बड़ी सौगात दी है। *राज्य सरकार ने जहां विधायकों व पूर्व विधायकों का यात्रा कूपन बढ़ा दिया है, तो वहीं पूर्व विधायकों की पेंशन भी बढ़ायी गयी है। पहले विधायकों को 4 लाख और पूर्व विधायकों को 2 लाख रुपये यात्रा कूपन मिलता था, अब ये राशि बढ़ाकर विधायकों के लिए 8 लाख और पूर्व विधायकों के लिए 4 लाख कर दी गयी है। वहीं पूर्व विधायकों के लिए पेंशन भी अब बढ़ा दी गयी है।* अनुपूरक बजट को हरी झंडी- 25 अगस्त से छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र में राज्य सरकार अपना पहला अनुपूरक बजट पेश करेगी। जल जीवन मिशन, तीन मेडिकल कालेज की स्थापना, कोरोना से निपटने, इंग्लिश मीडियम स्कूल, मरवाही-पेंड्रा-गौरेला नये जिले के उत्थान के लिए व राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए राशि का प्रबंध इस अनुपूरक बजट के माध्यम से की जायेगी। वहीं निजी स्कूलों के फीस निर्धारण के लिए विधेयक विधानसभा में लाया जायेगा। मंत्रिमंडलीय उप समिति राज्य सरकार ने बनायी थी, उसके बाद जिला स्तर पर फीस नियंत्रण की कमेटी में भागीदारी को लेकर विधेयक में उल्लेख होगा। शहीद महेंद्र कर्मा स्मृति सामाजिक सुरक्षा योजना को कैबिनेट सं मंजूरी दी गयी। भंडार क्रय नियम में भी आंशिक संशोधन किया गया है, जिसमें स्थानीय यूनिटों को महत्व देने और प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए सहयोग देने का फैसला लिया गया है। अनुसूचित जनजाति प्राधिकरण में पहले मुख्यमंत्री अध्यक्ष हुआ करते थे, लेकिन अब मुख्यमंत्री की तरफ से नामांकित व्यक्ति को अध्यक्ष बनाया जा सकता है। छत्तीसगढ़ी भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री के लिखे पत्र को आज कैबिनेट में अनुमोदित किया गया, साथ ही केंद्र सरकार से *छत्तीसगढ़ी भाषा को अनुसूची में शामिल करने का अनुरोध किया गया।* सरगुजा व बस्तर की तर्ज पर नये जिले गौरेला, पेड्रा, मरवाही में भी तृतीय व चतुर्थ श्रेणी भर्तियों में स्थानीय युवाओं को मौका दिया जायेगा। 16 जनवरी 2006 में ऐर्राबोर राहत शिविर में 32 ग्रामीणों की हत्या मामले में भी बड़ा फैसला लिया गया है। उस वक्त की तत्कालीन सरकार ने सिर्फ 1 लाख रुपये की सहायता राशि दी थी, अब उन्हें 4 लाख की सहायता राशि दी जायेगी। पिछड़ा वर्ग आयोग, अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्क आयोग में पहले एक अध्यक्ष और दो सदस्य की नियुक्ति 3 साल के लिए होती थी, लेकिन अब ये कार्यकाल सरकार के प्रसार प्रर्यन्त जारी रहेगी। वहीं आयोग में अब एक अध्यक्ष, एक उपाध्यक्ष और 6 सदस्यों को नियुक्त किया जायेगा। *राजनीतिक दलों के कार्यालय भवन के लिए एक नीति बनायी गयी।