State News
Previous123456789...543544Next
  • छत्तीसगढ़: प्रदेश में आज शाम तक 14381 कोरोना पॉजिटिव की पहचान, 24 जिलों में सौ से अधिक मरीज़
    रायपुर, 22 अप्रैल। राज्य में आज शाम 6.00 तक 14381 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें सर्वाधिक 2401 अकेले रायपुर जिले के हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक आज शाम तक 24 जिलों में सौ-सौ से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। आईसीएमआर के मुताबिक आज बालोद 376, बलौदाबाजार 646, बलरामपुर 434, बस्तर 172, बेमेतरा 289, बीजापुर 40, बिलासपुर 825, दंतेवाड़ा 41, धमतरी 603, दुर्ग 2109, गरियाबंद 254, जीपीएम 103, जांजगीर-चांपा 681, जशपुर 437, कबीरधाम 234, कांकेर 437, कोंडागांव 100, कोरबा 676, कोरिया 246, महासमुंद 401, मुंगेली 328, नारायणपुर 18, रायगढ़ 783, रायपुर 2401, राजनांदगांव 877, सुकमा 26, सूरजपुर 294, और सरगुजा 550 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों में रात तक राज्य शासन के जारी किए जाने वाले आंकड़ों से कुछ फेरबदल हो सकता है क्योंकि ये आंकड़े कोरोना पॉजिटिव जांच के हैं, और राज्य शासन इनमें से कोई पुराने मरीज का रिपीट टेस्ट हो, तो उसे हटा देता है। लेकिन हर दिन यह देखने में आ रहा है कि राज्य शासन के आंकड़े रात तक खासे बढ़ते हैं, और इन आंकड़ों के आसपास पहुंच जाते हैं, कभी-कभी इनसे पीछे भी रह जाते हैं।
  • मास्क एवं फेसकवर नहीं लगाने वालों को 24 हजार रूपये की जुर्माना

    कलेक्टर  चन्दन कुमार के निर्देशानुसार जिले में सार्वजनिक स्थलों में मास्क अथवा फेसकवर नहीं लगाने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध लगातार चालान की कार्यवाही की जा रही है। शासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार सार्वजनिक स्थानों में मास्क अथवा फेसकवर नहीं लगाने वाले प्रत्येक व्यक्ति से 500 रूपये का चालान वसूला जा रहा है। गत दिवस बुधवार को 48 व्यक्तियों के विरूद्ध चालान की कार्यवाही किया जाकर 24 हजार रूपये की वसूली की गई है। नगरपालिका परिषद कांकेर में 07 व्यक्तियों के विरूद्ध चालान की कार्यवाही कर 03 हजार 500 रूपये की वसूली की गई है। इसी प्रकार नगर पंचायत चारामा में 04 व्यक्तियों से 02 हजार रूपये, नगर पंचायत पखांजूर में 33 व्यक्तियों से 16 हजार 500 रूपये, नगर पंचायत भानुप्रतापपुर में 03 व्यक्तियों से 01 हजार 500 रूपये और नगर पंचायत अंतागढ़ में 01 व्यक्ति के विरूद्ध चालान की कार्यवाही कर 500 रूपये की वसूली की गई है। 

  • आईजी के बयान पर नक्सलियों का पलटवार, कहा हुआ था ड्रोन हमला, मध्यवर्तियों को भेजें सबूत के साथ दिखाएंगे – नक्सली
    बीजापुर । माओवादियों पर ड्रोन हमले का मामला। आईजी पी सुंदरराज के बयान पर माओवादियों के पलटवार। माओवादियों के दक्षिण सब जोनल ब्यूरो ने जारी किया प्रेस नोट और ऑडियो मेसेज। माओवादियों ने कहा- मद्यवर्तीयो को भेजे सरकार,कहां हुआ है ड्रोन हमला,प्रमाण के साथ दिखाएंगे माओवादी। माओवादियों ने बम बारी करने वाले दोनो ड्रोन को मार गिराने किया दावा। माओवादियों के दक्षिण सब जोनल ब्यूरो ने जारी किया प्रेस नोट। सबूत के तौर पर जारी किया मार गिराए गए ड्रोन की तस्वीर।
  • बेमेतरा : लाॅकडाउन के दौरान कुछ सेवाओं मे आंशिक छूट

