Top Story
  • डॉ रमन सिंह मुख्यमंत्री की तुलना मुसवा बघवा से करेंगे तो दुर्भाग्य - मंत्री रविंद्र चौबे
    कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का बयान डॉ रमन सिंह को इतनी हल्की बात नहीं करनी चाहिए मुख्यमंत्री की तुलना मुसवा बघावा से करेंगे तो दुर्भाग्य है। शब्दों का दिवालियापन है भारतीय जनता पार्टी के पास शब्दों की मर्यादा उनके पास नहीं है ऐसी मानसिकता का मैं निंदा करता हूं *मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ने पर कहा* डॉ रमन सिंह ने स्वीकार कर लिया कि कोई छत्तीसगढ़ में सक्षम नेतृत्व वाला नेता नहीं है 2023 में आने वाले परिणाम को भी डॉक्टर रमन सिंह देख रहे हैं इसलिए चेहरे पर चुनाव नहीं लड़ रहे हैं *राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हमेशा भारतीय जनता पार्टी के साथ रहा* आरएसएस और बीजेपी के नेता जोड़कर बीजेपी का कैंपेनिंग करते हैं लगातार मोहन भागवत का दौरा जो हो रहा है इसको भी उसी नजरिए से देखना चाहिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में 75 सीटों में जीतकर सरकार बनाएंगे *अलग-अलग विधायकों की ड्यूटी लगाने पर मंत्री ने कहा* अपनी पूरी तैयारी के साथ पार्टी लड़ने के लिए उतरती है खैरागढ़ में भी ड्यूटी लगाया गया था उसी तरीके से यहां भी लगाया गया है कांग्रेस के पक्ष में माहौल है भानुप्रतापपुर में राहुल गांधी को धमकी भरा पत्र वायरल होने पर कहा नफरत के खिलाफ सारे हिंदुस्तान को एक करना है मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के लिए बड़ी चुनौती है राहुल गांधी सारी सुरक्षा का इंतजाम किया जाना चाहिए धमकी भरा पत्र जो वायरल हो रहा है उसका जांच पड़ताल कर कार्यवाही करना चाहिए *विधानसभा के विशेष सत्र पर कहा कि* बीजेपी के पास बोलने के लिए कुछ रखा नहीं न्यायालय में क्या क्या दस्तावेज बीजेपी के द्वारा पेश किए गए सदन में सबके सामने आ जाएगा आरक्षण के लिए सीधे दोषी बीजेपी की वर्तमान सरकार है *कैबिनेट की बैठक पर मंत्री चौबे ने कहा कि* 1 और 2 दिसंबर को होने वाले विशेष सत्र की तैयारियों को लेकर कैबिनेट की बैठक बुलाई जा रही एसटी एससी ओबीसी के आरक्षण को लेकर प्रस्ताव आना है कैबिनेट की मंजूरी के बाद सदन में पेश किया जाता है आवश्यकता होगी तो सप्लीमेंट्री बजट पेश किया जाएगा शासकीय कार्य भी होने की संभावनाएं है। *अनियमित कर्मचारियों के पद यात्रा पर कहा कि* अलग-अलग विभागों से जानकारियां मंगाई गई है अनियमित कर्मचारियों को भी सरकार पर भरोसा हो चला है चीफ सेक्रेटरी के अध्यक्षता में कमेटी बनाई अलग-अलग विभागों से जानकारी मंगाई जा रही है
  • राज्य शासन की पोल का खुलासा : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भूख लगी तो हल्बा आदिवासी किसान के घर भोजन के लिए पहुँचे, सच्चाई क्या है ?
    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का हाल बा आदिवासी किसान के घर भोजन करने का समाचार जनसंपर्क विभाग से जारी हुआ है जिसमें बताया गया है कि भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भूख लगी तो वे एक किसान के घर भोजन करने पहुंच गए जहां आदमी स्वागत के साथ उन्हें भोजन कराया गया | यहां तक तो ठीक है कि मुख्यमंत्री किसी के भी घर भोजन करने जा सकते हैं और जाना भी चाहिए क्योंकि वह प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं इसी बहाने लोगों के दुख दर्द को वह समझ पाएंगे परंतु मुख्यमंत्री के साथ अन्य पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं विधायक दलेश्वर साहू, विधायक खैरागढ़ श्रीमती यशोदा वर्मा, ज़िला सहकारी केंद्रीय बैंक राजनांदगाँव के अध्यक्ष नवाज़ खान, स्थानीय सरपंच श्रीमती द्रौपती साहू, कलेक्टर राजनांदगाँव डोमन सिंह का आदिवासी किसान के घर भोजन करने से हुए जो फोटो जारी की गई है उसमें हर बर्तन एक जैसा और नया नजर आ रहा है जबकि किसी भी परिवार में इस तरह एकदम नए बर्तन नहीं होते और इस तरह सफेद नए कपड़े कपड़ा भी नहीं होता यहां सवाल यह उठता है कि मुख्यमंत्री जी अगर आप तामझाम के साथ दिखावा करने भोजन करने जा रहे तो आप उस परिवार में कोई फंक्शन का बहाना करके अपने जाने की बात करते परंतु अचानक किसी किसान परिवार के यहां मुख्यमंत्री पहुंचे और उस किसान द्वारा इस तरह तामझाम से व्यवस्था करके भोजन कराया जाए यह समझ से परे है यह तो अनपढ़ व्यक्ति भी समझ सकता है कि पूरी तरह प्रायोजित कार्यक्रम है और शासन द्वारा या किसी जनप्रतिनिधि द्वारा करवाया गया है | इस तरह के आयोजनों के बारे में विपक्ष में रहते हुए कांग्रेश स्वयं तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह पर आरोप लगाती रही है फिर वही सब कुछ सत्ता में आने के बाद कांग्रेस के मुख्यमंत्री करें तो जनता के लिए किसी तरह का बदलाव तो नहीं हुआ |

