Top Story
  • रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में दो पायलट की मौत
    राजधानी रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर हेलीकॉप्टर हादसे में 2 पायलट की मौत हो गई है जानकारी के अनुसार हेलीकॉप्टर लैंड के समय फ्रेश हो गया | इस हेलीकॉप्टर क्रैश दुर्घटना में कैप्टन गोपालकृष्ण पांडा और कैप्टन एपी श्रीवास्तव की मौत की खबर की पुष्टि हुई है | स्टेट हैंगर में हुई इस दुर्घटना से किसी भी फ्लाइट पर कोई असर नहीं पड़ा है , परंतु सावधानी वश एयरपोर्ट पर सभी तरह के हवाई आवागमन को रोक दिया गया है | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने ट्विटर हैंडल पर इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए सुरक्षा संबंधी सभी जानकारियां ली है और आवश्यक सावधानियों सहित सुरक्षा के सभी इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं | यहां यह भी उल्लेख करना अति आवश्यक है कि रायपुर एयरपोर्ट में यह पहली दुर्घटना है |
  • निलंबित एडीजी जीपी सिंह की जमानत मंजूर  - रिहाई पर संशय!

    एडीजी जीपी सिंह को हाई कोर्ट से सशर्त जमानत 

     4 महीनों से जेल में है बंद

    आय से अधिक संपत्ति मामले में लगभग 4 महीनों से गिरफ्तार आइपीएस एडीजी जीपी सिंह को बिलासपुर हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है। कोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दी है। उल्लेखनीय है कि निचली अदालतों के बाद हाईकोर्ट ने भी निलंबित एडीजी जीपी सिंह के जमानत आवेदन को नामंजूर कर दिया था | हाई कोर्ट से जमानत नहीं मिल पाने के कारण जीपी सिंह को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा था, इस पर सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट को जमानत याचिका पर शीघ्र सुनवाई करने का आदेश दिया था। जीपी सिंह गिरफ्तारी के बाद करीब 4 महीनों से जेल में बंद है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में गिरफ्तार आइपीएस जीपी सिंह को हाई कोर्ट ने सशर्त जमानत इओडब्ल्यू की टीम ने उन्हें नोएडा उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया था।

  • इंदौर और चंडीगढ़ के शैक्षणिक दौरे से लौट कर महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकारों से साझा की वहां की विशेषताएं

    इंदौर में ठेका प्रथा नहीं है - एनजीओ के द्वारा होता है घरों से कचरा कलेक्शन

     फ्लैक्स मुक्त शहर है इंदौर पुलिस से ज्यादा डर लोगों को निगम का है

    *शैक्षणिक दौरे से लौट कर महापौर एजाज ढेबर की पत्रकार वार्ता* 

     

    राजधानी रायपुर के महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकार वार्ता में नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे एवं सभी 70 पार्षदों के साथ इंदौर की साफ सफाई व्यवस्था के साथ-साथ चंडीगढ़ के मोहाली की साफ सफाई व्यवस्था के बारे में मीडिया को जानकारी दी | महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि : - इंदौर में ठेका प्रथा नहीं है एनजीओ के द्वारा होता है घरों से कचरा कलेक्शन 6 तरह के कचरों का इंदौर में होता है कलेक्शन गीले कचरे से गैस बनाई जा रही है एनजीओ की अहम भूमिका है आवारा पशु सड़कों पर नहीं दिखते साफ सफाई के मामले में लोगों द्वारा नियमों का उल्लंघन करने पर आयुक्त किसी की सिफारिश नहीं सुनते चाहे मुख्यमंत्री का ही फोन आ जाए - यूजर चार्ज नियमित लिया जा रहा है फ्लैक्स मुक्त शहर है इंदौर पुलिस से ज्यादा डर लोगों को निगम का है

     

