Rajdhani
Previous123456789...6465Next
  • रायपुर के पुरैना स्कूल के 267 गरीब छात्र – छात्राओं को मिले नए जूते --

    रायपुर, 19 अक्टूबर 2019/ स्कूल में जाने वाले ऐसे गरीब बच्चे जो नंगे पैर या चप्पल पहन कर स्कूल जाते हैं वे जूते पहन कर स्कूल जाएं इस हेतु आज छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफिसर्स एसोसियेशन और रोटरी रायल क्लब रायपुर ने संयुक्त रुप से शासकीय माध्यमिक शाला पुरैना में जूतों का वितरण किया। अतिथि के रुप में विधायक कुलदीप सिंह जुनेजा और रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यानारायण शर्मा के प्रतिनिधि के रुप में उपस्थित पंकज शर्मा ने माध्यमिक शाला के 267 छात्र – छात्राओं को उनके नाप के जूतों का वितरण किया। शाला के बच्चे भी उपहार मिलने पर खुश थे।   

    अतिथियों ने छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफिसर्स एसोसियेशन व्दारा पुरैना स्कूल को गोद लिए जाने के बाद उपलब्ध कराए गए दो कम्प्यूटर का भी माऊस से क्लिक कर उसे स्कूल को सौंपा। विधायक कुलदीप जुनेजा ने इस अवसर पर कहा कि एसोसियेशन एक अच्छी भावना के साथ मानव कल्याण का कार्य कर रहा हैं। ऐसे में राज्य् सरकार की ओर से जो भी मदद स्कूलों के लिए आवश्यक होगी वह दी जाएगी। पंकज शर्मा ने इस मौके पर एसोसियेशन के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनारयण शर्मा ने पुरैना स्कूल के उन्नयन के लिए 4.00 लाख रुपए विधायक निधि से देने की घोषणा की है। श्री शर्मा ने कहा की रोटरी क्लब की चलते कदम की इस पहल गरीब छात्र – छात्राओं के स्वास्थ्य के प्रति एक अच्छी सराहनीय सोच है।

    छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफिसर्स वेलफेयर एसोसिएशन के संयोजक जी.एस. बॉम्बरा ने बताया कि एसोसियेशन ने पुरैना की शासकीय शाला को गोद ले कर इसके उन्नयन की दिशा में कार्य प्रारंभ किया है। यह कोशिश की जा रही है कि अन्य संस्थाओं को भी इसमें जोड़ा जाए। रोटरी रायल क्लब के अध्यक्ष इरफान बुखारी ने इस अवसर पर बताया कि उनकी संस्था ने चलते कदम योजना के अंतर्गत स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब बच्चों के स्वास्थ्य की चिंता की। हैं। इसके अंतर्गत रोटरी रायल क्लब रायपुर 2500 स्कूली बच्चों को उनके नाप के अनुसार नए जूतों का वितरण कर रही है, जिसमें से आज तक वे 1200 जूतों का वितरण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि हम अन्य स्कूलों के गरीब बच्चों को भी जूते देंगे ताकि वे स्वस्थ्य रह कर अपनी पढ़ाई कर सकें।   

     

    आज के इस कार्यक्रम में पर छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफिसर्स एसोसियेशन के सदस्य ए.एस. प्लाहा, आर.एस. आजमानीडी.एस. जब्बल, इंजीनियर ए.एस. चावला, डॉ.कुलदीप सिंह छाबड़ा, सुखबीर सिंह सिंघोत्रा, भूपेन्द्र सिंहरोटरी रायल क्लब रायपुर के कर्नल दीपक मेहता, इरफान बुखारी, सोम अग्रवाल, हरजीत सिंह रीहल, विक्रास सराफ, मनीष अरोरा, विकास बजाज, राजीव मूंदड़ा, ऋषि दम्मानी, पवन अग्रवाल, दिनेश जैन तथा पुरैना स्कूल के हेड मास्टर श्रीराम तथा शाला शिक्षकगण उपस्थित थे।

  • धनतेरस के दिन नवा रायपुर में राज्यपाल...सीएम और मंत्रियों के निवास का होगा भूमिपूजन : भूपेश बघेल

    रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि धनतेरस के दिन नवा रायपुर में राज्यपाल, सीएम भवन का भूमिपूजन किया जाएगा। इसी तरह मंत्रियों के निवास का भी भूमिपूजन होगा। सीएम बघेल शनिवार को चित्रकोट उपचुनाव प्रचार के लिए रवाना होने से पहले पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार छह हजार करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है। जनता की गाढ़ी कमाई का ये पैसा बेकार न जाए, इसलिए नया रायपुर को बसाना जरुरी है। जब तक राज्यपाल और मंत्रिमंडल के लोग रहना नहीं शुरू करेंगे तब तक नवा रायपुर आबाद नहीं हो पाएगा। सीएम बघेल ने एक सवाल के जवाब में कहा कि दीपावली का त्यौहार है, मिलावट के खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य जब से बना है, लोग महसूस नहीं कर पा रहे हैं कि ये हमारा राज्य है, लेकिन पिछले 10 माह से लोग महसूस कर रहे हैं कि ये हमारा राज्य है। हमारे तीज त्यौहार है उसे भी प्रमुखता मिलनी चाहिए, ये काम छत्तीसगढ़ सरकार कर रही है।राज्यपाल अनुसुईया उइके द्वारा सुपेबेड़ा को लेकर दिए बयान पर सीएम बघेल ने कहा कि हम लोग भी सुपेबेड़ा को लेकर चिंतित हैं, मैं तो हतप्रभ हूं कि राज्यपाल ने कहा कि यदि हेलीकॉप्टर नहीं देंगे तो सड़क मार्ग से ही सुपेबेड़ा जाएंगी। सीएम ने कहा कि राज्यपाल की चिंता बहुत वाजिब है और हम भी चिंतित है। बताना चाहूंगा कि जिस दिन घटना घटी, 2 अक्टूबर को विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान वहां एक मौत की सूचना मिली, स्वास्थ्य मंत्री सुपेबेड़ा गए भी थे। हम तो चाहते हैं कि सुपेबेड़ा में फैली बीमारी के कारणों का पता चले।  

  • रायपुर :  छठ महापर्व...विश्व का सबसे बड़ा लोकपर्व 31 अक्टूबर से प्रारंभ

    रायपुर : विश्व का सबसे बड़ा आस्था का लोकपर्व छठ महापर्व छठ महापर्व 31 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस मौके पर छठ महापर्व आयोजन समिति की ओर से महादेवघाट में छठ महापर्व का बड़ा आयोजन किया जाएगा। तैयारियों को लेकर शनिवार को समिति के सदस्यों की बैठक रखी गई है। समिति के प्रमुख राजेश सिंह ने बताया कि पर्व में अब कुछ दिन ही बाकी हैं। महादेवघाट में हर साल बड़े रूप में आयोजन किया जाता है.खारुन नदी के तट पर हर वर्ष  की भाति इस वर्ष भी विशेष वयवसथा की जा रही है महादेव घाट पर पंद्रह हजार से अधिक श्रधालु  जमा होंगे और छठ महापर्व प्रति  वर्ष  की भाति इस वर्ष भी उत्साह और श्रधा के साथ मनाया जायेगा पारिवारिक सुख-समृध्दि और मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए यह पर्व मनाया जाता है. छठ पूजा चार दिन का पर्व है. इसकी शुरुआत कार्तिक शुक्ल चतुर्थी को होती है और यह कार्तिक शुक्ल सप्तमी को समाप्त होता है. इस दौरान व्रतधारी लगातार 36 घंटे का व्रत रखते हैं. व्रत के दौरान वह पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं. महा आरती छठ महापर्व के इस आयोजन में 2 नवंबर को संध्या के उपरांत सवा लाख बतियों से महाआरती होगी समुचित समितियों ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि दिनांक 2 नवंबर को अपने साथ दीप लेकर आए भंडारा व महा भंडारा छठ महापर्व आयोजन समिति माताओं के द्वारा 2 नवंबर को रात्रि को भंडारा एवं तीन नंबर को सुबह महा भंडारे का आयोजन किया जाएगा जिसमें सारे पकवान गौ माता के शुद्ध देसी घी से निर्मित होगी। अन्य आयोजन समिति के सदस्य द्वारा महादेव घाट की सफाई की जरी समिति के द्वारा अर्ध हेतु गाय का दूध आम का दातुन पार्किंग लाइटिंग एवं श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्था की जा रही है दो नंबर को श्रद्धालुओं के लिए डॉक्टर की एक टीम द्वारा स्वास्थ्य शिविर का भी आयोजन महादेव घाट पर किया जाएगा इस पत्रकार वार्ता में रविंद्र सिंह, विपिन सिंह, रामकुमार, हरीश शुक्ला, प्रमोद मिश्रा, जयंत सिंह, सुनील सिं,ह सत्यप्रकाश सिंह, पंकज चौधरी, संजय सिंह, अजय शर्मा ,व अन्य सदस्य उपस्थित थे  

  • चित्रकोट उपचुनाव के प्रचार में कांग्रेस के सामने बुरी तरह से पिछड़ी भाजपा :  शैलेश नितिन त्रिवेदी

