Top Story
शहीद जवानों के परिवारों को आश्वासन ही देकर जाएंगे अमित शाह जी या नक्सलियों के अंत की कोई तारीख बता कर सभी जवानों का हौसला बढ़ाएंगे ? 05-Apr-2021

अमित शाह जी, शहीद जवानों के परिवारों को आश्वासन ही देकर जाएंगे क्या ?

नक्सलियों के अंत की कोई तारीख बता कर सभी जवानों का हौसला बढ़ाएंगे क्या ?

 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के तुर्रेम गांव में हुए नक्सली हमले में शहीद 22 जवानों को श्रद्धांजलि देने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बीजापुर पहुंचे |
श्रद्धांजलि देने के बाद उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक ली और नक्सलियों को किस तरह से समाप्त किया जाए इस पर विचार विमर्श करने के बाद आवश्यक दिशा निर्देश देकर अमित शाह और प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रायपुर रवाना हुए |
रायपुर एयरपोर्ट पर अमित शाह भूपेश बघेल ने पत्रकारों से कोई चर्चा नहीं की - 

उल्लेखनीय है कि अमित शाह ने जगदलपुर के बीजापुर में पत्रकारों के समक्ष 22 जवानों की शहीदी पर दुख व्यक्त करते हुए नक्सली घटना की निंदा की, उन्होंने कहा कि जवानों का खून व्यर्थ नहीं जाएगा और नक्सलियों का खात्मा किया जाएगा |

 अब बड़ा सवाल यह उठता है कि प्रदेश में जब कभी भी नक्सली कोई बड़ी वारदात को अंजाम देते हैं तो प्रदेश सरकार समेत केंद्र के अधिकारी नेता और मंत्री श्रद्धांजलि सभा कर बैठक कर वापस रवाना हो जाते हैं और रटा रटाया एक ही जवाब देते हैं कि हमारे जवानों ने डटकर मुकाबला किया, उनका खून व्यर्थ नहीं जाने देंगे, नक्सलियों से बदला लिया जाएगा,
 अब यह बदला शब्द सुनते सुनते 20 साल गुजर गए परंतु बदला लेने का वक्त अभी तक नहीं आया क्यों ?
अब शहीद जवानों के परिवार केंद्रीय मंत्री अमित शाह एवं प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल से जानना चाहते हैं कि कब उनके परिवारों के खून का बदला नक्सलियों से लिया जाएगा ? और सरकार बदला लेने में पीछे क्यों हट रही है ? और वही रटा रटाया जवाब देकर उनके जख्मों पर नमक क्यों छिड़क रही है ? 
शहीद जवानों के परिवारों को जवाब चाहिए |
अमित शाह राजधानी रायपुर से क्या शहीद जवानों के परिवारों को कोई मुकम्मल जवाब देकर जाएंगे ?

More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.