    रायपुर : मुख्यमंत्री ने चौसेला, गुलगुला भजिया के साथ लाखड़ी भाजी और मुनगा का लिया आनंद

    मुख्यमंत्री अर्जुनी में किसान के घर आत्मीय भाव से भोजन के लिए पहुँचे

    रायपुर, 12 नवंबर 2022

    मुख्यमंत्रीमुख्यमंत्री भूपेश बघेल

    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज अपने भेंट-मुलाकात अभियान की कड़ी में राजनांदगाँव ज़िले के डोंगरगाँव विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर हैं। इस दौरान आमजनों से भेंट-मुलाकात के लिए मुख्यमंत्री अर्जुनी पहुँचे। उन्हें दोपहर जब भूख लगी तो आत्मीय भाव से हल्बा आदिवासी किसान दिलीप धनपाल के घर पर भोजन के लिए पहुँचे। जहाँ मुख्यमंत्री और अन्य अतिथियों को किसान परिवार की ओर से सबसे पहले ग्रामीण परम्परा अनुसार हाथ-पैर धुलवाकर परघानी किया गया। फिर तिलक लगाकर सस्नेह भोजन के लिए आमंत्रित किया गया। 

    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

    भोजन में छत्तीसगढ़ी पकवान चौसेला, ढेढरी, खुरमी, गुलगुला भजिया के साथ व्यंजन में लाखड़ी भाजी, टमाटर चटनी, सिलबट्टा पर पिसी चटनी, जिमीकंद, मुनगा, मिक्स वेज (नवल गोल, गोभी, सेम), करेला, रोटी, चावल और दाल परोसा गया। मुख्यमंत्री ने बड़े चाव से ज़मीन पर बैठकर भोजन कर रहे हैं। 

    मुख्यमंत्री के साथ अन्य पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं विधायक दलेश्वर साहू, विधायक खैरागढ़ श्रीमती यशोदा वर्मा, ज़िला सहकारी केंद्रीय बैंक राजनांदगाँव के अध्यक्ष नवाज़ खान, स्थानीय सरपंच श्रीमती द्रौपती साहू, कलेक्टर राजनांदगाँव डोमन सिंह ने भी भोजन किया।

    ग्राम अर्जुनी के हल्बा आदिवासी किसान दिलीप धनपाल के घर अब अगर कोई भी मीडिया जाएगा तो वहां गरीबी का आलम नजर आएगा और जितना तामझाम और बर्तन था सब किराया भंडार वाला ले जा चुका होगा !
  • भोलेनाथ को दिल से मनाओगे तभी होगा आपका का काम पूरा - पंडित प्रदीप मिश्रा
    शिव महापुराण पंडाल में भक्तों के मुख से गुंजा श्री शिवाय नमस्तुभ्यं.. भोलेनाथ को दिल से मनाओगे तभी होगा आपका का काम पूरा... महाराज श्री छत्तीसगढ़िया सब ले बढ़िया का नारा मन से महाराज श्री ने दिया.... भोलेनाथ के दरबार में सभी का कार्य होता है पूरा... महाराज जी शिव महापुराण की कथा सुनने से हमारा जीवन धन्य होगा.. राज्यपाल प्रेस विज्ञप्ति भोलेनाथ को आप दिल से और मन से रिझाओगे तो निश्चित ही भगवान भोलेनाथ आप पर कृपा करेंगे और बड़ी सी बड़ी विपत्ति आपके ऊपर आया हुआ तकलीफ और बड़े से बड़ा कष्ट भी भगवान भोलेनाथ दूर करेंगे।। यह बातें शिव महापुराण कथा के पहले दिन अंतर्राष्ट्रीय कथाकार सीहोर वाले महाराज पंडित प्रदीप मिश्रा ने भक्तों से कही उन्होंने कहा कि शिव भक्ति में बड़ी शक्ति है जो देवों में देव महादेव है जो विश्व पति हैं ऐसे भगवान की पूजा और आराधना करना अपने आप में श्रेष्ठ है।। उन्होंने कहा कि बेलपत्र का पेड़ और शमी का वृक्ष दोनों ही महत्वपूर्ण है हमारे तकलीफों को हरने के लिए इसलिए हो सके तो हर रोज बेल पत्री के वृक्ष पर दीपक जरूर लगाएं वही शमी के वृक्ष का पूजन करें।। छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया का नारा दिया... कथावाचक आचार्य पंडित प्रदीप मिश्रा ने मंच पर ओरिजिनल छत्तीसगढ़ीयो की पहचान बताते हुए उन्होंने कहा कि जो छत्तीसगढ़ की माटी से जुड़ा हुआ है छत्तीसगढ़ को अपना सब कुछ समझता है छत्तीसगढ़ के लिए जो समर्पित है उनके मन में किसी और को तकलीफ पहुंचाने का कोई विचार नहीं आएगा इसलिए कहा गया है कि छत्तीसगढ़ के लोग बड़े ही प्रेम और व्यवहार वाले होते हैं इसलिए उन्हें छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया कहां जाता है क्योंकि उनका दिल और मन पूरी तरह साफ होता है।। महाराज श्री ने आज की कथा में छत्तीसगढ़ में चैंपेश्वर महादेव की उत्पत्ति कैसे हुई उस कथा पर प्रकाश डाला और महाराज श्री ने छत्तीसगढ़ में जन्मे महाप्रभु वल्लभाचार्य जीके जन्म कथा को बताते हुए उनकी मां इल्लमा गारू और पिता लक्ष्मण भट्ट की कथा की शुरुआत की।। कथा की शुरुआत के साथ ही भक्तों के द्वारा श्री शिवाय नमस्तुभ्यं के जयकारे लगाए गए भोलेनाथ के जयकारे लगाए गए इसके साथ ही महाराज जी ने कथा के दौरान कई उपाय भी बताएं।। महाराज श्री ने यह भी बताया कि वह साक्षात शिव है और शिव के दरबार से कोई खाली हाथ नहीं जाता भले थोड़ी देर लगे पर जो कामना मन में है वह जरूर पूरी होती है इस व्यासपीठ से भी महाराष्ट् ने कहा कि जितने भक्त जमीन पर बैठकर जिनको जहां जगह मिली वहां बैठकर सुन रहे हैं वह आज के समय में जो भावना उनके मन में होगी भगवान भोलेनाथ 3 महीने के अंदर उनकी भावनाओं को पूरा करेंगे।। कथा सुनने का रिजल्ट भक्तों को 3 महीने में खुद ही देखने को मिल जाएगा।। आयोजक परिवार को दी बधाई.... कथा की शुरुआत के साथ ही अंतरराष्ट्रीय कथाकार आचार्य पंडित