State News
  • गरियाबंद-गौठान में रोजगार का सृजन होने से समूह की महिलाएं आर्थिक रूप से बन रही हैं मजबूत: कलेक्टर प्रभात मलिक
    कलेक्टर ने किया बेहराभाठा गौठान का निरीक्षण गरियाबंद  कलेक्टर प्रभात मलिक ने विगत  जिले के विकासखण्ड छुरा के ग्राम बेहराभाठा में शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा घुरवा, बाड़ी के तहत निर्मित गौठान का निरीक्षण किया। उन्होंने गौठान से जुड़ी रामजानकी स्व-सहायता समूह की दीदीयों से रूबरू चर्चा कर उनके गतिविधियों की जानकारी ली। उक्त समूह के दीदीयों ने कलेक्टर को अवगत कराया कि समूह के माध्यम से वर्मी कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट प्लस, मछली पालन, सब्जी उत्पादन, मुर्गी पालन, सुअर पालन, बकरी पालन से संबंधित आजीविका किया जा रहा है। गतिविधि में लगने वाले शुरूवाती लागत एवं अर्जित आय के संबंध में जानकारी देते हुए समूह की दीदीयों ने समूह को वर्मी कम्पोस्ट से शुद्ध आय 45 हजार रूपये, सब्जी बाड़ी से शुद्ध आय 55 हजार रूपये, मछली पालन से शुद्ध आय 20 हजार रूपये होने की जानकारी दिये। कलेक्टर ने समूह की दीदीयों का उत्साहवर्धन करते हुए गौठान में निर्मित मुर्गी शेड में मशरूम उत्पादन करने की समझाईश दी। स्व सहयाता समूह के दीदीयों ने समूह के लिए भवन व सब्जियों के सिंचाई के लिए ड्रीप सिस्टम की ओर कलेक्टर का ध्यान आकृष्ट किया। कलेक्टर श्री मलिक ने समूह की गतिविधियों की सराहना करते हुए उन्हें शासन की अन्य योजनाओं से भी लाभ दिलाने का भरोसा दिलाया। निरीक्षण के दौरान अनुविभागीय अधिकारी (रा.) श्री अविनाश भोई, मुख्य कार्यपालन अधिकारी आर. के. ध्रुव, मत्स्य निरीक्षक, उद्यानिकी विभाग के अधिकारी, कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा, बी.पी.एम. एन.आर.एल.एम. सरपंच, पंच सहित विभिन्न स्व-सहायता समूह के दीदीयां उपस्थित थी
  • ग्रामीण डाक सेवक भर्ती : 4 अभ्यर्थीयों ने दिया फर्जी सर्टिफिकेट, एफआईआर दर्ज
    रायगढ़। अधीक्षक डाकघर रायगढ द्वारा थाना सिटी कोतवाली रायगढ में ग्रामीण डाक सेवक पदों पर भर्ती के लिये अभ्यार्थी स्वाती कवंर निवासी चिरमिरी द्वारा फर्जी अंकसूची के जरिये नियुक्ति प्राप्त करने के संबंध में आवेदन दिया गया। कोतवाली थाने में उक्त आवेदन पत्र की जांच पर अभ्यार्थी स्वाती कवंर के अलावा 3 अन्य अभ्यार्थीयों द्वारा भी फर्जी सर्टिफिकेट के जरिये नियुक्ति पाये जाने पर चारों अभ्यार्थीयों पर धोखाधड़ी का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। डाकघर से प्राप्त आवेदन अनुसार अभ्यार्थी स्वाती कवर आत्मज विरेन्द्र कुमार पो खम्हानिया थाना सीपत शाखा डाकपाल चिरमी (चिरमिरी) ऑनलाइन अपलोड अंकसूची के प्राप्तांक के आधार पर चयन हुआ, जिसके दस्तावेज सत्यापन की कार्यवाही हेतु चयनित अभ्यार्थी को अधीक्षक डाकघर रायगढ़ कार्यालय में उपस्थित होने हेतु इंटीमेशन लेटर जारी किया गया। चयनित अभ्यार्थी द्वारा प्रस्तुत दस्तावेजों (अंकसूची) के भौतिक सत्यापन उपरांत अंकसूची को संबंधित बोर्ड छ.ग. राज्य ओपन स्कूल रायपुर से सत्यापित के लिये पत्राचार किया गया जिसके जवाब में पंजीयक छ.