    बेमेतरा जिले मे 26 अपै्रल 2021 तक लाॅकडाउन घोषित किया गया है इस अवधि के दौरान बैंको को केवल ए.टी.एम. कैश रिफिलिंग एवं कार्यालयीन प्रयोजन हेतु खुलने की अनुमति होगी किन्तु दवा, चिकित्सकीय प्रायोजन एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत संचालित शासकीय उचित मूल्य की दुकान, पेट्रोल पम्प संचालक, गैस एजेंसियों, कैरोसिन डिलर्स एवं अन्य छूट प्राप्त संस्थाओं के संचालन हेतु लेन-देन को छोड़कर अन्य किसी भी प्रकार के लेन-देन हेतु बैंक/शाखा संचालन की अनुमति नही होगी। इस हेतु शाखा प्रबंधक संबंधित व्यक्तियों से विधिवत आवेदन प्राप्त कर अभिलेख संधारित करेंगे।

  • Big Breaking : नक्सलियों ने एक जवान को किया अगवा, एसपी ने की पुष्टि
    बीजापुर। थाना गंगालूर क्षेत्र अंतर्गत पालनार में नक्सलियों ने एक जवान का अपहरण कर लिया है. वर्तमान में बस्तर-जगदलपुर क्षेत्र में जवान पदस्त है. जवान का नक्सलियों तब अपहरण किया जब हो अपने घर पालनार पहुंचा हुआ था. पालनार से नक्सलियों के द्वारा उपनिरीक्षक मुरली ताती का अपहण की खबर के बाद लगातार उसकी छानबीन की जा रही है.
  • ट्रिपल मर्डर : भाभी ने रची साजिश, साले ने साथी के साथ मिलकर कर दी तीनों की निर्मम हत्या, दूसरा आरोपी भी पकड़ाया
    कोरबा । इसकी कल्पना स्वयं मृतक हरीश कंवर ने कभी नहीं की रही होगी कि उसकी अपनी भाभी ही उसके खून की प्यासी हो जाएगी। पहले से बनाए जा रहे मर्डर की योजना को आज तड़के भाभी के इशारे पर उसके भाई ने साथी के साथ मिलकर अंजाम दिया किंतु मामले का बहुत ही कम समय में पर्दाफाश हो गया। मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर सहयोगी की तलाश शुरू की गई। वह जिला छोड़कर भागने की फ़िराक में था उसे जांजगीर-चांपा जिले के थाना नगरदा में पदस्थ 2 आरक्षकों के द्वारा पकड़ कर उरगा पुलिस के हवाले कर दिया गया है। बता दें कि अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री स्वर्गीय प्यारेलाल कंवर के कनिष्ठ पुत्र हरीश कंवर, उनकी पत्नी और पोती की बुधवार तड़के निर्मम हत्या घर पर ही कर दी गई। हरीश का बड़ा भाई हरभजन कंवर तड़के करीब 4 बजे हर दिन की तरह बाड़ी के लिए निकल गया था। उसकी पत्नी मायके ग्राम सलिहाभाठा गई हुई थी। इधर घर में कम देख सकने वाली वृद्धा मां, हरीश कंवर, और उसकी पत्नी सुमित्रा व उनकी पुत्री यशिका रह गए थे । हत्यारों ने इसी बीच घर में घुसकर धारदार हथियार व भारी ठोस वस्तु से हत्या को अंजाम दिया व भाग निकले। हरभजन जब घर लौटा तब रक्त बिखरा देखकर हत्या का पता चला। इसके बाद वहाँ कोहराम मच गया। सूचना मिलते ही मौक़े पर पुलिस के अधिकारी मातहतों, डॉग स्क्वाड, फोरेंसिक एक्सपर्ट के साथ पहुंच गए व आरोपियों की तलाश शुरू हुई। घटनास्थल के बाहर पड़ोसी के सीसीटीवी कैमरे को खंगालने पर दो लोग घर के भीतर घुसते नजर आए। इसी तरह खोजी डॉग बाघा घटनास्थल से करीब 100 मीटर दूर बाजार लगने वाले स्थल पर मौजूद पेड़ के पास जाकर ठहरा और यहां से चीतापाली की ओर जाने वाले मार्ग पर आगे बढ़ा। इस संकेत का पुलिस ने पीछा किया और ग्राम ढोंगदरहा होते हुए सलिहाभांठा-नोनबिर्रा मार्ग तक पहुंचे। सलिहाभाठा डेम में जले हुए कपड़ों के अवशेष मिले जिन्हें जब्त किया गया। पुलिस अधिकारियों के बीच से जानकारी छनकर आई है कि हत्या और हत्यारे की तलाश के मध्य डॉयल 112 को फोन कर इस मार्ग में सड़क दुर्घटना की सूचना दी गई और पहुंचे एम्बुलेंस से परमेश्वर नामक युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस को भी डॉयल 112 के फोन की जानकारी हुई और अंदेशे पर जब आसपास के लोगों से पूछा तो कोई सड़क हादसा होना नहीं बताया। इस आधार पर पुलिस सीधे परमेश्वर के पास अस्पताल पहुंची जिसकी आंख और चेहरे के आसपास जख्म बने थे जो दुर्घटना के नहीं थे। दरअसल अपने बचाव में हरीश कंवर ने हथियार छीनकर हमला किया था जिससे यह चोट लगी थी।परमेश्वर कंवर मृतक हरीश के बड़े भाई हरभजन का सगा साला है ,और कॉलेज में द्वितीय वर्ष का छात्र भी है। उसे हिरासत में लेने के साथ तस्वीरें कुछ साफ हुई। उसने अपने साथी के साथ मिलकर हत्या करना बताया है। उसकी बहन हरभजन की पत्नी की इसमें भूमिका उजागर हुई है। अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक इस पूरे मामले में हरभजन की भी भूमिका को तलाशा जा रहा है कि कहीं संपत्ति और पारिवारिक विवाद में उसने भी अपनी पत्नी का साथ तो नहीं दिया था। बहरहाल पुलिस इस पूरे मामले में अब-तब में खुलासा कर सकती है।
  • किराना सामान एवं सब्जियों को ठेला, मोटर साईकिल, पिकअप वाहन इत्यादि के माध्यम से घर पहुंच सेवा के रूप में बेचने की अनुमति