प्रदीप मिश्रा ने आयोजक परिवार चंदन बसंत अग्रवाल को बहुत-बहुत बधाई दी कि उनकी वजह से आज छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की पावन धरा पर यह शिव महापुराण की कथा हो पा रही है और यह कथा लाखों भक्तों के दिल में शिव की भक्ति जगाने वाली है लाखों भक्तों की कामना पूरी करने वाली है इनका पूरा श्रेय जो है आयोजक परिवार के साथ उनकी टीम को जाता है आयोजक परिवार के साथ उनकी टीम जो व्यवस्था में लगे हैं उन सभी को उन्होंने बधाई भी दी।। शिव महापुराण कथा के पहले दिन दही हांडी मैदान में भक्तों की भारी भीड़ लगी रही पूरा मैदान लाखों भक्तों से भरा रहा कथा के दौरान संगीत में शिव गीत से भक्त झूमते गाते नजर आए भक्तों को जहां जगह मिला वहां बैठकर कथा का रसपान किया।। कथा के दौरान प्रमुख रूप से आयोजक परिवार में चंदन बसंत अग्रवाल और उनके परिवार के साथ धरसीवा विधायक अनीता शर्मा संसदीय सचिव विकास उपाध्याय गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री महंत रामसुंदर दास, पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी मदन जैन जी स्वामी, आयोजक मंडल के दीनानाथ शर्मा पूर्व पार्षद, पुष्पेंद्र उपाध्याय महेश शर्मा रतन गोयल ट्रस्टी हनुमान मंदिर ओंकार बैस, के साथ लाखों की संख्या में भक्त जनों की उपस्थिति रही।।
  • शिव महापुराण कथा, छत्तीसगढ़ का पहला सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन -
    छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अतरराष्ट्रीय कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा (सीहोर वाले) द्वारा श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा का भव्य आयोजन दही हांडी मैदान, हनुमान मंदिर, श्रीनगर रोड, गुढ़ियारी, रायपुर में होने जा रहा है | जिसमें छत्तीसगढ़ ही नहीं अपितु देश भर के कोने कोने से लाखों की संख्या में श्रद्धालु शिव भक्तों की एकत्रित होने की सम्भावना है। पं. प्रदीप मिश्रा का 8 नवम्बर 2022 को माना विमानतल पर आगमन पश्चात् भव्य स्वागत सत्कार कर अभिनंदन किया जाएगा। तत्पश्चात संध्या 5 बजे से गुढ़ियारी स्थित भारत माता चौक से भव्य शोभायात्रा निकाली जायेगी जो शुक्रवारी बाजार से गुढ़ियारी पड़ाव होते हुए कथा स्थल में समापन होगा । CG 24 News यह आयोजन रायपुर ही नहीं अपितु पुरे छत्तीसगढ़ के आज तक के धार्मिक आयोजनों में सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन होने जा रहा है। श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा के मुख्य आयोजक श्रीमती माधुरी लख्खीप्रसाद अग्रवाल, श्रीमती अनीता चंदन अग्रवाल, श्रीमती रीतू बसंत अग्रवाल एवं समस्त बेरलिया परिवार, थानखम्हरिया वाले हैं। जिन्होने पुरे तन-मन-धन से हजारों की संख्या में समिति का गठन कर इस कार्य को सम्पादित करने का बीड़ा उठाया है। अतिविशिष्ट अतिथि, बुजुर्गों व महिलाओं के बैठने की समुचित व्यवस्था की गई है। इस आयोजन को सभी जाति, धर्म संगठन, समुदाय का व्यापक समर्थन मिल रहा है। खास कर महिला वर्गों का विशेष रूप से योगदान मिल रहा है। ऐसे अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पं. प्रदीप मिश्रा के द्वारा जो घर घर में पूजा करने की पद्धति व किसी भी प्रकार से गंभीर से गंभीर बीमारियों का भी ईलाज का उपाय बेल पत्र व एक लोटा जल से करने की विधि उनके द्वारा बताई जाती है। हर समस्या का हल एक लोटा जल से कारगर एवं फलीभूत सिद्ध हो रहा है। जिनके सफल प्रयोग से वे भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय व श्रद्धेव व्यक्तित्व के रुप में चहुंओर पूजित है। CG 24 News पं. प्रदीप मिश्रा की कथा का रसपान करने के बाद पुरे देश एवं विदेश के सभी शिवालयों में सुबह से शाम तक शिव भक्तों का मेला सा लगा रहता है। ऐसे अद्भूत धार्मिक आयोजनों से सम्पूर्ण देश एवं विदेश में हिन्दु सनातन धर्म के प्रति लोगों की आस्था और आकर्षण दिन ब दिन बढ़ने लगा है | गुढ़ियारी में होने वाले इस आयोजन के मुख्य यजमान बसंत अग्रवाल एवं उनकी पुरी टीम जो की इस आयोजन के लिए लगातार दो महिने से मैदानी तैयारीयों में लगे हुए हैं। इस आयोजन में नागपुर के कर्मा डेकोरेशन जिनके प्रोपराईटर नरेन्द्र साहू है के द्वारा लगभग 5 लाख वर्ग फीट में विशाल पंडाल एवं 10 हजार वर्ग फीट में कंट्रोल रूम व कार्यालय एवं कथा स्थल में प्रवेश के लिए 18 मुख्य द्वार का निर्माण किया गया है। मंच पर विश्व प्रसिद्ध डोंगरगढ़ स्थित माँ बमलेश्वरी की मंदिर की आकृति का निर्माण किया जा रहा है। तथा पंडाल के बाहरी दिवारों को लोक शिल्प से एवं लोक ग्राम के थीम पर सजाया गया है। आयोजन समिति के द्वारा महिला एवं पुरुषों की अलग अलग समितियों का गठन कर सबको अलग-अलग जिम्मेदारी बांट की गई। बाहर से आने वाले श्रद्धालु भक्तों की हर प्रकार की सुरक्षा एवं सुविधा के लिए डॉक्टरों की टीम के साथ में 50 मेडीकल स्टॉफ व स्वयं सेवकों की पूरी टीम भी लगी हुई है व अलग-अलग जगहों पर जैसे डब्ल्यू. आर. एस. रावण मैदान, 40 एकड़ कोटा विद्यापीठ के सामने एवं अन्य कई छोटे बड़े जगहों पर दो पहिया वाहन एवं चार पहिया वाहन जीप, कार, बस के लिए निःशुल्क पार्किंग व्यवस्था 60-70 एकड़ों में एवं पार्किंग स्थल से कथा स्थल आने व जाने के लिए निःशुल्क ई-रिक्शा (बैटरी चलित वाहन) की व्यवस्था की गई है। पुरे कथा स्थल को सुरक्षा की दृष्टि से सी.