ग. राज्य ओपन स्कूल रायपुर से प्राप्त पत्रानुसार सत्यापन हेतु भेजी गयी अंकसूची उनके कार्यालय द्वारा जारी नहीं की गयी है। अधीक्षक डाकघर रायगढ़ के पत्र अनुसार ग्रामीण डाक सेवकों की नियुक्ति 10वीं के आधार पर होती है, अभ्यार्थी द्वारा फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत किया गया है। आवेदन जांच पर आरोपीगण स्वाती कवंर पिता बिरेन्द्र कुमार साकिन खमहरिया थाना सीपत जिला बिलासपुर। भोजराम सिदार पिता राधेलाल सिदार ग्राम साजापाली थाना खरसिया चौकी जोबी रायगढ़। केश्वर पिता मनहरण सिंह ग्राम बड़पारा करगढी पोड़ी दलहा जांजगीर चांपा। कृष्ण कुमार पिता शिवलोचन साकिन गौटिया पारा बम्हनपुरी जिला बलौदाबाजार। इन सभी पर धोखाधड़ी का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।
  • जगन्नाथपुरी जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए अच्छी खबर, स्पेशल ट्रेन शुरू
    जगदलपुर। जगन्नाथपुरी में श्रद्धालुओं को अब आसानी से दर्शन करने का लाभ मिलेगा। पुरी में रथ यात्रा दर्शन के लिए वाल्टेयर रेल मंडल ने श्रद्धालुओं के लिए स्पेशल ट्रेन शुरू की है। ये स्पेशल ट्रेन 14 बोगियों के साथ 33 स्टेशनों से होते हुए पुरी पहुंचेगी। यह सेवा श्रद्धालुओं को 30 जून को मिलेगी। पुरी में ट्रेन की स्टॉपेज 7 से 8 घंटे तक रहेगा। स्पेशल ट्रेन के टिकटों की बुकिंग एडवांस में होगी। वहीं खबर मिलते ही लोग आरक्षण पाने पहुंच रहे हैं। मंडल ने ओडिशा के जगन्नाथपुरी में होने वाले भव्य गोंचा फेस्टिवल और रथयात्रा का आकर्षण बस्तर के लोगों को दिखाने विशेष ट्रेन संचालित करने का निर्णय लिया है। यह ट्रेन यहां से 30 जून को रवाना होगी और पहली जुलाई को वापस लौटेगी। 3,500 किलोमीटर लंबी यात्रा करने वाली इस ट्रेन का प्राइमरी मेंटेनेंस विशाखापट्टनम में किया जाएगा। रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 30 जून की दोपहर यह ट्रेन यहां से रवाना होगी। कोटपाड़, जैपुर, कोरापुट, दामनजोड़ी, लक्ष्मीपुर रोड टीकरी, रायगड़ा, पार्वतीपुरम बोबिली, विजयनगरम, श्रीकाकुलम नुआपाड़ा पलासा, सोमपेटा इच्छापुरम, बरहमपुर, छत्रपुर, खालीकोट, बालूगन, कालूपाड़ा घाट, निराकरपुर, हरिपुरग्राम, मोटारी, कनास रोड, दैलंग, जेनापुर रोड बिरपुरुषोत्तमपुर, सखी गोपाल जानकीदेईपुर और मालतीपटपुर से होती हुई एक जुलाई को जगन्नाथपुरी रेलवे स्टेशन दोपहर 12:35 बजे पहुंचेगी। इस ट्रेन के परिचालन की जानकारी लगते ही लोग आरक्षण के लिए रेलवे स्टेशन के बुकिंग काऊंटर तक पहुंचने लगे हैं।
  • रायगढ़ में संगीत एवं नृत्य महाविद्यालय प्रारंभ करने प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश
    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद् की द्वितीय बैठक आयोजित की गई। बैठक में छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद की आगामी कार्ययोजना पर विचार-विमर्श किया गया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ सांस्कृतिक परिषद् को साहित्य अकादमी, कला अकादमी, आदिवासी एवं लोक कला अकादमी, छत्तीसगढ़ फिल्म विकास निगम, छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग और छत्तीसगढ़ सिन्धी अकादमी के 127 आयोजनों के लिए 4 करोड़ 93 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान की गई। मुख्यमंत्री बघेल ने बैठक में चर्चा के दौरान कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम और कार्यशाला राज्य के सभी संभागीय मुख्यालयों में आयोजित की जाएं। लोक कला, संस्कृति पर आधारित कार्यक्रम केवल राजधानी तक ही सीमित न रहें, राज्य के सभी संभागीय मुख्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। लोक संस्कृति के प्रचार-प्रसार के लिए ऐसे आयोजनों का विकेंद्रीकरण किया जाना चाहिए। उन्होंने इंदिरा संगीत एवं कला विश्वविद्यालय खैरागढ़ के अंतर्गत रायगढ़ में भी संगीत एवं नृत्य महाविद्यालय खोलने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने शिल्प कलाओं की चर्चा के दौरान कहा कि लौह और बेल मेटल शिल्प कला की ऐसी उपयोगी कलात्मक वस्तुएं तैयार की जाएं, जिनका घर-घर में उपयोग हो सके। इससे ऐसी वस्तुओं को अच्छा बाजार मिलेगा, व्यवसायिक विस्तार होगा और इन कलाओं में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। संस्कृति परिषद् के सदस्यों ने कार्यक्रमों के आयोजनों के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिए। बैठक में मुख्यमंत्री के सलाहकार और छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद् के सदस्य विनोद वर्मा, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, संस्कृति विभाग के सचिव अंनबलगन पी., संचालक विवेक आचार्य सहित परिषद् के सदस्य भूपेश तिवारी (आदिवासी-लोककला), सुनीता वर्मा (चित्रकला-मूर्तिकला), भूपेन्द्र साहू (नाटक), कालीचरण यादव (नृत्य), वासंती वैष्णव (नृत्य), ईश्वर सिंह दोस्त (साहित्य अकादमी के अध्यक्ष), ललित कुमार (पदुमलाल-पुन्नालाल बख्शी पीठ), रामकुमार तिवारी (श्रीकांत वर्मा पीठ), नवल शुक्ल (आदिवासी एवं लोक कला अकादमी के अध्यक्ष), योगेन्द्र त्रिपाठी (कला अकादमी के अध्यक्ष) उपस्थित थे।
  • ट्रेन की चपेट में आने से तेंदुआ की मौत
    बिलासपुर। बिलासपुर वन मंडल अंतर्गत बेलगहना रेंज में देर रात एक मादा तेंदुआ की मौत हो गई। घटना की जानकारी सुबह मिली। इसके वन महकमे में हड़कंप मच गया। डीएफओ कुमार निशांत ने घटना की पुष्टि की है। उनका कहना है कि घटना खोंगसरा के आगे तुलुफ बीट की है। यहां रेलवे ट्रैक है। जंगल की बीच पटरी होने के कारण अक्सर वन्य प्राणी का मूमेंट रहता है। पटरी पार करते समय एक तेंदुआ की ट्रेन से कटकर दो टुकड़े हो गए और उसकी मौत हो गई है। थोड़ी देर में पोस्टमार्टम होगा। मौके पर वन विकास निगम व वनमंडल के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद। घटना वन विकास निगम के क्षेत्र के अंर्तगत आता है।
  • 50 फीट ऊंची टंकी से कूद गया नाबालिग, मौत