    रायपुर। दंतेवाड़ा की तरह चित्रकोट में भी कांग्रेस की जबर्दस्त जीत का दावा करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि चित्रकोट उपचुनाव प्रचार में कांग्रेस विपक्ष से बहुत आगे है। चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस नेताओं ने चुनाव प्रचार पूरी गंभीरता और आक्रामकता से किया है। कांग्रेस के चुनाव प्रचार के सामने विपक्षी भाजपा बुरी तरह पिछड़ गई है। मंत्री कवासी लखमा और बस्तर के लोकसभा सदस्य दीपक बैज शुरू से ही धुआंधार चुनाव प्रचार कर रहे हैं। त्रिवेदी ने कहा कि गांधी विचार यात्रा के समापन के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम चित्रकोट रवाना हो गए थे और उन्होंने पूरे जोर-शोर से प्रचार की कमान संभाली। कांग्रेस की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर के विकास के लिए अनेकों योजनाएं बनवाकर उनका क्रियान्वयन करवाया। लोहान्डीगुड़ा में रमन सरकार द्वारा ली गई किसानों की जमीनें किसानों को वापस दी गई। मुख्यमंत्री बघेल ने पहली बार बस्तर विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष बस्तर के विधायक को बनाया। बस्तर संभाग में मक्का प्रोसेसिंग प्लांट की आधारशिला रखी गई। बस्तर के युवाओं को सरकारी नौकरी में प्राथमिकता देने के लिए कनिष्ठ चयन बोर्ड के गठन की घोषणा की गई। एनएमडीसी की भर्ती परीक्षा बस्तर में होगी। तेंदूपत्ता संग्राहकों को अब 2500 के बदले 4000 रुपए मानक बोरा मानदेय दिया जा रहा है। 2500 में धान खरीदी की गई और किसानों की कर्ज माफी की गई। त्रिवेदी ने कहा है कि चित्रकोट उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी ने रणनीति बनाकर जर्बदस्त प्रचार किया। बस्तर में इस सीट को लेकर पूरे बस्तर में कांग्रेस अपना गढ़ मजबूत करने की योजना बनाकर चल रही है। कांग्रेस बस्तर की सभी 12 सीटों पर अपना कब्जा कायम करने में कामयाब होगी।

  • सुपेबेड़ा का दर्द: एम्स के विशेषज्ञों की टीम करेगी जांच...15 दिन में गई हैं 2 जानें

    रायपुर: सुपेबेड़ा में 15 दिन के अंदर दो ग्रामीणों की मौत ने गांव का दर्द और बढ़ा दिया है. राज्यपाल अनुसुइया उइके भी सुपेबेड़ा का दौरा करेंगी. इससे पहले सुपेबेड़ा के लिए रायपुर मेडिकल कॉलेज और एम्स के विशेषज्ञों की टीम रायपुर से गई है. टीम द्वारा क्रॉनिकल किडनी डिसीज पर विशेष जांच शिविर लगाया जाएगा.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने सुपेबेड़ा में किडनी रोग से पीड़ितों को तत्काल इलाज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने 2 अक्टूबर को अपने सुपेबेड़ा प्रवास के दौरान वहां विशेषज्ञ एमडी चिकित्सक की नियुक्ति की घोषणा की थी. इस पर त्वरित अमल करते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा देवभोग में एमडी मेडीसिन की पदस्थापना कर दी गई है. रायपुर के डीकेएस अस्पताल और एम्स में भी सुपेबेड़ा के लोगों के उपचार की व्यवस्था की गई है

  • चुनाव प्रचार के लिए चित्रकोट रवाना हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

     रायपुर। सीएम भूपेश बघेल चित्रकोट विधानसभा प्रत्याशी राजेंद्र बेन्जाम के प्रचार के लिए चित्रकोट रवाना हुए. इस दौरान उन्होंने पहले मीडिया से चर्चा में सुपेबेड़ा को लेकर कहा- हम सभी की चिंता सुपेबेड़ा को लेकर है.

     

     

  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जो कहा...उसे करके दिखाया : कांग्रेस

    रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेले ने चुनाव के पहले आम जनता के हित में जो घोषणाएं की थी, उन घोषणाओं को उन्होंने 10 माह में ही पूरा कर के दिखाया है। ये कहना है छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सह-सचिव प्रकाश रामटेके का। प्रकाश रामटेके ने कहा कि अगर पूर्व सीएम रमन सिंह को नहीं दिख रहा हो तो जाये किसानों के पास और पूछे धान का समर्थन मुल्य, बोनस मिला या नहीं, पूछे किसानों से कर्जा माफ हुआ या नहीं, जाये बस्तर में और पूछे गरीब किसानों की जमीन उनको वापस मिली या नहीं, जाये छत्तीसगढ़ की जनता के पास और पूछे बिजली बिल हाफ हुआ की नहीं, जाये आम जनता के पास और पूछे 7 किलो चावल की जगह अब 35 किलो चावल मिल रहा है की नहीं, जाये छत्तीसगढ़ के गांव में और पूछे छत्तीसगढ़ की संस्कृति को किसने बढ़ावा दिया है। प्रकाश रामटेके ने कहा कि रहा सवाल शराब का तो पूर्व सीएम रमन सिंह को ये जानकारी नहीं है कि जैसे भाजपा से जनता ने मुंह फेर लिया है वैसे ही छत्तीसगढ़ की जनता अब शराब पिना खुद ही कम कर रही है और एक दिन ऐसा होगा अपने आप छत्तीसगढ़ शराब मुक्त राज्य होगा। 

  • रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मधुकर खेर की पत्नी मानिक खेर के निधन पर दुःख व्यक्त किया

    रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वरिष्ठ पत्रकार स्वर्गीय मधुकर खेर की पत्नी मानिक खेर के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने खेर के शोकसंतप्त परिवारजनों के प्रति सहानुभूति प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।मानिक खेर का आज सुबह लम्बी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे नगर निगम रायपुर के जनसम्पर्क अधिकारी मिलिंद खेर, योग शिक्षक मकरन्द खेर और सुश्री ममता की माँ थी।

  • डॉ. रमन ने धन नहीं...जनता का आशीष और यश कमाया है : धरमलाल कौशिक

     रायपुर : नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि डॉ. रमन के विकास कार्य और सद्व्यवहार से छत्तीसगढ़ की जनता बखूबी वाकिफ है। झूठे वादे करके सत्ता में आए भूपेश बघेल और उनके कांग्रेसी साथियों की अकड़, अहंकार और उगाही का नजारा जनता देख रही है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि रेत से तेल निकालने से लेकर शराब के ओव्हर रेट तक की दास्तान बता रही है कि धन कौन बटोर रहा है? तबादला उद्योग से कौन जेबे भर रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज का बीमारू हिस्सा रमन सिंह के अथक प्रयासों से विकास का गढ़ कहलाने वाले छत्तीसगढ़ राज्य के रूप में प्रतिष्ठित हुआ।अब यह राज्य भूपेश शासन काल के 10 महीनों में ही 20 साल पीछे चला गया। कांग्रेस का खजाना भरने के लिए हर स्तर पर अवैध वसूली की शिकायतें आम हैं और सरकारी खजाने की हालत यह है कि राज्य को कर्ज की गहरी खाई में धकेला जा रहा है। 

  • रायपुर: डीआरएम को पड़ा दिल का दौरा…निजी अस्पताल में भर्ती…

    रायपुर। राजधानी रायपुर रेल मंडल के डीआरएम को दिल का दौरा पड़ा है। जिसके बाद उन्हें स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि वे रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने निकले थे। निरीक्षण के बाद लौटने के लिए कार में बैठे और उनकी तबीयत बिगडऩे लगी। फिलहाल उनका इलाज राजधानी के निजी अस्पताल में जारी है।

  • रायपुर: तेजराम मारकंडेय को न्याय दिलाने...प्रगतिशील छत्तीसगढ़ सतनामी समाज आज राजभवन का करेंगे घेराव

    रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रगतिशील सतनामी समाज 19 अक्टूबर को राजभवन का घेराव करने जा रही है। जिसके लिए प्रदेश के हर क्षेत्र से समाज के लोग बूढ़ातालाब धरना स्थल पर लामबंद हो रहे हैं। दरअसल बालोद के बीजाभाट निवासी तेजराम मारकंडेय को न्याय दिलाने के लिए समाज के लोगों ने मोर्चा खोल दिया है।सतनामी समाज के प्रदेश प्रमुख और बालोद जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम मारकंडे ने बताया कि तेजराम मारकंडे पर चल रहे प्रकरण को शिथिल करने व एट्रोसिटी एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई नहीं करने वाले जिम्मेदार अफसरों को निलंबित करने की मांग की गई थी।सतनामी समाज के ब्लॉक प्रतिनिधियों ने ब्लॉक अध्यक्ष धनेश बघेल, सचिव खिलानंद जांगड़े, वरिष्ठ समाजसेवी अशोक आडिल, डेविड कुमार बारले के नेतृत्व में 3 अक्टूबर को राज्यपाल के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा था।

  • रायपुर : दीवाली मनाने अधिकारियों-कर्मचारियों को  24 और 25 अक्टूबर को मिलेगा वेतन

    वित्त विभाग ने जारी किए निर्देश...

    रायपुर :मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार राज्य सरकार के अधिकारियों-कर्मचारियों को माह अक्टूबर 2019 के वेतन का भुगतान दीपावली के पहले 24 और 25 अक्टूबर को किया जाएगा। वित्त विभाग द्वारा आज यहां मंत्रालय से शासन के सभी विभागों, विभागाध्यक्षों, संभागीय कमिश्नरों, जिला कलेक्टरों और अध्यक्ष राजस्व मंडल को इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

     

Previous123456789...6465Next