सी.टी.वी. कैमरा की निगरानी में रखा गया है। महिला- पुरुष शौचालय, स्नानागार एवं बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की आवास व भोजन की निःशुल्क व्यवस्था मुख्य यजमान बसंत अग्रवाल व आयोजन समिति के द्वारा की गई है। इस सम्पूर्ण आयोजन को भव्यता प्रदान करने के लिए आयोजन में मच्छी तालाब गुढ़ियारी स्थित हनुमान मंदिर का एवं सभी राजनीतिक दल, सभी सामाजिक संगठन, शासन, प्रशासन, रेलवे विभाग, नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग, अग्नि शमन विभाग, विद्युत विभाग व क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, सांसद, मंत्रीगण, विधायक, महापौर एवं स्थानीय पार्षदों का सहयोग व समर्थन मिल रहा है। आयोजन समिति आप सभी श्रद्धालु शिवभक्तों को श्रद्धा पूर्वक सादर आमंत्रित करते हैं इस श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा का श्रवण लाभ लेने व इस ज्ञान गंगा का रसपान कर पुण्य के भागी बन जीवन को सफल बनावें । CG 24 News-Singhotra
  • श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर विशाल नगर कीर्तन शोभायात्रा आज
    *कल तारण गुरु नानक आया* *सुणी पुकार दातार प्रभ, गुरुनानक जग माहि पठाया* 8 नवंबर को सिक्खों के पहले गुरु श्री गुरु नानक देव जी का जन्म दिवस है जिसे प्रकाश पर्व के रूप में पूरी दुनिया में धूमधाम से मनाया जाता है | श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर पूरे भारत में राष्ट्रीय अवकाश रहता है | सिखों के प्रथम गुरु श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर पूरे भारत में नगर कीर्तन शोभायात्रा निकालने की परंपरा रही है | शोभायात्रा नगर कीर्तन सुविधा अनुसार हर शहर में अलग-अलग दिन क्या जाता है | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में श्री गुरुनानक देव जी के प्रकाश पर्व के अवसर पर 5 नवंबर को दोपहर 3:00 से गुरुद्वारा स्टेशन रोड रायपुर से विशाल नगर कीर्तन फूलों से सुसज्जित भव्य पालकी में श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की सवारी को पंज प्यारों की अगुवाई में निकाला जाएगा | श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर आयोजित विशाल नगर कीर्तन शोभायात्रा गुरुद्वारा स्टेशन रोड से श्री गुरु गोविंद सिंह चौक जेल रोड अंबेडकर अस्पताल, खालसा स्कूल होते हुए गुरुद्वारा गुरु गोविंद नगर पंडरी पहुंचेगी, जहां श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी का भव्य स्वागत किया जाएगा | सिख समाज के बुजुर्गों, स्त्री - पुरुषों, युवक-युवतियों, बच्चों सहित गुरु नानक नाम लेवा संगत को उसका इंतजार रहता है सभी बड़े उत्साह के साथ श्रद्धा पूर्वक नगर कीर्तन में शामिल होकर गुरु की खुशियां प्राप्त करते हैं | इस विशाल नगर कीर्तन शोभायात्रा के मार्ग को स्वागत दार 2 रनों से सजाया गया है | पूरे मार्ग में अलग-अलग संस्थाओं व्यक्तियों गुरु प्रेमी व्यापारियों द्वारा जगह जगह चाय पानी नाश्ते की व्यवस्था की जाती है | श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर आयोजित विशाल नगर कीर्तन शोभायात्रा का हर धर्म हर समाज के लोग जगह-जगह फूलों की मालाओं और फूलों की वर्षा कर स्वागत करते हैं | जो आपसी भाईचारा और प्रेम की मिसाल व उदाहरण होता है | श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर आयोजित इस शोभायात्रा के मार्ग में शासन प्रशासन पुलिस एवं यातायात विभाग द्वारा पूर्ण सहयोग किया जाता है | गुरुद्वारा स्टेशन रोड से गुरुद्वारा गोविंद नगर पंडरी तक इस दौरान पूरा मार्ग शब्द कीर्तन, गतका प्रदर्शन भक्ति के माहौल में पूरी तरह रंग जाता है | सिख समाज के द्वारा श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के अवसर पर आयोजित इस विशाल नगर कीर्तन शोभा यात्रा के दर्शन करने सभी समाज के लोग पहुंचते हैं | CG 24 News-Singhotra
  • महिला क्रिकेटरों के पक्ष में बीसीसीआई का महत्वपूर्ण फैसला - पुरुष क्रिकेटरों के समान मिलेगी फीस