    कांकेर। जिले में एक 15 साल के लड़के ने 50 फीट ऊंची टंकी से कूदकर जान दे दी। वह पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहा था। कहता था कि मर जाऊंगा। आखिरकार उसने ये कदम उठा ही लिया। मामला कोरर थाना क्षेत्र का है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। आवासपारा निवासी विरेंद्र कुमार नुरेटी(15) पिछले कुछ दिनों से बीमार था। वह ज्यादा बात भी नहीं किया करता था। इसके चलते उसके परिजन उसका इलाज झाड़फूंक के जरिए करवा रहे थे। इसके बावजूद उसे आराम नहीं मिला था। इस बीच गुरुवार रात को वह गांव के ही स्कूल के पास बने पानी टंकी में चढ़ गया। इसके बाद उसने वहां से छलांग लगा दी। रात का वक्त था इसलिए लोगों को पता भी नहीं चल सका था। वहीं जब कुछ लोग मौके पर पहुंचे, तब उन्हें इस बारे में जानकारी मिली। फिर विरेंद्र को अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस को भी इस बात की सूचना दी गई थी। पुलिस ने रात होने के कारण उसका पोस्टमॉर्टम नहीं किया था। अब शुक्रवार को शव का पीएम कर परिजनों को सौंपा गया है।
  • राहुल आज हॉस्पिटल से होगा डिस्चार्ज
    बिलासपुर। अपोलो अस्पताल ङझछ भर्ती राहुल की स्थिति अब पूरी तरह से सामान्य हो गई है। शरीर व खून में संक्रमण भी खत्म हो चुका है। शरीर पर लगे चोट भी भर चुके हैं। वहीं अब वह धीरे-धीरे पैदल भी चलने लगा है। राहुल के सारे टेस्ट सामान्य आए हैं। ऐसे में अपोलो प्रबंधन ने उसे आज डिस्चार्ज करने का निर्णय लिया है। अस्पताल से छुट्टी के बाद भी उसकी दवाइयां चलती रहेंगी। साथ उसकी थैरेपी भी जारी रहेगी। राहुल साहू को 105 घंटे तक जिंदगी और मौत से जूझने के बाद 15 जून को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस दौरान उसके शरीर में कई जगहों पर घाव बन चुके थे। जख्म से खून में पहुंची बैक्टीरिया ने उसके शरीर में जबरदस्त हमला किया था। इसकी उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी। डाक्टरों के इलाज राहुल अब पूरी तरह खतरे से बाहर आ चुका है। हालांकि डाक्टरों ने शुक्रवार को ही उसे छुट्टी देने का निर्णय लिया था, लेकिन स्वजन के कहने पर एक दिन और फिजियो थैरेपी और एक्सरसाइज के लिए रखा गया। वहीं आज उसके डिस्चार्ज करने की प्रक्रिया पूरी कर उसे सकुशल घर भेजा जाएगा।
  • बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते है नक्सली, पुलिस ने बरामद किया बैनर-पोस्टर
    राजनांदगांव। मानपुर थाना क्षेत्र में एक बार फिर नक्सलियों ने बैनर-पोस्टर लगाकर दहशत फैला दी है। लंबे समय बाद नक्सलियों की गतिविधि सामने आने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। इस बार नक्सलियों ने मानपुर के राजपरिवार को निशाने पर लिया है। औंधी क्षेत्र के मेन रोड में रोड पर फेंके व पेड़ पर लटकाए पर्चे में नक्सलियों ने मानपुर के राजपरिवार को जन अदालत में सजा देने की बात कही है। नक्सली पर्चा मिलने के बाद मानपुर क्षेत्र में दहशत बढ़ गई है। पुलिस ने इसकी पुष्टी कर पेड़ पर चस्पा किए पर्चा के साथ सड़क पर फेंके पर्चो को बरामद कर लिया है। ठोकर, पकड़े गए सभी मानपुर क्षेत्र में लंबे समय बाद नक्सलियों की गतिविधि सामने आयी है। नक्सलियों ने औंधी रोड में पेड़ पर पर्चा चस्पा किया है। वहीं सड़क पर भी नक्सलियों ने पर्चा फेंका है, जिसमें नक्सलियों ने कोराचा राजा अजम शाह भोजेश शाह को जनविरोधी काम करने को लेकर जन अदालत में सजा देने की बात कही है। वहीं राज परिवार द्वारा आरएसएस संगठन फैलाना बंद करने की बात नक्सलियों ने पर्चे में लिखी है। पर्चे में नक्सलियों ने यह भी लिखा है कि कोराचा राजा की तानाशाही जनता नहीं सहेगी। इसके खिलाफ जरूर कार्रवाई करें।