    महापौर एजाज ढेबर ने कहा , इंदौर चंडीगढ़ और मोहाली के दौरे पर गया था..आखिर इंदौर क्यों पहले नंबर पर आता है..इंदौर में तीन टाइम सफाई होती है..वहां की सफाई को मैंने समझा.. हमारी अधिकारिकरियों की टीम भी गई थी, वहां 19 जोन है..85 वार्ड हैं..600 कचरा गाडियां है.. 23 मकैनिस्ज़ स्वीपिंग सफाई गाडियां हैं.. रायपुर में केवल गीला और सूखा कचरा के बारे में पता है..जबकि इंदौर में 6 प्रकार के कचरे का कलेक्ट करते हैं...कचरे के निष्पादन वाली जगह का भी हमने निरीक्षण किया.. वहां ठेका प्रथा नहीं है.. निगम स्वयं सफाई कार्य करती है..घर से डोर टू डोर कचरा निकाला जाता है..वहां के NGO खुद गाड़ी में बैठकर जाते हैं कचरा कलेक्ट करने... सेगरिकेशन में सूखे कचरे के लिए बेहतरीन प्लांट वहां बना हैं.. एक यूनिट है जिसमें साढ़े 3 तीन सौ महिलाएं काम करती है...इंदौर में 100 परसेंट कचरों का निष्पादन हो रहा है : एक घर में एक ही गाय रखने का प्रावधान है.. डेरिया शहर से बाहर हैं. वहां यूजर चार्ज भी बराबर लिया जाता है..फ्लैक्स वार रायपुर शहर में काफी हावी है.. महापौर ने खुद के ऊपर लेकर कहा कि अगर मेरा जन्मदिन होता है तो 8-10 दिन पहले फ्लैक्स लगना शुरू हो जाता है.. वहां अनुमति लेकर फ्लेक्स लगाए जाते हैं और 5 दिन में उतार दिए जाते हैं | वहां पुलिस से ज्यादा डर निगम से लोगों को रहता है..रायपुर शहर में भी हम कर सकते हैं..रायपुर शहर को नंबर 1 में लाना है..केंद्र से 40-50 करोड़ रुपये मिल जाये से तो हम भी बहुत बेहतर कर सकते है.. मोहाली दौरे के बारे में बताते हुए महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि मोहाली में 800 गार्डन है.. मोहाली की जनसंख्या 2 लाख है..गार्डन में गिरने वाले पत्ते से खाद बनाते हैं चंडीगढ़ में..देश में सबसे ज्यादा अगर कहीं गार्डन है तो तो चंडीगढ़ में है..वहां 1800 गार्डन है.. जब महापौर से पूछा गया कि क्या रायपुर नगर निगम को भी ठेका प्रथा मुक्त किया जाएगा तो उन्होंने कहा की ठेका प्रथा मुक्त करने को लेकर रायपुर के सभी पार्षदों से चर्चा की जाएगी..2-3 महीने में रायपुर में बदलाव नजर आएगा | बाहर हाल में देखने वाली बात यह है कि लाखों रुपए के खर्च से किया गया शैक्षणिक दौरा सिर्फ मनोरंजन तक ही सीमित रहता है या फिर धरातल पर कुछ कार्य नजर आएगा !

  • हमें लॉकअप में परेशान किया गया. हमें 20 फुट नीचे गाड़ने की बात कही गई.-नवनीत राणा

    महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा आज यानी सोमवार को दिल्ली पहुंच रही हैं. रवानगी से पहले नवनीत राणा ने मुंबई में पत्रकारों से बात करते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ठाकरे किसी के काम नहीं हैं. हमें लॉकअप में परेशान किया गया. हमें 20 फुट नीचे गाड़ने की बात कही गई.

    नवनीत राणा ने कहा कि आज में दिल्ली जा रही हूं. मैंने कोर्ट के किसी भी आदेश का उल्लंघन नहीं किया है. अगर लोकप्रतिनिधि के साथ इस तरह का व्यवहार होता है तो सोचिए आम लोगों के साथ क्या होता है. उन्होंने आगे कहा कि गृह मंत्री अमित शाह से मिलूंगी. जेल में अपने ऊपर हुए अत्याचार को लेकर बात करूंगी. उद्धव ठाकरे हमें सिद्धांतो का पाठ ना पढ़ाएं. बता दें कि नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा आज दोपहर 12 बजे दिल्ली पहुंचेंगे. दिल्ली आने के बाद वे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलने का वक्त लेंगे. वे गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाक़ात का समय मांगेंगे.

    लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को नवनीत राणा पहले ही शिकायत भेज चुकी हैं. उस शिकायत पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने महाराष्ट्र सरकार और केंद्रीय गृह मंत्रालय से नवनीत राणा की गिरफ़्तारी के दौरान हुई बदसलूकी का नोटिस जारी किया था. अब इस मामले पर संसद की विशेषाधिकार समिति की बैठक 23 मई को बुलाई है. बैठक में अमरावती सांसद नवनीत राणा को बयान देने के लिए बुलाया है.

