Top Story
समाज का उद्धार हम सबकी ज़िम्मेदारी और कोरोना काल में इस कर्त्तव्य का पालन और भी ज़रूरी- डीजीपी* 11-Jul-2021

जनहित रहमत फाउंडेशन ने मनाया अपना प्रथम स्थापना दिवस

समाज का उद्धार हम सबकी ज़िम्मेदारी है और कोरोना काल में इस कर्त्तव्य का पालन और भी ज़रूरी - डी एम अवस्थी

मानव सेवा और दयाभाव परमेश्वर को पाने के सशक्त मार्ग हैं- सैय्यद मोहम्मद अशरफ 

रायपुर, ९ जुलाई २०२१/ जनहित रहमत फाउंडेशन के प्रथम स्थापना दिवस पर निरोग उत्सव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर, पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी के मुख्य आतिथ्य में और AIUMB के संस्थापक-अध्यक्ष सय्यद अशरफी (Guest of Honour) की विशेष उपस्तिथि में कोरोना वारियर्स का सम्मान किया गया। किन्नर समाज प्रमुख हाजी ज्योति बाई और हाजी नगीना नायक भी कार्यक्रम की विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थीं। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन और राज्य गीत अरपा पैरी के साथ हुई। सुश्री जयश्री नायर ने अपनी मधुर आवाज़ में राज्य गीत प्रस्तुत किया। जनहित रहमत फाउंडेशन के प्रमुख ऋषभ सोनी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए संस्था के कार्यों, उपलब्धियों और योजनाओं के सन्दर्भ में विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने ने कहा की पिछले एक वर्ष में जनहित रहमत फाउंडेशन अनेक ज़रूरतमंदों की आवाज़ और ताकत बनी है। संस्था के माध्यम से शोषित व्यक्तियों को न्याय दिलाने के पुरज़ोर प्रयास किये गए हैं। मुख्य अतिथि डी एम अवस्थी ने अपने उद्बोधन में जनहित रहमत फाउंडेशन के कार्यों और प्रयासों की सराहना की और संस्था के आगे के कार्यों के लिए शुभकामनाएं दी। श्री अवस्थी ने कहा की समाज का उद्धार हम सबकी ज़िम्मेदारी है और कोरोना काल में इस कर्त्तव्य का पालन और भी ज़रूरी हो गया है। पुलिस महकमा जनता को सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। कोरोना काल में पुलिस कर्मचारियों और अधिकारियों ने दिन-रात अपने कर्त्तव्य का पालन कर जनता को सुरक्षित रखने के प्रयास किये हैं। अब जनता की भी ज़िम्मेदारी है कि कोविड अनुरूप व्यवहार अपना कर अपनी और अपने आस-पास के लोगों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखें। गेस्ट ऑफ़ ऑनर सैय्यद मोहम्मद अशरफ ने भी जनहित रहमत फाउंडेशन के प्रयासों को सराहा और संस्था के बिना किसी भेदभाव के लोगों की मदद करने के जज़्बे को कायम रखने की प्रेरणा दी। श्री अशरफी ने कहा कि कोरोना काल की इस घड़ी में यह आवश्यक है की हम सब अपने भेदभाव भूलकर एकता और समरसता का प्रदर्शन करें। उन्होंने कौमी एकता और परस्पर प्रेम-सम्मान का सन्देश दिया और कहा कि मानव सेवा और दयाभाव परमेश्वर को पाने के सशक्त मार्ग हैं। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती स्मिता शर्मा द्वारा किया गया। इस अवसर पर निम्नलिखित कोरोना वारियर्स का सम्मान किया गया -एएसपी तारकेश्वर , इंस्पेक्टर राकेश ठाकुर, सब-इंस्पेक्टर राणा सिंह ठाकुर, हेड कांस्टेबल पति राम पटेल, कांस्टेबल ढोलमणि भोई, कांस्टेबल विजय बंजारे, , इंस्पेक्टर संजीव मिश्रा, कांस्टेबल इंद्र कुमार पांडे कांस्टेबल बलराज, कांस्टेबल भारत, कांस्टेबल अखिलेश , श्री नेताम, डॉ विकास, सामाजिक कार्यकर्ता दिलीप चौहान, सुश्री भावना झा, संपादक, नवभारत समाचार पत्र। संस्था के सदस्य और किन्नर समाज के प्रतिनिधिगण भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.