Top Story
3 प्रदेशों की पुलिस का आपस में टकराव : देश में नया सियासी ड्रामा 06-May-2022
किसी भी प्रदेश की पुलिस अगर किसी आरोपी को दूसरे प्रदेश में गिरफ्तार करने पहुंचती है तो क्या उसे अपहरण माना जाएगा ? दिल्ली में भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा कि पंजाब पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के बाद जो सियासी नाटक शुरू हुआ है हिंदुस्तान में अपने तरह का अनोखा मामला कहा जा सकता है | यहां यह उल्लेख करना भी अति आवश्यक है कि पंजाब में तेजिंदर बग्गा के खिलाफ जुर्म दर्ज हुआ वहां की पुलिस दिल्ली में तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार करने पहुंची, गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस को सूचना दी गई, ( पंजाब पुलिस का कहना है )सूचना देने के बाद पंजाब पुलिस तेजिंदर बग्गा को लेकर पंजाब के लिए रवाना होती है, इस दरमियान सियासी नाटक शुरू हो गया और बीच में आ गई हरियाणा पुलिस, हरियाणा पुलिस ने कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस की टीम को रोक लिया और अपहरण केस बताकर तेजिंदर बग्गा को डिटेन किया और दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया, 3 प्रदेशों की पुलिस आपस में भिड़ गई है, संवैधानिक ता पर कोई बात करना नहीं चाहता सब अपनी बात कर रहे हैं और तीनों प्रदेश की पुलिस अपने आप को सही मान रही है पंजाब पुलिस का कहना है कि f.i.r. के आधार पर हम भाजपा नेता को गिरफ्तार करने आए थे और गिरफ्तार कर कर दिल्ली पुलिस को सूचना देकर ले जा रहे थे, अचानक हरियाणा पुलिस ने बीच में आकर अपहरण का मामला बताकर उन्हें रोक दिया | अब ऐसे में हिंदुस्तान में नए ड्रामे की शुरुआत हो गई है जो भविष्य के लिए खतरनाक साबित हो सकता है | यहां यह भी उल्लेख करना अति आवश्यक है कि विगत दिनों गुजरात से कांग्रेस विधायक को आसाम पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर ले जाया गया था उस दौरान किसी तरह का कोई भी बवाल नहीं हुआ था | दिल्ली के भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी देश में नए बहस की शुरुआत मानी जाएगी |
More Photo
More Video
RELATED NEWS
Leave a Comment.