    CG 24 News भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने गुरुवार को एक ऐतिहासिक फैसला सुनाया है बोर्ड ने नई पालिसी लागू करते हुए मैच की फीस के तौर पर महिला और पुरुष क्रिकेटरों के बीच के भेदभाव को समाप्त कर दिया है बीसीसीआई ने कहा कि अब से महिला और पुरुष को मैच की फीस बराबर मिलेगी | इस बात की जानकारी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सचिव जय शाह ने दी | भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सचिव जय शाह ने बताया कि अनुबंधित महिला क्रिकेटर्स के लिए वेतन इक्विटी पॉलिसी हम लागू कर रहे हैं | उन्होंने कहा कि महिला और पुरुष के बीच के अंतर को समाप्त करते हुए महिला और पुरुष क्रिकेटर्स को एक समान मैच फीस का भुगतान किया जाएगा | बीसीसीआई के इस नए फैसले के बाद महिला क्रिकेटरों को जहां पहले टेस्ट मैच के लिए 4 लाख रुपए फीस मिलती थी अब 15 लाख रुपए मिलेंगे - वनडे के लिए पहले 1लाख रुपए मिलते थे अब 6 लाख रुपए मिला करेंगे | इसी प्रकार टी-20 मैचों के लिए जहां पहले 1 लाख रुपए दिए जाते थे उसे बढ़ाकर अब 3 लाख रुपए कर दिया गया है | परंतु बीसीसीआई ने सालाना कॉन्ट्रैक्ट मामले में कोई बदलाव नहीं किया है | BCCI से अनुबंधित पुरुष क्रिकेट खिलाड़ियों को तीन श्रेणियों में 7 करोड़, 6 करोड और 3 करोड रुपए मिलते हैं , जबकि अनुबंधित महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को तीन श्रेणियों के हिसाब से 50 लाख, 30 लाख और 10 लाख रुपए मिलते हैं | जिनमें कोई बदलाव नहीं किया गया है | भारत के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी हरभजन सिंह ने बीसीसीआई के फैसले पर कहा की महिलाओं को खेल में भागीदारी की प्रेरणा मिलेगी | भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने इस फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि भारत में महिलाओं और पुरुषों के लिए मैच फीस में समानता की घोषणा वास्तव में सराहनीय है | cg 24news यहां यह बताना भी जरूरी है कि पुरुष क्रिकेटरों में ए प्लस कैटेगरी है जो महिला क्रिकेटरों में नहीं है अर्थात महिला क्रिकेटर ए प्लस कैटेगरी में नहीं आते | भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के इस महत्वपूर्ण फैसले पर सभी पूर्व क्रिकेटरों ने खुशी जाहिर करते हुए अपने अपने विचार व्यक्त किए हैं | CG 24 News
  • नकली खोवा, मावा, मिठाइयों के कारोबार में संबंधित अधिकारियों का वरद हस्त - भागीदारी!
    छत्तीसगढ़ में खासकर राजधानी में नकली खोवा, मावा और नकली मिठाइयों की सप्लाई का कारोबार धड़ल्ले से जारी है | संबंधित अधिकारी जिन पर इसकी मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी है, स्वास्थ्य की जिम्मेदारी है, लोगों की सेहत की जिम्मेदारी है वह सब अधिकारी कहीं कोई कार्यवाही नहीं कर रहे हैं | सूचना देने पर भी कार्रवाई नहीं कर रहे, जो इस बात का प्रमाण है कि नकली मिठाइयों के कारोबार में स्वास्थ्य, फूड, खाद्य सहित संबंधित सभी अधिकारियों की मिलीभगत है | जो आम आदमी को नजर आती है कि कहां नकली खोवा, नकली मिठाइयों का कारोबार चल रहा है वहां तक उन अधिकारियों की नजर क्यों नहीं पहुंचती ? जो सिर्फ इसी बात की तनखा लेते हैं ? संबंधित अधिकारियों सहित जिला कलेक्टर, कलेक्टर के पिए सहित सभी लोगों तक इस नकली खोवा, मावा, मिठाइयों के गोदाम की जानकारी देने के बावजूद 12 घंटे बीत जाने के बाद भी कोई कार्यवाही का ना होना शासन प्रशासन के अधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारियों पर उंगली उठाने के लिए काफी है | शहर सहित पूरे प्रदेश के नागरिकों से अपील है कि वह मिठाइयों को खरीदने से पहले संबंधित मिठाई दुकान से बिल अवश्य लें, ताकि किसी तरह की नकली मिठाई होने पर,या स्वास्थ्य खराब होने पर मिठाई विक्रेताओं पर कार्रवाई करने का अधिकार आपके पास सुरक्षित हो | बिल के आधार पर उन पर दावा ठोका जा सके और उन पर हर्जाने के साथ-साथ कानूनी कार्रवाई की जा सके | वक्त है बदलाव का के साथ सरकार तो बदल गई परंतु सिस्टम में कोई बदलाव नजर नहीं आता | अधिकारी सत्ता के साथ रहता है और उसकी सत्ता के जनप्रतिनिधियों के साथ सांठगांठ मिलीभगत रहती है, क्योंकि जनप्रतिनिधियों को कमीशन पहुंचाने का काम भी अधिकारियों के जुम्मे रहता है | इस बात से साबित होता है कि प्रदेश में मुख्यमंत्री की सचिव सौम्या चौरसिया सहित अनेक अधिकारियों पर इनकम टैक्स, इ डी की कार्यवाही के बाद अवैध संपत्ति नगदी का मिलना मिलीभगत का परिचायक है | CG 24 News-Singhotra
  • कोयले की दलाली में ₹25 टन का खुलासा : ईडी की प्रेस विज्ञप्ति