    बता दें कि नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा गुरुवार को जेल से रिहा हुए. राणा दंपति को निचली अदालत ने बुधवार को जमानत दी थी. दोनों को 23 अप्रैल को खार पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124 (ए) (राजद्रोह) और 153 (ए) (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) के तहत गिरफ्तार किया था.

     

     

    नवनीत राणा और रवि राणा ने घोषणा की थी कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास ‘मातोश्री’ के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. उनकी घोषणा के बाद ठाकरे की पार्टी शिवसेना के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए, जिससे तनाव पैदा हो गया. 

  • 3 प्रदेशों की पुलिस का आपस में टकराव : देश में नया सियासी ड्रामा
    किसी भी प्रदेश की पुलिस अगर किसी आरोपी को दूसरे प्रदेश में गिरफ्तार करने पहुंचती है तो क्या उसे अपहरण माना जाएगा ? दिल्ली में भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा कि पंजाब पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के बाद जो सियासी नाटक शुरू हुआ है हिंदुस्तान में अपने तरह का अनोखा मामला कहा जा सकता है | यहां यह उल्लेख करना भी अति आवश्यक है कि पंजाब में तेजिंदर बग्गा के खिलाफ जुर्म दर्ज हुआ वहां की पुलिस दिल्ली में तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार करने पहुंची, गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस को सूचना दी गई, ( पंजाब पुलिस का कहना है )सूचना देने के बाद पंजाब पुलिस तेजिंदर बग्गा को लेकर पंजाब के लिए रवाना होती है, इस दरमियान सियासी नाटक शुरू हो गया और बीच में आ गई हरियाणा पुलिस, हरियाणा पुलिस ने कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस की टीम को रोक लिया और अपहरण केस बताकर तेजिंदर बग्गा को डिटेन किया और दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया, 3 प्रदेशों की पुलिस आपस में भिड़ गई है, संवैधानिक ता पर कोई बात करना नहीं चाहता सब अपनी बात कर रहे हैं और तीनों प्रदेश की पुलिस अपने आप को सही मान रही है पंजाब पुलिस का कहना है कि f.i.r. के आधार पर हम भाजपा नेता को गिरफ्तार करने आए थे और गिरफ्तार कर कर दिल्ली पुलिस को सूचना देकर ले जा रहे थे, अचानक हरियाणा पुलिस ने बीच में आकर अपहरण का मामला बताकर उन्हें रोक दिया | अब ऐसे में हिंदुस्तान में नए ड्रामे की शुरुआत हो गई है जो भविष्य के लिए खतरनाक साबित हो सकता है | यहां यह भी उल्लेख करना अति आवश्यक है कि विगत दिनों गुजरात से कांग्रेस विधायक को आसाम पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर ले जाया गया था उस दौरान किसी तरह का कोई भी बवाल नहीं हुआ था | दिल्ली के भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी देश में नए बहस की शुरुआत मानी जाएगी |
  • रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार अनेक यात्री ट्रेनें रद्द - रेल प्रशासन यात्रियों को होने वाली असुविधा के लिए खेद व्यक्त करता है
    *रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार कुछ गाड़ियो को रद्द किया जा रहा है* *रायपुर रेल मंडल में कुछ गाड़ियों का परिचालन प्रभावित* रायपुर:- 04 मई, 2022 रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार कुछ गाड़ियो को रद्द किया जा रहा है । इस के फलस्वरूप कुछ यात्री गाड़ियों का परिचालन प्रभावित रहेगा । जिसका विवरण इस प्रकार हैः- *रद्द होने वाली एक्सप्रेस गाडियां* 1) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक बिलासपुर एवं भोपाल से रवाना होने वाली गाडी संख्या 18236/18235 बिलासपुर-भोपाल -बिलासपुर एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 2) दिनांक 05 से 23 मई, 2022 तक बिलासपुर से रवाना होने वाली गाडी संख्या 18247 बिलासपुर –रीवा एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 03) दिनांक 06 से 24 मई, 2022 तक रीवा से रवाना होने वाली गाडी संख्या 18248 रीवा - बिलासपुर एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 04) दिनांक 05 से 23 मई, 2022 तक जबलपुर से रवाना होने वाली गाडी संख्या 11265 जबलपुर- अम्बिकापुर एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 05) दिनांक 06 से 24 मई, 2022 तक अम्बिकापुर से रवाना होने वाली गाडी संख्या 11266 अम्बिकापुर-जबलपुर एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 06) दिनांक 09 एवं 16 मई, 2022 को नांदेड से रवाना होने वाली गाडी संख्या 12767 नांदेड- - संतरागाछी एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 07) दिनांक 11 एवं 18 मई, 2022 को संतरागाछी से रवाना होने वाली गाडी संख्या 12768 संतरागाछी- नांदेड एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 08) दिनांक 11 एवं 18 मई, 2022 को रानी कमलापति से रवाना होने वाली गाडी संख्या 22169 रानी कमलापति - संतरागाछी एक्सप्रेस रद्द रहेगी । 09) दिनांक 12 एवं 19 मई, 2022 को संतरागाछी से रवाना होने वाली गाडी संख्या 22170 संतरागाछी-रानी कमलापति एक्सप्रेस रद्द रहेगी । *रद्द होने वाली मेमू गाडियां* 01) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक बिलासपुर एवं रायगढ़ रवाना होने वाली गाडी संख्या 08738/08737 बिलासपुर –रायगढ़ – बिलासपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 02) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक बिलासपुर एवं शहडोल रवाना होने वाली गाडी संख्या 08740/08739 बिलासपुर –शहडोल – बिलासपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 03) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक रायपुर से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08705 रायपुर -डोंगरगढ़ मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 04) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक डोंगरगढ़ से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08706 डोंगरगढ़- रायपुर- बिलासपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 05) दिनांक 05 से 23 मई, 2022 को रायपुर से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08709 रायपुर - डोंगरगढ़- मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 06) दिनांक 06 से 24 मई, 2022 को डोंगरगढ़ से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08709 डोंगरगढ़- रायपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 07) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक इतवारी से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08754 इतवारी – रामटेक मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । 08) दिनांक 05 से 24 मई, 2022 तक रामटेक से रवाना होने वाली गाडी संख्या 08755 रामटेक- नागपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल रद्द रहेगी । रेल प्रशासन यात्रियों को होने वाली असुविधा के लिए खेद व्यक्त करता है तथा सहयोग की आशा करता है । पीआर/आर/35
  • सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा को मिली जमानत