* छत्तीसगढ़ में सरकारी बैंक के पुनर्गठन का निर्णय लिया गया है। 5 बैंक कार्यरत है, बाकी अपेक्स बैक के अंतर्गत है। आज राज्य सरकार ने फैसला लिया है कि महासमुंद, बालौदाबाजार, बालोद , बेमेतरा, जांजगीर और सरगुजा में नये कॉपरेटिव बैंक खुलेंगे। रिजर्व बैंक को राज्य सरकार अपना प्रस्ताव जल्द भेजेगी। प्राथमिक सहकारी बैंकों में अधिकार के बंटवारे को लेकर विधेयक को मंजूरी दी गयी है। *लोक सेवा गारंटी में संशोधन किया गया,अब उसमें आवेदन प्राप्ति की तारीख का उल्लेख होगा* बस्तर विश्विदियालय को संशोधन विधेयक को मंत्रिमंडल में अनुमोदन किया गया। अरपा बेसिन विकास प्राधिकरण को मंजूरी दी, अरपा विकास प्राधिकरण को अब अरपा बेसिन विकास प्राधिकरण से जाना जायेगा, ये जल संसाधन विभाग से जुड़ेगा। भाड़ा नियंत्रण अभिकरण में अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर संशोधन किया गया है। विभिन्न विभागों के अनुपयोगी जमीन को डेवलेप करने के लिए रोड विकास निगम, हाउसिंग बोर्ड से कराने का निर्णय लिया गया है। 1500 करोड़ राजीव गांधी न्याय योजना, 450 करोड़ गोधन न्याय योजना के साथ 232 करोड़ तेंदूपत्ता संग्राहकों को स्थानांतरित किया गया, सभी 22 जिला कमिटी के कांग्रेस भवन राजीव भवन के नाम से ही जाने जाएंगे 25 अगस्त के विधानसभा सत्र में बजट का अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा,जलजीवन मिशन,अंग्रेज़ी मीडियम स्कूल समेत सभी योजनाएं शामिल रहेंगी विधानसभा के सदस्य का यात्रा भत्ता बढाकर 8 लाख और पूर्व सदस्य का 4 लाख किया गया जीएसटी जब लागू किया गया था तब केंद्र राज्यों को जीएसटी क्षतिपूर्ति देगि काहा गया था लेकिन क्षतिपूर्ति नहीं दिया गया, मार्च से आज तक जीएसटी का हिस्सा नहीं दिया है नए जिले GPM को भी 3 और चतुर्थ वर्ग की भर्ती में स्थानीय को प्राथमिकता दी जाएगी एर्राबोर हत्याकांड में प्रत्येक प्रभावित परिवार को 4 लाख की सहायता राशि दी जाएगी महासमुंद,बालोद,बलौदा बाज़ार,बेमेतरा,जांजगीर सरगुजा समेत 6 जगहो पर नए सहकारी बैंक की स्थापना का प्रावधान किया गया है, आरबीआई को प्रस्ताव भेजा जाएगा बस्तर विश्वविद्यालय अब शहीद महेंद्र कर्मा के नाम से जाना जाएगा