    जन सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चन्दन कुमार द्वारा जिले के स्ट्रीट वेटरों को किराना सामान, फल एवं सब्जियों को ठेला, मोटर साईकिल, पिकअप वाहन, मिनी ट्रक, ट्राॅलियों के माध्यम से घर पहुंच सेवा के रूप में डोर-टू-डोर विक्रय की अनुमति प्रदान की गई है। जिले के किसी भी किराना व्यवसायी को अपने दुकान का दरवाजा, शटर को दुकान संचालन के लिए खोलने की अनुमति नहीं होगी, बल्कि अपने दुकान के कर्मचारी, डिलीवरी ब्वाॅय के माध्यम से साईकिल, बाइक, पिकअप वाहन, मिनी ट्रक, ट्राॅलियों के माध्यम से घर पहुंच सेवा प्रदाय करने की अनुमति होगी। उक्त कार्यों में प्रयुक्त साईकिल, बाइक या पिकअप वाहन, मिनीट्रक, ट्राॅलियों में स्पष्ट रूप से किराना सामान, फल एवं सब्जियों के ‘‘घर पहुंच सेवा’’ के सम्बंध में बैनर, स्टीकर लगाना अनिवार्य होगा। उपरोक्त छूट केवल फुटकर किराना व्यवसायियों के लिए है। माॅल, बिग बाजार या ई-काॅमर्स स्टोर्स इस हेतु प्रतिबंधित रहेंगे। 
    उपरोक्त अनुमति कोविड-19 नियमों के पालन की शर्तों के अधीन होगा। यह आदेश तत्काल प्रभावशील हो गया है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चन्दन कुमार द्वारा 19 अप्रैल के सायं 06 बजे से 26 अप्रैल के प्रातः 06 बजे तक सम्पूर्ण उत्तर बस्तर कांकेर जिला को कन्टेमेंट जोन घोषित किया गया है। अतः जन सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए उक्त आदेश पूर्व में जारी आदेश के अनुक्रम में प्रतिस्थापित किया गया है। 

  • बीजापुर : स्वास्थ्य विभाग द्वारा पैरामेडिकल स्टाफ की संविदा भर्ती हेतु 24 अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित

    स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैश्विक कोविड महामारी नियंत्रण एवं उपचार के मद्देनजर राज्य आपदा मोचन निधि एवं कोविड कार्यों के लिए प्राप्त मद के अंतर्गत विभिन्न पैरामेडिकल स्टाफ की संविदा भर्ती हेतु इच्छुक पात्र अभ्यर्थियों से 24 अप्रैल 2021 तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया गया है। जिसके तहत लैब टेक्नीशियन के 10 पद, फार्मासिस्ट के 5 पद, स्टॉफ नर्स के 30 पद, डाटा एंट्री ऑपरेटर के 5 पद,वार्ड बॉय के 20 पद, वार्ड आया के 10 पद, वाहन चालक के 5 पद तथा एएनएम के 17 पदों पर आगामी 3 माह की अवधि के लिए संविदा नियुक्ति हेतु कार्यालयीन ई-मेल आईडी sdrfcmhobijapur@gmail.com में ऑनलाइन आवेदन पत्र आमन्त्रित किया गया है। आवेदक को बीजापुर जिले का मूल निवासी होना अनिवार्य है। भर्ती हेतु जारी परिपत्र में दर्शित 16500 रुपये या उससे कम मानदेय वाले पदों के लिए बीजापुर जिले के मूल निवासी अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जावेगी तथा जिले के मूल निवासी अभ्यर्थी उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में अन्य जिले के अभ्यर्थियों को अवसर प्रदान किया जायेगा।भर्ती सम्बन्धी समस्त अंतिम निर्णय लेने का सर्वाधिकार जिला स्वास्थ्य चयन समिति को होगा जो आवेदकों को मान्य होगा। चयनित अभ्यर्थियों को एकमुश्त संविदा मानदेय प्रदान किया जायेगा। संविदा भर्ती सम्बन्धी नियम, योग्यता इत्यादि विस्तृत जानकारी एवं आवेदन पत्र का प्रारूप बीजापुर जिले की वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट बीजापुर डॉट जीओव्ही डॉट इन पर लॉगिन कर देखी जा सकती है।