    प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक बड़े घोटाले से संबंधित धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) 2002 के तहत तलाशी अभियान चलाया और गिरफ्तारियां कीं, जिसमें राज्य में परिवहन किए गए प्रत्येक टन कोयले से 25 रुपये प्रति टन की अवैध वसूली की जा रही है। वरिष्ठ नौकरशाहों, व्यापारियों, राजनेताओं और बिचौलियों को शामिल करते हुए एक कार्टेल द्वारा छत्तीसगढ़। इस घोटाले के मुख्य सरगना श्री सूर्यकांत तिवारी और उनके सहयोगियों ने कोयले पर अवैध लेवी की जबरन वसूली की एक समानांतर प्रणाली चलाने के लिए एक आपराधिक साजिश में प्रवेश किया और अवैध और बेहिसाब नकदी की आवाजाही कर रहे थे। अपराध की आय का इस्तेमाल बेनामी संपत्तियों में निवेश करने, वरिष्ठ अधिकारियों को प्रभावित करने के लिए अधिकारियों को रिश्वत देने और राज्य के राजनीतिक अधिकारियों द्वारा या उनकी ओर से इस्तेमाल किया जा रहा था। ईडी ने इस अवैध उगाही और सबूतों को नष्ट करने के लिए इस साजिश के खिलाफ आयकर विभाग द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग जांच शुरू की। ईडी मुख्य सरगना सहित इस साजिश के पूरे पहलू की जांच कर रहा है, वरिष्ठ अधिकारियों की भूमिका जिन्होंने इस घोटाले को दंड से मुक्त किया और अपराध की अवैध आय के लाभार्थियों की भूमिका निभाई। 11.10.2022 को, ईडी ने छत्तीसगढ़ में कई स्थानों पर एक साथ तलाशी ली और विभिन्न संदिग्धों से आपत्तिजनक सबूत और बेहिसाब नकदी और आभूषण जब्त किए। सूर्यकांत तिवारी फरार हो गया है। श्रीमती रानू साहू आईएएस (कलेक्टर रायगढ़) भी अपने सरकारी आवास से गायब पाई गईं। ईडी ने करीब 4.5 करोड़ रुपये की बेहिसाबी नकदी, सोने के आभूषण, सराफा और करीब दो करोड़ रुपये मूल्य के अन्य कीमती सामान जब्त किए हैं। ईडी की जांच से पता चला है कि अवैध कोयला लेवी की जबरन वसूली तब तेज हो गई जब निदेशक, भूविज्ञान और खनन विभाग ने दिनांक 15.07.2020 को एक अधिसूचना जारी की, जिसमें कोयले को खदानों से उपयोगकर्ताओं तक मैनुअल जारी करने के लिए ई-परमिट की पूर्व ऑनलाइन प्रक्रिया को संशोधित किया गया था। अनापत्ति प्रमाण पत्र इस संबंध में कोई एसओपी या प्रक्रिया परिचालित नहीं की गई थी। खनन कंपनी द्वारा खरीदार के पक्ष में कोयला वितरण आदेश (सीडीओ) जारी किया जाता है और खरीदारों को रुपये की ईएमडी जमा करने की आवश्यकता होती है। खनन कंपनी के साथ 500 प्रति मीट्रिक टन और 45 दिनों के भीतर कोयला उठाना भी आवश्यक है। नई अधिसूचना ने खनन कंपनियों को ई-परमिट जारी करने के लिए एनओसी के लिए खनन अधिकारी / डीडीएम के पास आवेदन करने के लिए मजबूर किया। एनओसी के बिना, खनन अधिकारी द्वारा कोयले के परिवहन के लिए ई-परमिट जारी नहीं किया जा सकता है, जिसके कारण सीडीओ (नीलामी के बाद खनन कंपनी द्वारा जारी कोयला वितरण आदेश) का निष्पादन नहीं होता है। यदि सीडीओ को 45 दिनों के भीतर निष्पादित नहीं किया जाता है, तो यह व्यपगत हो जाता है और खरीदार द्वारा 500/- रुपये प्रति टन की दर से भुगतान की गई ईएमडी खनन कंपनी द्वारा जब्त कर ली जाती है। इस प्रकार, यह कोयले का खरीदार है {सामान्य रूप से स्टील प्लांट्स / कैप्टिव पावर प्लांट ओनर्स} जिसकी कोयले की आपूर्ति बाधित होती है और एनओसी में देरी या इनकार होने पर उसकी ईएमडी जब्त कर ली जाती है। ईडी के सर्वेक्षण से पता चला कि खाली छोड़े गए इन खनन विभाग में कोई विवेकपूर्ण दस्तावेजीकरण प्रणाली नहीं थी। कई जगहों पर हस्ताक्षर गायब थे। नोट शीट गायब हैं। इसी नाम से पूछताछ की जाती है और कलेक्टर/डीएमओ की मर्जी से अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी किए जाते हैं। 15.7.22 से बिना किसी एसओपी के 30,000 से अधिक एनओसी जारी किए गए हैं। आवक और जावक रजिस्टरों का रखरखाव नहीं किया गया था। अधिकारियों की भूमिका पर कोई स्पष्टता नहीं है। ट्रांसपोर्टर का नाम, कंपनी का नाम आदि जैसे कई विवरण खाली छोड़ दिए गए हैं। सूर्यकांत तिवारी के नेतृत्व में बहुत वरिष्ठ अधिकारियों की सहायता से कार्टेल ने जबरन वसूली का एक नेटवर्क बनाया, जिसके द्वारा कोयले के प्रत्येक खरीदार / ट्रांसपोर्टर को पहले डीएम कार्यालय से एनओसी प्राप्त करने से पहले 25 रुपये प्रति टन का भुगतान करना पड़ता था। उन्होंने ऐसे पुरुषों को रखा जो धन इकट्ठा करते और स्थानांतरित करते और सरगनाओं, कार्यकर्ताओं, वरिष्ठ आईएएस-आईपीएस अधिकारियों और राजनेताओं के बीच कारनामों को साझा करते थे। ऐसा अनुमान है कि प्रतिदिन लगभग 2-3 करोड़ रुपये उत्पन्न होते थे। तलाशी एवं जांच के दौरान लक्ष्मीकांत तिवारी के पास से 1.5 करोड़ रुपये नकद बरामद किया गया। उसने स्वीकार किया है कि वह रोजाना 1-2 करोड़ की जबरन वसूली करता था। इंद्रमणि समूह के सुनील कुमार अग्रवाल, एक बड़ा कोयला व्यवसायी, इस रैकेट में शामिल पाया गया और सूर्यकांत तिवारी का एक प्रमुख व्यापारिक भागीदार पाया गया। 2009 बैच के आईएएस अधिकारी समीर विश्नोई और उनकी पत्नी के पास से 47 लाख रुपये की बेहिसाब नकदी और 4 किलो के सोने के आभूषण पाए गए। सभी 3 व्यक्तियों को पीएमएलए के तहत गिरफ्तार किया गया और रायपुर पीएमएलए विशेष न्यायालय के समक्ष पेश किया गया, जिसने 21.10.2022 तक 8 दिनों की ईडी हिरासत प्रदान की है। आगे की जांच जारी है।
  • रमन सिंह माफी मांगे, अन्यथा मानहानि का दावा ठोकूंगा : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