  • बस महासंघ की मांगों पर हो सकती हैं चर्चा - भूपेश कैबिनेट की बैठक शुरु
    भूपेश कैबिनेट की बैठक शुरु, मानसून सत्र के विधेयकों को मिलेगी मंजूरी, खाद बीज की उपलब्धता, बारिश से नुकसान और मुआवजे पर होगी चर्चा, बस महासंघ की मांगों पर हो सकती हैं चर्चा, कोरोना के रोकथाम और उपायों पर होगी मंथन, सीएम भूपेश बघेल की अध्यक्षता में सीएम हाउस में हो रही है बैठक
  • आंध्र प्रदेश: ट्रेजरी विभाग का ऑफिसर निकला धन कुबेर, ड्राइवर के घर छुपा रखी थी अकूत संपत्ति

    ट्रेजरी विभाग के ऑफिसर पर आरोप है कि उसने ये सारी चल संपत्ति अपने ड्राइवर के ससुर के घर में छिपा कर रखी थी. पुलिस ने हथियार और गोला-बारूद छिपाकर रखे जाने की सूचना पर छापेमारी की थी पर खजाना हाथ लग गया.

    हैदराबाद: आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां ट्रेजरी ऑफिसर के ड्राइवर के घर से अकूत संपत्ति मिली है. पुलिस ने छापेमारी के दौरान कैश, सोने-चांदी के गहने, एक 9 एमएम पिस्टल, लग्जरी गाड़ियां, हार्लेडेविडसन मोटरसाइकिल सहित तमाम लग्जरी वाहन बरामद किए हैं.

     

    दरअसल ये सारी संपत्ति आंध्र प्रदेश के ट्रेजरी विभाग के एक ऑफिसर की है जो उसने अपने ड्राइवर के रिश्तेदार बालाप्पा के घर पर छिपाई थी.पुलिस का कहना है कि ट्रेजरी विभाग के अधिकारी ने यह संपत्ति अवैध तरीके से इकट्ठा की है. अधिकारी पर बिल पास करने के लिए घूस लेने का आरोप है.

     

    पुलिस ने बताया कि ये छापेमारी हथियार और गोला-बारूद छिपाकर रखे जाने की सूचना पर की गई थी. पुलिस ने छापेमारी के दौरान 49 लाख रुपये के फिक्स डिपॉजिट सहित 84 किलो चांदी, 2.4 किलो सोना, 15 लाख रुपये कैश, 27 लाख रुपये के बॉन्ड ,एक हार्ले डेविडसन बाइक, कई अन्य लग्जरी गाड़ियां, तीन पिस्टल. एयरगन और एक घोड़ा सीज किया है.

     

    इस मामले अभी तक कोई नामजद केस दर्ज नहीं किया गया है. जानकारी के मुताबिक उसे अनुकंपा के आधार पर 2006 में नौकरी मिली थी. उसके पिता एक पुलिस कॉन्सटेबल थे, जिनकी ड्यूटी के दौरान मृत्यु हो गई थी.

     

    अनंतपुर जिले के पुलिस चीफ सत्य येसुबाबू ने कहा कि इिस मामले के बारे में राज्य के पुलिस चीफ गौतम सवांग को जानकारी दी जाएगी, जो बाद में इस मामले को एंटी-करप्शन ब्यूरो को सौंपेंगे.

  • घर की छत पर ही बना दिया ‘मेड इन इंडिया’ विमान, अब मदद के लिए आगे आई महाराष्ट्र सरकार

    कैप्टन अमोल यादव ने दावा किया था कि उनके विमान ने पहले चरण की प्रायोगिक उड़ान सफलतापूर्वक पूरी कर ली है. यादव ने कांदिवली में अपने घर की छत पर यह विमान विकसित किया है.

    महाराष्ट्र सरकार घर की छत पर पूरी तरह ‘भारत में निर्मित’ विमान बनाने में लगे कैप्टन अमोल यादव को हर संभव मदद मुहैया कराएगी. राज्य के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने मंगलवार को यह बात कही.

     

    यादव ने पिछले हफ्ते दावा किया था कि उनके विमान ने पहले चरण की प्रायोगिक उड़ान सफलतापूर्वक पूरी कर ली है. यादव ने कांदिवली में अपने घर की छत पर यह विमान विकसित किया है. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने पहले चरण की परीक्षण उड़ान के लिए पिछले साल अनुमति दी थी.

     

    यादव इस पर दो दशक से काम कर रहे हैं.पिछले हफ्ते उन्होंने कहा था कि इस विमान को अगले चरण के परीक्षण के लिए 2,000 फुट की ऊंचाई पर उड़ान भरनी होगी. यादव जेट एयरवेज के पूर्व पायलट रह चुके हैं जिसका परिचालन बंद हो चुका है.

     

    परियोजना के लिए जमीन देगी सरकार

     

    आधिकारिक बयान के मुताबिक देसाई ने कहा कि डीजीसीए की अनुमति के बाद उद्योग विभाग यादव की परियोजना को हर तरह का सहयोग प्रदान करेगा. सरकार उन्हें अपनी परियोजना लगाने के लिए जमीन देगी. देसाई ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने खुद यादव के प्रयासों की सराहना की है.