  • बोरवेल के 60 फीट गहरे गड्ढे में गिरा राहुल अब पूरी तरह स्वस्थ, आज होगा डिस्चार्ज
    बिलासपुर। अपोलो अस्पताल( apollo hospital) में भर्ती राहुल की स्थिति अब पूरी तरह से सामान्य हो गई है। शरीर व खून में संक्रमण भी खत्म हो चुका है। शरीर पर लगे चोट भी भर चुके हैं। वहीं अब वह धीरे-धीरे पैदल भी चलने लगा है। राहुल के सारे टेस्ट( test) सामान्य आए हैं। ऐसे में अपोलो प्रबंधन ने उसे आज डिस्चार्ज( discharged) करने का निर्णय लिया है।राहुल साहू को 105 घंटे तक जिंदगी और मौत से जूझने के बाद 15 जून को अपोलो अस्पताल ( hospital) भर्ती कराया गया था। इस दौरान उसके शरीर में कई जगहों पर घाव बन चुके थे। जख्म से खून में पहुंची बैक्टीरिया ने उसके शरीर में जबरदस्त हमला किया था। इसकी उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी। डाक्टरों (doctor) इलाज राहुल अब पूरी तरह खतरे से बाहर आ चुका है। हालांकि डाक्टरों ने शुक्रवार( friday) को ही उसे छुट्टी देने का निर्णय लिया था, लेकिन स्वजन के कहने पर एक दिन और फिजियो थैरेपी और एक्सरसाइज के लिए रखा गया है। एसपी को सुरक्षा ( safety)व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश शुक्रवार की सुबह 10:30 बजे आइजी रतनलाल डांगी भी राहुल से मिलने अपोलो अस्पताल पहुंचे। उनके साथ उनकी पत्नी भी साथ रहीं। इस दौरान आइजी ने राहुल के बारे में डाक्टरों से सभी जानकारी प्राप्त की। उन्हें बताया गया कि वह अब पूरी तरह से ठीक हो चुका है। वहीं राहुल ( rahul)के डिस्चार्ज होने के बाद बिलासपुर और जांजगीर-चांपा एसपी को सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।
  • खुद की चिता सजाकर महिला आग में कूदी, मौत
    बिलासपुर। कोटा नेवरा में रहने वाली महिला ने घर पीछे पानी की टंकी में लकड़ी, कंडे और अन्य सामान रखकर खुद के लिए चिता सजा ली। महिला इसमें आग लगाकर कूद गई। इससे जलकर महिला की मौत हो गई। शुक्रवार( friday) की सुबह स्वजन को इसकी जानकारी हुई। सूचना पर पुलिस ने शव कब्जे में लेकर सिम्स भेज दिया। जानकारी के मुताबिक कोटा क्षेत्र के नेवरा में रहने वाली संतोषी साहू गृहिणी थीं। चार महीने से उन्हें मानसिक समस्या थी। उन्हें सपने में तरह तरह की आवाजें सुनाई देती है। उनका कहना था कि कोई सपने में आत्महत्या ( suicide)के लिए उकसाता है। इसकी जानकारी होने पर स्वजन अलग-अलग जगहों पर झाड़-फूंक करा रहे थे। गुस्र्वार ( thrusday)की रात महिला घर से निकलकर बाड़ी में गई। वहां जाकर पानी की खाली टंकी में लकड़ी, कंडे डालकर आग लगा दी। कोटा पुलिस मौके पर पहुंची तो केवल कंकाल( skeleton) बचा था स्वजन ने इसकी जानकारी ( information) आस – पास के लोगों को दी। इसके बाद घटना की सूचना कोटा पुलिस को दी गई। कोटा पुलिस मौके पर पहुंची तो केवल कंकाल बचा था। पुलिस ने इसे जब्त कर लिया। कोटा में कंकाल का पोस्टमार्टम नहीं हो पाने के कारण डाक्टरों ने शव सिम्स भेज दिया। यहां फोरेंसिक एक्सपर्ट ने जांच के बाद कंकाल स्वजन को सौंप दिया है।