    अमरावती की निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके पति निर्दलीय विधायक रवि राणा को मुंबई की अदालत ने जमानत दे दी है लगभग 10 दिनों बाद राणा दंपति जेल से बाहर आएंगे | उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निवास के सामने हनुमान चालीसा पढ़ने का बयान जारी करने के कारण उत्पन्न विवाद के कारण दोनों को महाराष्ट्र पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था v|

  • भगवंत मान सरकार ने सिखों के इतिहास की गलत जानकारी देने वाली तीन किताबों पर बैन लगा दिया है.

    12वीं कक्षा की किताब में पंजाब के इतिहास में सिखों के इतिहास से जुड़े गलत तथ्य पेश किए गए थे. मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देश पर लेखकों और प्रकाशकों के खिलाफ कार्रवाई करने और किताबों के इस्तेमाल पर रोक लगाने के आदेश जारी किए गए हैं.'' 

    क्या बोले पंजाब के शिक्षा मंत्री ?

    पंजाब के शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार का प्रमुख उद्देश्य छात्रों को अच्छी शिक्षा प्रदान करना और उन्हें सिख गुरुओं के इतिहास, सिख जगत और पंजाब से अवगत कराना है. इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी के लहरा से विधायक बरिंदर कुमार गोयल ने कहा की 2017 से 12वीं क्लास की किताबों में कुछ लिखा गया था जो सही नहीं था.

    हमारी सरकार ने जांच कमेटी बनाई और जांच में किताबों में लिखा जानकारी गलत पाई गई हमने कार्रवाई करते हुए इस किताब को बैन कर दिया.  शिक्षा मंत्री ने कहा कि इन किताब के लेखकों पर भी कार्यवाही की जाएगी. पुरानी सरकार ने कभी इन पर ध्यान नहीं दिया हमारी सरकार इंकलाबी फैसले ले रही है.

  • गुरुद्वारों में जाना, सेवा में समय देना, लंगर पाना, सिख परिवारों के घरों पर रहना, ये मेरे जीवन का हिस्सा रहा है.

    पीएम मोदी ने अपने आवास पर सिख प्रतिनिधिमंडल (Sikh Delegation) की मेजबानी की.