  • सुशांत केस की जांच CBI को सौंपने पर परिवार ने जताई खुशी, बिहार DGP ने कहा- ये न्याय और लोकतंत्र की जीत

    सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को रिया चक्रवर्ती की मुंबई पुलिस को एफआईआर ट्रांसफर करने वाली मांग को खारिज कर दिया और बिहार सरकार और सुशांत के परिवार की सीबीआई जांच की मांग को सही ठहराया और उनके पक्ष में फैसला दिया.

    नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच सीबीआई को सौंपने का आदेश दिया है. इस मामले में आरोपी रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आज फैसला सुनाया. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सुशांत की बहन ने भी प्रतिक्रिया दी और कहा कि आखिर सीबीआई जांच होगी.

     

    सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को रिया चक्रवर्ती की मुंबई पुलिस को एफआईआर ट्रांसफर करने वाली मांग को खारिज कर दिया और बिहार सरकार और सुशांत के परिवार की सीबीआई जांच की मांग को सही ठहराया और उनके पक्ष में फैसला दिया.

     

    सच की ओर पहला कदमः सुशांत की बहन

     

    इस फैसले के बाद सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ट्वीट कर भगवान का शुक्रिया कहा. उन्होंने लिखा, “भगवान आपका शुक्रिया. आपने हमारी प्रार्थना सुन ली. लेकिन ये सिर्फ शुरुआत है. सच की ओर पहला कदम है. सीबीआई पर पूरा भरोसा है.”

  • डीजीपी का स्पंदन कार्यक्रम 19 अगस्त से
    डीजीपी का स्पंदन कार्यक्रम 19 अगस्त से
    वीडियो कॉल करके पुलिस कर्मियों की समस्याओं का समाधान करेंगे
     रिटायर्ड अधिकारियों, कर्मचारियों की भी समस्याओं को सुनने के लिए भी डीजीपी अलग वाट्सएप्प नंबर जारी करें
     
    छत्तीसगढ़ के पुलिस कर्मियों की समस्याओं और उनकी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए करोना काल में प्रदेश के डीजीपी डीएम अवस्थी नई व्यवस्था के तहत स्पंदन कार्यक्रम के माध्यम से वीडियो कॉल करके पुलिस कर्मियों की समस्याओं का समाधान करेंगे और उनके सुझावों को एकत्रित कर उस पर कार्रवाई करने की कोशिश करेंगे -
    उल्लेखनीय है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने डीजीपी डीएम अवस्थी को व्हाट्सएप नंबर जारी कर पुलिस कर्मियों की समस्याओं को सुनने की बात कही थी -
    मुख्यमंत्री की मंशा अनुसार डीजीपी डीएम अवस्थी ने व्हाट्सएप नंबर जारी किया, जिस पर अनेक पुलिसकर्मियों ने व्हाट्सएप के माध्यम से उन्हें अपनी समस्याओं और भावनाओं से अवगत कराया - उसी तारतम्य में डीजीपी डीएम अवस्थी 19 अगस्त से वीडियो कॉल के जरिए प्रत्यक्ष रूप से उनकी बातें सुनेंगे -
    प्रदेश के सुदूर इलाकों में पदस्थ पुलिस कर्मियों को अब पुलिस मुख्यालय आने की जरूरत नहीं पड़ेगी - इस सुविधा के जरिए वरिष्ठ अधिकारी से लेकर सिपाही एवं कार्यालय स्टाफ और सीएसएफ के जवान अपनी बात डीजीपी तक पहुंचा सकते हैं - डीजीपी डीएम अवस्थी द्वारा जारी किया गया व्हाट्सएप नंबर 94791 94990 है|
     
    प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सोच के अनुसार डीजीपी का पुलिसकर्मियों और अधिकारियों से स्पंदन कार्यक्रम द्वारा सीधा संवाद करना सराहनीय कदम माना जा सकता है - इससे निश्चय ही समय और रुपयों की बर्बादी पर रोक लगेगी साथ ही जरूरतमंद पुलिस अधिकारी, कर्मचारी समय-समय पर डीजीपी से विभागीय समस्याओं के साथ साथ पारिवारिक परेशानियों के बारे में भी चर्चा कर सकते हैं |
     