  • पूर्व मंत्री की जान को खतरा, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से की सुरक्षा की मांग
    पूर्व मंत्री दयालदास ने गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू से सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने जान का खतरा बताते हुए सिक्योरिटी की मांग की है। आपको बता दें कि घर के बाहर दो कारों में तोड़फोड़ की घटना के बाद अज्ञात आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करवाया है। नांदघाट थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।वहीं मामले में पूर्व मंत्री ने सुरक्षा की मांग की है। बता दें ​कि पिछले दिनों अज्ञात बदमाशों ने घर के सामने रखे दो कार में तोड़फोड़ किया था, वहीं घर के अंदर शराब की बोतले भी फेंकी थी। जिसके बाद अब सुरक्षा की मांग पूर्व मंत्री ने की है।अज्ञात ​आरोपियों ने किन कारणों के चलते दयालदास पर हमला किया ये पता नहीं चल पाया है। नांदघाट पुलिस इसकी जांच कर रही है। वहीं अज्ञात आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दिया है।
  • छत्तीसगढ़ विधानसभा ई-प्रश्न एवं ई-उत्तर एप्लीकेशन को मिला प्रतिष्ठित आई.एम. सी. डिजिटल अवार्ड
    रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में संचालित ई-प्रश्न एवं ई-उत्तर एप्लीकेशन को राष्ट्रीय स्तर पर मुंबई में आयोजित समारोह में आई.एम.सी. चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज द्वारा प्रतिष्ठित आई. एम.सी. डिजिटल अवार्ड, 2021 से नवाजा गया है । इस उपलब्धि के लिए डॉक्टर चरण दास महंत, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ विधानसभा ने विधान सभा के समस्त माननीय सदस्यों, कार्यपालिका एवं राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। विधानसभा के समन्वय और निर्देशन में एन. आई.सी. छत्तीसगढ़ द्वारा विकसित ई-प्रश्न एवं ई-उत्तर एप्लीकेशन के माध्यम से माननीय सदस्यों द्वारा प्रश्नों की सूचनाएं ऑनलाइन प्रेषित की जाती हैं एवं संबंधित विभागों द्वारा उक्त सभी प्रश्नों के उत्तर भी ऑनलाइन प्रेषित किए जाते हैं पर्यावरण संरक्षण एवं समय की बचत के उद्देश्यों को लेकर तैयार किया गया ई-प्रश्न एवं ई-उत्तर एप्लीकेशन GO-GREEN की पहल के अनुरुप है। छत्तीसगढ़ विधानसभा के द्वारा किए गए इस अभिनव पहल और प्रयास से प्राप्त परिणाम अत्यंत लाभकारी है। जिसे आई.एम.सी. चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज द्वारा पुरस्कार योग्य पाया गया। मुंबई में आयोजित पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में एन. आई.सी. से सौरभ दुबे साइंटिस्ट-सी, ज्योति शर्मा साइंटिस्ट-बी, विनय श्रीवास सीनियर प्रोग्रामर एवं विधानसभा से सुधीर शर्मा अवर सचिव ने सम्मिलित होकर छत्तीसगढ़ विधान सभा की ओर से पुरस्कार ग्रहण किया।