    रायपुर बिग ब्रेकिंग ईडी की कार्यवाही से सरकार के डरने वाले डॉक्टर रमन सिंह के बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, कौन डर रहा है, डर तो इनके मन में है, डरते कोई नहीं है, रमन सिंह बार बार चुटका देते रहते हैं ,इनका एक ही काम है ये क्या करते हैं,जाकर बार बार शिकायत करते हैं दिल्ली में, रमन सिंह जी जो बयान दिए हैं , वो घोर आपत्तिजनक है ,वो कहते हैं की सोनिया गांधी के ए टी एम है, वो कहते हैं कि 25 रुपया टन कोयला में ले रहा है, प्रमाणित करें, अन्यथा सार्वजनिक रूप से माफी मांगे, अन्यथा उचित कानूनी कार्यवाही की जाएगी, और मानहानि का दावा भी ठोकूंगा | सीएम भूपेश बघेल का बड़ा बयान रमन सिंह जो आरोप लगा रहे है वह प्रमाणित करें प्रमाणित नहीं कर सकते तो माफी मांगे माफी नहीं मांगने पर कानूनी कार्यवाही करूंगा रमन सिंह अपनी खीज अफसरों पर उतार रहे है 15 सालों तक यही अधिकारी अच्छे थे अब रमन सिंह अफसरों को पंजा छाप अधिकारी बोल रहे है बता दें कि पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने सीएम भूपेश पर सोनिया गांधी का ATM होने का लगाया था आरोप
  • एसपी - कलेक्टर की मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री ने निर्णयों की दी जानकारी

    जिस तरह से चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई की है - ऑनलाइन सट्टा पर भी कार्रवाई होगी ---- भूपेश बघेल , मुख्यमंत्री

     

     

    *रायपुर अपडेट- एसपी बैठक खत्म होने के बाद सीएम मीडिया से हुए मुखातिब*- *मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बड़ा बयान- बस्तर में नक्सली पीछे हट चुके है....नक्सलियों को पीछे धकेलने में बड़ा हाथ रहा है सरकारी प्रसंस्करण...हमने मिलेट्स खरीदना शुरू किया.... बस्तर में फोर्स बढ़ाया गया*... *अपराध में कमी लाने के प्रयास हुए है..चाकूबाजी में भी कमी आई है... हमने चाकू के उत्पादन पर ही रोक लगाने का प्रयास किया है...आर्म्स एक्ट भारत सरकार का है फिर भी हमने अपने पुलिस अधिकारियो को निर्देशित किया गया है*... *जुआ सट्टा , ऑनलाइन सट्टा पर शिकंजा कसने का काम हमने किया है...देश के किसी भी प्रदेश में कहीं कोई कार्रवाई नही हुई...लेकिन छत्तीसगढ़ में कार्रवाई की गई है*... *बिजीवल पुलिसिंग के निर्देश दिए है ... हर चौक चौराहों पर पुलिस दिखना चाहिय... उत्कृष्ट थानों को भी चिन्हांकित करके विज्ञप्ति जारी की जाएगी*... *आरक्षण के मामले में भाजपा के चक्का जाम पर सीएम बघेल का बयान - भाजपा पहले अपना स्टेण्ड क्लियर करें ... हमारा स्टेण्ड क्लियर है.. प्रदेश की जनता को आरक्षण मिलना चाहिए... हम आरक्षण को लेकर लड़ाई लड़ रहे है लेकिन भाजपा नही लड़ रही है... आज जो स्थिति निर्मित हुई है उसके लिए भाजपा की तत्कालीन सरकार जिम्मेदार है ... क्योकि उन्होंने कोर्ट में ननकीराम कंवर की रिपोर्ट भी सम्मिट नही की थी*.... *मेघावी छात्रों को हेलीकाप्टर राइड पर सीएम बघेल ने कहा कि बच्चों को प्रोत्साहन मिलेगा ... भेंट मुलाकात के दौरान मांग उठी थी... जिसको पूरा किया गया है... बच्चे खुश है*.... *ऑनलाइन सट्टे पर सीएम ने कहा केवल छत्तीसगढ़ राज्य में कार्रवाई हो रही है...हम हर जगह कार्रवाई करेंगे...ऑनलाइन सट्टे के लिए विज्ञापन भी दिए जा रहे है... जिस तरह से चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई की है... केवल छत्तीसगढ़ में कार्रवाई हुई है वैसे ही ऑनलाइन सट्टा पर भी कार्रवाई होगी*

  • एसपी - कलेक्टर की मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री ने निर्णयों की दी जानकारी
    *रायपुर अपडेट- एसपी बैठक खत्म होने के बाद सीएम मीडिया से हुए मुखातिब*- *मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बड़ा बयान- बस्तर में नक्सली पीछे हट चुके है....नक्सलियों को पीछे धकेलने में बड़ा हाथ रहा है सरकारी प्रसंस्करण...हमने मिलेट्स खरीदना शुरू किया.... बस्तर में फोर्स बढ़ाया गया*... *अपराध में कमी लाने के प्रयास हुए है..चाकूबाजी में भी कमी आई है... हमने चाकू के उत्पादन पर ही रोक लगाने का प्रयास किया है...आर्म्स एक्ट भारत सरकार का है फिर भी हमने अपने पुलिस अधिकारियो को निर्देशित किया गया है*... *जुआ सट्टा , ऑनलाइन सट्टा पर शिकंजा कसने का काम हमने किया है...देश के किसी भी प्रदेश में कहीं कोई कार्रवाई नही हुई...