Top Story
देश के राष्ट्रीय ध्वज की आन बान और शान के लिए खास रिपोर्ट 07-Aug-2019

आप जो खंबा आप देख रहे हैं इसकी लागत एक करोड़ रुपए है - इस खंभे की देखरेख के लिए प्रतिमाह लगभग डेढ़ लाख रुपए ख़र्च किए जाते हैं - इस खंभे का लोकार्पण 30 अप्रैल 2016 को तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने किया था | *लोकार्पण के समय बताया गया था कि यह देश का सबसे ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज है* यह देश की आन बान के साथ ही छत्तीसगढ़ की पहचान भी बनेगा |

लोकार्पण के बाद से एक करोड़ के इस खंबे पर राष्ट्रीय ध्वज साल भर में मुश्किल से 30 दिन ही फहराता होगा, बाकी दिन यह खंबा राजधानी वासियों , प्रदेश वासियों के अलावा अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों को मुंह चिढ़ाते खड़ा रहता है | हम आपको बता दें कि आज 7 अगस्त 2019 है और लगभग पिछले 3 माह से यह खंबा बिना तिरंगे के यूं ही खड़ा है |

संबंधित विभाग इस खंभे पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए देखरेख पर प्रतिमाह लगभग डेढ़ लाख रुपए खर्च करता आ रहा है | अब सवाल यह उठता है की एक करोड़ के इस खंबे पर राष्ट्रीय ध्वज क्यों नही फहरा रहा ? - ऊपर से बिना राष्ट्रीय ध्वज फहराए संबंधित ठेकेदार कंपनी - मॉनिटरिंग अफसर देखरेख खर्च के नाम पर लाखों रुपए लिए जा रहे हैं क्यों ? -

अधिकारी - जनप्रतिनिधि इस तेलीबांधा तालाब का निरीक्षण करने समय समय पर आते रहते हैं परंतु किसी ने भी बिना राष्ट्रीय ध्वज के खड़े इस खंबे के बारे में कोई संज्ञान नहीं लिया - और ना ही अधिकारियों से सवाल जवाब किया |

आम आदमी चाहे वह स्टूडेंट हो, महिला - पुरुष हों, बुजुर्ग हों देशभक्ति की भावना के साथ इस तेलीबांधा तालाब पर देश के सबसे ऊंचे झंडे, अपने तिरंगे - राष्ट्रीय ध्वज की विशालता को देखने उसे सैल्यूट करने पहुंचते हैं, परंतु उन्हें यहां आकर मायूस होना पड़ता है | खाली खड़े इस एक करोड़ के खंबे को देख कर वापस चले जाते हैं | क्यों नहीं अधिकारी इसपर ध्यान देते ? क्यों नहीं जनप्रतिनिधि इसके लिए दोषी ठेकेदार और अधिकारियों पर सख्त कार्यवाही करते ? क्यों नही जवाबदारों पर जुर्म दर्ज किया जाता ? क्यों बिना वजह ठेकेदार कंपनी को प्रतिमाह भुगतान किया जा रहा है ? -- हम तो यही कहेंगे कि यह भी अधिकारियों और ठेकेदारों की मिलीभगत के साथ उनके आवक का एक साधन मात्र बनकर रह गया है , और देशभक्त नागरिक खाली खंबे को देखकर मन मसोसकर मन ही मन शासन और अधिकारियों को अव्यवस्था के लिए कोसते हुए वापस चले जाते हैं |

क्या यह एक करोड़ का खंबा सिर्फ 15 अगस्त 26 जनवरी या किसी अन्य राष्ट्रीय त्यौहार के वक्त ध्वज फहराने के लिए है ? क्यों नहीं पूरे साल भर इस पर राष्ट्रीय ध्वज लगातार फहराया जाता ? कृपया अपने अपने विचार व्यक्त करें - *देश के सबसे ऊंचे तिरंगे राष्ट्रीय ध्वज की आन बान और शान के लिए सीजी 24 न्यूज़ की खास रिपोर्ट*

More Photo
  • देश के राष्ट्रीय ध्वज की आन बान और शान के लिए खास रिपोर्ट
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.