  • बिलासपुर : नगर विधायक शैलेश पांडेय  ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव से की चर्चा... BiPAP वाले वेंटीलेटर के अधिक उपयोग के दिए सुझाव
    मन्नू मानिकपुरी संवाददाता : बिलासपुर-आईएमए अध्यक्ष डॉ अविजीत रायजादा के नेतृत्व में आईएमए की विशेष टीम ने नगर विधायक शैलेश पांडेय से कोरोना संक्रमण के फैलाव के रोकथाम के संबंध में विस्तृत चर्चा हेतु मुलाकात की एवं आवश्यक तथा महत्वपूर्ण सुझाव दिए। आईएमए के दल जिसमे अविजीत राईज़ादा अभिषेक घात्गे नितिन जुनेजा अखिलेश देओरस पृशन्त द्विवेदी नथाशा सोनी हेमन्त चतृजी विनोद तिवारी शसाँक सिंह शशिकान्त साहू उयिके सभी डॉक्टरो और पूरे आई एम ए के सभी 450 चिकित्सक ने अपनी टीम को भेज कर नगर विधायक को बताया कि वर्तमान में कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार में ऑक्सीजन एवं वेंटीलेटर का उपयोग अत्यधिक करना पड़ रहा है, अस्पतालों में ऑक्सीजन एवं वेंटीलेटर की कमी है, स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन BiPAP वेंटीलेटर के इस्तेमाल से वेंटीलेटर उपयोग में कमी लाई जा सकती है, ये मशीन कोरोना संक्रमित रोगों के इलाज में जीवन रक्षक का कार्य कर रही है इसे कम खर्च में उपयोग में लाया जा सकता है क्या है BiPAP मशीन और कैसे करती है काम...?  आईएमए अध्यक्ष डा अविजित रायजादा के मुताबिक कोरोना के मरीजों के इलाज में BiPAP मशीन का काफी इस्तेमाल किया जा रहा है. इस मशीन का इस्तेमाल फेफड़ों से संबंधित बीमारियों के इलाज के लिए, सांस लेने में दिक्कत महसूस करने पर किया जाता है या जिन मरीजों को रात को सोते समय सांस लेने में समस्या होती है, उनके लिए किया जाता है, यह मशीन फेफड़ों के उस हिस्से तक एयर पहुंचाती है जहां ऑक्सीजन पहुंचने में रुकावट होती है. ये जहां ऑक्सीजन नहीं पहुंच रही वहां दो तरह के ऑक्सीजन प्रेशर फेफड़ों तक पहुंचाती है फेफड़े के सामान्य हिस्से में प्रेशर को कंट्रोल भी करती है कोरोना के समय में इस मशीन का इस्तेमाल उन मरीजों के लिए किया जा रहा है, जिनके फेफड़ें ऑक्सीजन खींचने में पूरी तरह से सक्षम नहीं होते साथ ही उनके लिए भी जिनका Spo2/ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल कम हो जाता है BiPAP मशीन से कोरोना के काफी मरीज ठीक हुए हैं नगर विधायक ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव से की चर्चा समीक्षा बैठक में आईएमए की टीम ने नगर विधायक को विशेष एवं महत्वपूर्ण सुझाव दिए और कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार में BiPAP मशीन के के अत्यधिक उपयोग करने के सुझाव दिए, आईएमए के सुझाव को नगर विधायक ने गंभीरता से लेते हुए प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री टी.एस सिंहदेव देव से फोन पर चर्चा की और सुझाव से अवगत कराया, मंत्री ने कहा कि इसके लिए स्वास्थ्य सचिव से चर्चा कर जल्द ही आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
  • बिलासपुर : कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए...नगर विधायक शैलेश पांडेय के नेतृत्व में एल्डरमैनों ने पार्षद निधि से कलेक्टर को दिए आठ लाख रुपये
    गैस ऑक्सीजन सिलेंडर और वाहन खरीदने के लिए दिया पैसा एल्डरमैनों ने कलेक्टर से कहा- जरूरत पड़ने पर और सहयोग करेंगे बिलासपुर कलेक्टर ने अनुकरणीय पहल करने पर एल्डरमैनों को धन्यवाद दिया मन्नू मानिकपुरी संवाददाता: बिलासपुर-कोरोना के बढ़ते फैलाव को देखते हुए नगर पालिक निगम के एल्डरमैनों ने नगर विधायक शैलेश पांडेय के नेतृत्व में कलेक्टर सारांश मित्तर को अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधा विस्तारीकरण, गैस आक्सीजन सिलेंडर, एम्बुलेंस, शव वाहन एवं अन्य स्वास्थ्य राहत सामग्री खरीदने के लिए पार्षद निधि से 8 लाख रुपये प्रदान किये। कोरोना संक्रमण जिस प्रकार से फैल रहा है उसके कारण स्वास्थ्य सेवा करने वालों को सारी सुविधाएं उपलब्ध कराने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है, जिला अस्पताल, सिम्स, प्रयास एवं चित्रकूट कोविड सेंटर एवं अन्य निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, बेड, दवाई आदि की कमी देखी जा रही है, जिसकी पूर्ति करने का कार्य किया जा रहा है। पार्षद निधि का स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने किया जाएगा खर्च नगर निगम के सभी एल्डरमैनों ने विधायक के नेतृत्व में अपने पार्षद निधि का एक-एक लाख रुपये जिला कलेक्टर कलेक्टर डा सारांश मित्तर एवं नगर निगम आयुक्त अजय कुमार त्रिपाठी को सौंपा, इसमें सभी एल्डरमैनों ने एक स्वर में कहा कि शहर में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी, एंबुलेंस एवं शव वाहन की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए कलेक्टर एवं आयुक्त को क्रय करने का आग्रह किया गया है, एवं सभी ने कलेक्टर एवं विधायक से कहा कि आगे भी बिलासपुर की जनता को हर संभव सहयोग करने के लिए पार्षद निधि का उपयोग किया जाएगा। कलेक्टर ने अनुकरणीय पहल करने पर एल्डरमैनों को धन्यवाद दिया जिला कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर ने विधायक सहित सभी एल्डरमैनों को इस अनुकरणीय प्रयास एवं पहल के लिए आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया है अपने अपने वार्डो में जनता की कर रहे सेवा ज्ञात हो कि विधायक शैलेश पांडेय के नेतृत्व में निगम के अनुभवी एवं वरिष्ठ एल्डरमैन शैलेन्द्र जायसवाल, काशी रात्रे, दीपांशु श्रीवास्तव, अखिलेश गुप्ता बंटी, सुरेश सोनकर, अजरा खान, सुबोध केसरी, श्याम लाल चंदानी, जिला कलेक्टर से मुलाकात कर पार्षद निधि सौंपी, साथ ही अपने-अपने वार्डों में शहर की जनता को हर आपातकालीन सेवा एवं सहयोग प्रदान कर रहे हैं, इसमें मरीजों को अस्पतालों में भर्ती, ऑक्सीजन की उपलब्धता, चिकित्सीय सहयोग एवं वाहन का सहयोग भी किया जा रहा है दिपांशु श्रीवास्तव की पहल पर आगे आए एल्डरमैन कुछ महीनों पूर्व एल्डरमैन दीपांशु श्रीवास्तव के पिता दिलीप श्रीवास्तव का कोरोना संक्रमित होने के कारण निधन हुआ था, दीपांशु श्रीवास्तव की पहल पर सभी एल्डरमैनों ने अपनी निधि से बिलासपुर की जनता को कोरोना महामारी के कठिन दौर से निकालने के लिए सेवा कर रहे हैं, नगर विधायक ने पार्षदों और एल्डरमैनों को आगे आकर मदद करने की अपील विधायक श्री पांडेय ने सभी एल्डरमैनों का आभार एवं धन्यवाद प्रेषित किया है एवं अपील की है कि शेष एल्डरमैन और पार्षद अपनी - अपनी निधि से कोरोना संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए प्रशासन को सहयोग प्रदान करने आगे आए।
  • रेलवे के आइसोलेशन कोच कोरोना मरीजों के इलाज के लिए संचालित करें -सीएमएचओ ने लिखा डीआरएम को पत्र

    जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने डीआरएम रायपुर को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने रेलवे के आइसोलेशन कोच कोरोना मरीजों के इलाज के लिए संचालित कराने कहा है ताकि रेलवे कर्मचारियों के लिए एवं उनके परिजनो तथा अन्य कोविड मरीजों के लिए इलाज के लिए सुविधा उपलब्ध हो सके। सीएमएचओ ने अपने पत्र में लिखा है कि आइसोलेशन कोच में ऑक्सीजन बेड के साथ ही मेडिकल स्टाफ की सुविधा भी उपलब्ध कराएं ताकि कोरोना मरीजों को उचित इलाज मिल सके। उल्लेखनीय है कि दुर्ग जिले में रेलवे का बड़ा स्टॉफ़ निवास करता है साथ ही इनके परिजन भी काफी संख्या में है आइसोलेशन कोच आरंभ हो जाने से मरीजों को बड़ी राहत मिलेगी।

  • आज रिकॉर्ड 5736 सैंपल लिए गए,  इनमें 1680 पॉजिटिव आए - पहली बार संक्रमण 30 फ़ीसदी से नीचे

    जिले के लिए आज के कोरोना आंकड़े संक्रमण के रोकथाम को लेकर सकारात्मक संदेश दे रहे हैं। आज रिकॉर्ड 5736 मरीजों के सैंपल लिए गए इनमें 1680 मरीजों का पॉजिटिव आया है। इनमें इस तरह संक्रमण की दर 29 फीसदी दर्ज की गई है उल्लेखनीय है कि संक्रमण की दर 10 अप्रैल को 56 फीसदी तक पहुंच गई थी।इस लिहाज से आज के आंकड़े काफी महत्वपूर्ण है। उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन लगने के बाद हर दिन लगभग 4000 सैंपल लिए जा रहे हैं आज साढ़े पांच हजार से अधिक सैंपल लिए गए और इसमें 1680 मरीज पॉजिटिव आए हैं। पॉजिटिव मरीजों की संख्या में गिरावट इस बात का संकेत है कि जिले में लॉकडाउन का असर संक्रमण पर हो रहा है। लॉक डाउन की वजह से कोरोना की गतिशीलता थमी है और धीरे-धीरे संक्रमण घट रहा है उल्लेखनीय है कि एंटीजन रिपोर्ट में भी इस बात के संकेत मिले हैं पहले एंटीजन रिपोर्ट में 48% तक पॉजिटिविटी दर्ज की गई थी जो कि काफी नीचे आ चुकी है।

Previous123456789...543544Next