    गुरुद्वारों में जाना, सेवा में समय देना, लंगर पाना, सिख परिवारों के घरों पर रहना, ये मेरे जीवन का हिस्सा रहा है.

    इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि गुरुद्वारों में जाना, सेवा में समय देना, लंगर पाना, सिख परिवारों के घरों पर रहना, ये मेरे जीवन का हिस्सा रहा है. यहां प्रधानमंत्री आवास में भी समय-समय पर सिख संतों के चरण पड़ते रहते हैं. उनकी संगत का सौभाग्य मुझे मिलता रहता है.

    पीएम मोदी ने कहा, ''हमारे गुरुओं ने हमें साहस और सेवा की सीख दी है. दुनिया के अलग अलग हिस्सों में बिना किसी संसाधन के हमारे भारत के लोग गए, और अपने श्रम से सफलता के मुकाम हासिल किए. यही स्पिरिट आज नए भारत की भी है.''

    उन्होंने कहा, ''नया भारत नए आयामों को छू रहा है, पूरी दुनिया पर अपनी छाप छोड़ रहा है. कोरोना महामारी का ये कालखंड इसका सबसे बड़ा उदाहरण है. महामारी की शुरुआत में पुरानी सोच वाले लोग भारत को लेकर चिंताएं जाहिर कर रहे थे. लेकिन, अब लोग भारत का उदाहरण दे रहे हैं.''

    प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले कहा जा रहा था कि भारत की इतनी बड़ी आबादी, भारत को कहाँ से वैक्सीन मिलेगी, कैसे लोगों का जीवन बचेगा? लेकिन आज भारत वैक्सीन का सबसे बड़ा सुरक्षा कवच तैयार करने वाला देश बनकर उभरा है.

     

    <div class="section uk-padding-small uk-flex uk-flex-center uk-flex-middle" style="margin: 0px; padding: 15px; box-sizing: border-box; display: flex; justify-content: center; align-items: center; font-family: Cambay, " noto="" sans",="" "hind="" siliguri",="" vadodara",="" "baloo="" paaji="" 2",="" sans-serif;="" font-size:="" 20px;="" background-color:="" rgb(255,="" 255,="" 255);"="">

     

     

     

    पीएम मोदी ने कहा, ''हमारे भारतीय डायस्पोरा को तो मैं हमेशा से भारत का राष्ट्रदूत मानता रहा हूं. आप सभी भारत से बाहर, मां भारती की बुलंद आवाज हैं, बुलंद पहचान हैं. भारत की प्रगति देखकर आपका भी सीना चौड़ा होता है, आपका भी सिर गर्व से ऊंचा होता है.''

    उन्होंने कहा कि हमारे गुरुओं ने लोगों को प्रेरणा दी, अपनी चरण रज से इस भूमि को पवित्र किया. इसलिए, सिख परंपरा वास्तव में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की जीवंत परंपरा है.

    प्रधानमंत्री ने कहा कि लंगर को टैक्स फ्री करने से लेकर, हरमिंदर साहिब को FCRA की अनुमति तक, गुरुद्वारों के आसपास स्वच्छता बढ़ाने से लेकर उन्हें बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर से जोड़ने तक, देश आज हर संभव प्रयास कर रहा है.

    बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी कुछ समय से थोड़े थोड़े अंतराल पर सिख समुदाय के लोगों से मिल रहे हैं. उन्होंने नौवें सिख गुरु तेग बहादुर की स्मृति में हाल ही में लाल किले पर आयोजित एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया था.

  • press clube raipur पत्रकारों को मिलने वाले आवास अपात्रों को : घोटाले का बड़ा खुलासा

    *पत्रकारों को मिलने वाले आवास का प्रेस क्लब ने किया घोटाला*

    *राजधानी में पत्रकारों के लिए आवास की योजना में हुआ बड़ा घपला*

    *प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत राजधानी के पत्रकारों को मिलने वाले मकानों पर प्रेस क्लब के कुछ लोगों ने मिलकर किया गोलमाल * *पत्रकारों के लिए आवंटित होने वाले आवास प्रेस क्लब के पदाधिकारियों द्वारा फर्जी पत्रकारों को आवंटित किए जाने का मामला हाई कोर्ट तक पहुंचा था*

     