     डीजीपी डीएम अवस्थी के स्पंदन कार्यक्रम का रिटायर्ड पुलिस अधिकारियों ने भी स्वागत किया है - उनका मानना है कि प्रदेश के पुलिस अधिकारियों के साथ साथ रिटायर्ड अधिकारियों, कर्मचारियों की भी समस्याओं को सुनने के लिए डीजीपी अलग वाट्सएप्प नंबर जारी करें ताकि वह भी रिटायर होने के बाद अपनी विभागीय एवं पारिवारिक सामाजिक समस्याओं का निराकरण करवाने के लिए डीजीपी से चर्चा कर सकें और उन्हें अपनी भावनाओं से अवगत करा सकें -
    अब देखने वाली बात यह है कि डीजीपी डीएम अवस्थी इन रिटायर्ड पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों जवानों की समस्याओं को सुनने के लिए क्या समाधान निकालते हैं |
  • शिवराज सरकार का ऐलान- MP सरकार में नौकरियां सिर्फ एमपी के लोगों के लिए ही होंगी

    मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है कि राज्य की सरकारी नौकरी सिर्फ स्थानीय बच्चों को ही दी जाएगी, इसके लिए राज्य सरकार आवश्यक कदम उठाने वाली है.

    भोपाल: मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने घोषणा की है कि एमपी सरकार में नौकरियां केवल एमपी के लोगों के लिए ही होंगी. इसके लिए राज्य सरकार आवश्यक कदम उठाने वाली है.

     

    उन्होंने कहा, "एमपी सरकार ने आज एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है. मध्य प्रदेश की शासकीय नौकरियां अब केवल राज्य के युवाओं को दी जाएंगी इसके लिए हम आवश्यक कानूनी प्रावधान कर रहे हैं. मध्य प्रदेश के संसाधन मध्य प्रदेश के बच्चों के लिए होंगे. इसके लिए हम आवश्यक कानूनी प्रावधान कर रहे हैं."

  • भारी पड़ गई निगम की सामान्य सभा अनेक लोग हो रहे करोना पॉजिटिव
    सामान्य सभा कहीं निगम को भारी न पड़ जाए एक के बाद एक निगम अधिकारी की रिपोर्ट पॉजिटिव बिलासपुर- एक के बाद एक कोरोना पॉजिटिव निकल रहे बिलासपुर से पहले आयुक्त की रिपोर्ट पॉजिटिव आई उसके बाद सभापति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई और आज बिलासपुर महापौर की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है । 13 अगस्त समान्य सभा की बैठक के बाद पहले निगम सभापति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई उसके बाद अब मेयर राम शरण यादव भी कोविड संक्रमित पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के करीबी का भी रिपोर्ट पाजीटिव पाया गया है। खबर के बाद शहर और दोनों दलों में हलचल मच गयी है। बहरहाल निगम प्रशासन भी सकते में है। बताते चलें कि सभापति के पाजीटिव पाए जाने के बाद एक दिन पहले ही टाउन हाल में सामान्य सभा में शामिल लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया था। सभापति शेख नजरूद्दीन के बाद मेयर रामशरण यादव का भी टेस्ट पाजीटिव पाया गया है। रिपोर्ट आने के बाद से सामान्य सभा में शामिल सभी पार्षदों और अधिकारियों के बीच खलबली मच गयी है। आज रिपोर्ट में मेयर रामशरण यादव का भी रीपोर्ट पाजीटिव मिला है। बताते चलें कि आज एक अन्य रिपोर्ट में वरिष्ठ भाजपा नेता के करीबी में भी कोरोना का टेस्ट पाजीटिव मिला है। भाजपा के करीबी के पाजीटिव रिपोर्ट के बाद भाजपा खेमें में भी हलचल है। सभी लोग अब खुद को आइसोलेट करना शुरू कर दिया है। मन्नू मानिकपुरी संवाददाता बिलासपुर