लेकिन छत्तीसगढ़ में कार्रवाई की गई है*... *बिजीवल पुलिसिंग के निर्देश दिए है ... हर चौक चौराहों पर पुलिस दिखना चाहिय... उत्कृष्ट थानों को भी चिन्हांकित करके विज्ञप्ति जारी की जाएगी*... *आरक्षण के मामले में भाजपा के चक्का जाम पर सीएम बघेल का बयान - भाजपा पहले अपना स्टेण्ड क्लियर करें ... हमारा स्टेण्ड क्लियर है.. प्रदेश की जनता को आरक्षण मिलना चाहिए... हम आरक्षण को लेकर लड़ाई लड़ रहे है लेकिन भाजपा नही लड़ रही है... आज जो स्थिति निर्मित हुई है उसके लिए भाजपा की तत्कालीन सरकार जिम्मेदार है ... क्योकि उन्होंने कोर्ट में ननकीराम कंवर की रिपोर्ट भी सम्मिट नही की थी*.... *मेघावी छात्रों को हेलीकाप्टर राइड पर सीएम बघेल ने कहा कि बच्चों को प्रोत्साहन मिलेगा ... भेंट मुलाकात के दौरान मांग उठी थी... जिसको पूरा किया गया है... बच्चे खुश है*.... *ऑनलाइन सट्टे पर सीएम ने कहा केवल छत्तीसगढ़ राज्य में कार्रवाई हो रही है...हम हर जगह कार्रवाई करेंगे...ऑनलाइन सट्टे के लिए विज्ञापन भी दिए जा रहे है... जिस तरह से चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई की है... केवल छत्तीसगढ़ में कार्रवाई हुई है वैसे ही ऑनलाइन सट्टा पर भी कार्रवाई होगी*
  • *दादासाहेब फालके आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स लगातार सफल - छत्तीसगढ़ में भी होगा बड़ा आयोजन की तैयारी*
    *छत्तीसगढ़ में भी शीघ्र होगा DPIAF आइकॉन अवॉर्ड छत्तीसगढ़* *मुंबई, दिल्ली राजस्थान, दुबई में दादासाहेब फालके आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स इंटरनेशनल शो लगातार सफल* दादासाहेब फाल्के आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गेनाइजेशन के फाउंडर अवॉर्ड शो आयोजक फिल्म एक्टर, कॉमेडियन कल्याणजी जाना ने छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेस में पत्रकारों को बताया कि दादासाहेब फाल्के आईकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गेनाइजेशन के माध्यम से वे काफी सालों से मुंबई के साथ साथ देश के कई राज्यों में समाज कल्याण के लिए कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई, दिल्ली राजस्थान के अलावा दुबई में दादासाहेब फालके आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स इंटरनेशनल शो सफलता पूर्वक पूर्ण के साथ-साथ देश की संस्कृति कल्चर और पर्यटन को भी दुबई में फैशन शो के माध्यम से रिप्रेशन किया गया। DADASAHEB PHALKE ICON AWARD FILMS DADASAHED PHALKE ICON AWARD FILMS दादासाहेब फाल्के आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गेनाइजेशन के तत्वाधान में मुंबई में हर वर्ष की तरह 24 नवंबर 2022 को चौथा बड़ा अवार्ड शो आयोजित किया जा रहा है दादासाहेब फाल्के आईकॉन अवॉर्ड फिल्म्स नेशनल डीपीआईएफ लाइफ स्टाइल आईकॉनिक अवॉर्ड इस अवॉर्ड शो में पूरे भारत की कला संस्कृति एवं पर्यटन को प्रसारित एवं प्रोत्साहित किया जाएगा यह कार्य इसलिए किया जा रहा है जाते अभी के पीढ़ी को यह बताया जाए जो देश के कल्चर और हमारे पर्यटन को सब मिलकर बचाना है द्य इस अवॉर्ड शो में अनेक केंद्रीय मंत्री, देश के अनेक राज्यों के सांसद, मुंबई फिल्म जगत के अनेक एक्टर, एक्ट्रेस, प्रोड्यूसर, डायरेक्टर, कॉमेडियन म्यूजिशियन सहित सिगर उपस्थित रहेंगे एवं इस अवार्ड से उन सभी को सम्मानित किया जाएगा।24 दिसंबर को होने जा रहा है मुंबई में मुंबई पुलिस आइकॉन अचीवर अवार्ड, छत्रपति शिवाजी महाराज गौरव अवॉर्ड एवं दार्शनिक मुंबई प्रेस मीडिया अवार्ड इसके अलावा 2023 का सबसे बढ़ प्रेस्टीजियस अवॉर्ड शो दादासाहेब फालके आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गेनाइजेशन द्वारा 24 फरवरी 2023 को होने जा रहा है दादासाहेब फाल्के आइकॉन अवॉर्ड फिल्म्स इंटरनेशनल, डीपीआईएएफ लाइफ स्टाइल आईकोनिक अवार्ड, डीपीआईएएफ मिस एंड मिसेज इंडिया एंड दुबई इंटरनेशनल कल्चरल फैशन शो दुबई में सेकंड टाइम इंटरनेशनल स्तर पर आयोजन किया जा रहा है। सभी अवॉर्ड शो में भाग लेने के लिए दादासाहेब फालके आइकॉन अवॉर्ड फिल्मा आर्गेनाइजेशन के छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष सुखबीर सिंह सिंघोत्रा से 9301094242 पर संपर्क कर प्रतिभागी बन सकते हैं। कल्याणजी जाना ने बताया कि श्री दादासाहेब फाल्के जी का 15 फुट का स्टैचू बहुत जल्द मुंबई में लगाने की तैयारी चल रही है, क्योंकि मुंबई सहित देश में कहीं पर भी श्री दादासाहेब फाल्के जी की प्रतिमा स्थापित नहीं है दादासाहेब फाल्के आईकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गेनाइजेशन के फाउंडर कल्याणजी जाना ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया की अति शीघ्र छत्तीसगढ़ के फिल्मी कलाकारों सहित क्षेत्र की प्रतिभाओं को उनकी कला के अनुसार छत्तीसगढ़ में डीपीआईएएफ छत्तीसगढ़ आईकॉनिक अवॉर्ड्स शो के माध्यम से सम्मानित किया जाएगा। पत्रकार वार्ता में दादासाहब फाल्के आईकॉन अवॉर्ड फिल्म्स ऑर्गनाइजेशन के ब्रांड एम्बेसडर छत्तीसगढ़ के डॉक्टर अजय मोहन सहाय, प्रदेश अध्यक्ष सुखबीर सिंह सिंघोत्रा, महिला विंग की अध्यक्ष श्रीमती रूना शर्मा एवं छत्तीसगढ़ की मिस 2020 ब्यूटी क्वीन, दिल्ली में दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित मिस शिप्रा भी उपस्थित रहे।