    शिकायतकर्ता नितिन लॉरेंस ने बताया कि पत्रकारों को मिलने वाले आवास स्थानीय प्रेस क्लब के पदाधिकारियों द्वारा अपात्र लोगों को बांटने का काम किया गया है नितिन लॉरेंस ने कहा की सूचना के अधिकार के तहत उन्होंने संपूर्ण दस्तावेज एकत्रित कर मामला हाईकोर्ट में लगाया था जहां पर माननीय न्यायालय ने सुनवाई करते हुए इस पर लिबर्टी देते हुए राजधानी के सक्षम अधिकारियों के पास शिकायत करने की बात कही, माननीय न्यायालय के आदेश पर नितिन लॉरेंस ने लोक आयोग छत्तीसगढ़, नगर निगम कमिश्नर, कलेक्टर रायपुर को लिखित शिकायत कर कार्यवाही की मांग की | दस्तावेजों में हेरफेर, फर्जी शपथ पत्र और नियम विरुद्ध रायपुर प्रेस क्लब द्वारा अपात्र फर्जी पत्रकारों के आवेदन लेकर अनुशंसा कर नगर निगम से आवास आवंटित करने की प्रक्रिया को शिकायत कर्ता ने नियम विरूद्ध माना है | प्रेस क्लब की अनुशंसा के आधार पर नगर निगम ने सभी आवेदनों को स्वीकृत करते हुए बीएसयूपी के मकान आवंटित कर दिए | यहां यह उल्लेख करना अति आवश्यक है की पत्रकार कोटे से जिन लोगों ने मकान लिए हैं उनमें से अधिकांश लोग पत्रकार है ही नहीं, फर्जी शपथ पत्र देकर उन्होंने अपने आप को पत्रकार घोषित किया है और जिसे प्रेस क्लब ने प्रमाणित भी किया है | नितिन लारेंस ने आरोप लगाया है कि प्रेस क्लब अध्यक्ष समेत अन्य पदाधिकारियों ने पैसे लेकर ऐसे लोगों के आवेदन को सत्यापित किया है | निगमायुक्त ने शिकायत पर जांच करने का आदेश सभी जोन कमिश्नर को पत्र के माध्यम से जारी किया था जिस पर किसी भी जोन कमिश्नर ने समय अवधि के अंदर जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं की, जिससे नाराज होकर निगम कमिश्नर ने 22 अप्रैल 2022 को अपने अधीन सभी जोन कमिश्नरों को चेतावनी देते हुए 7 दिनों के अंदर रिपोर्ट प्रस्तुत करने की बात कही है |

    CG 24 News

    सूचना के अधिकार से प्राप्त दस्तावेजों को गंभीरता से जांच करने पर या स्पष्ट होता है कि लगभग सभी आवेदन कर्ताओं पर झूठा शपथ पत्र, झूठा पत्रकार कार्ड, झूठे आय प्रमाण पत्र के साथ-साथ अनेक लोगों के नाम से 2 से 3 आवास एक ही नाम से लेने एवं समृद्ध शाली होने के बावजूद अपने आप को गरीबी रेखा से नीचे बताने के आरोप में जुर्म दर्ज करने की कार्यवाही की जा सकती है | शिकायतकर्ता नितिन लॉरेंस ने पुलिस अधीक्षक से मांग की है कि फर्जी सत्यापन करने के आरोप में प्रेस क्लब अध्यक्ष पर अपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए साथ ही संबंधित फर्जी आवेदकों पर भी गंभीर धाराओं के तहत जुर्म दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए | पत्रकारों के लिए आवंटित होने वाले आवास घोटाले का खुलासा करने वाले शिकायतकर्ता नितिन लॉरेंस का कहना है कि नगर निगम के अधिकारीयों ने भी बिना सत्यापन किए प्रेस क्लब के सत्यापन को सही मानते हुए मकान आवंटित किए हैं इसलिए नगर निगम के संबंधित अधिकारियों पर भी घोटाले में सहयोग करने के लिए जुर्म दर्ज कर कार्रवाई की जानी चाहिए | यहां सवाल यह उठता है कि लाखों की तनख्वाह लेने वाले अधिकारी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन क्यों नहीं करते जो खामियां आम आदमी को नजर आती हैं वह अधिकारियों को नजर क्यों नहीं आती जबकि वे इसी बात की तनख्वाह लेते हैं | यहां यह उल्लेख करना भी जरूरी है कि अपने आप को आवास हीन बताकर मकान लेने वाले पत्रकारों मैं से अधिकांश लोगों ने अपने मकानों को किराए पर दे दिया है जबकि अन्य लोगों ने वहां रहना शुरू नहीं किया है | किस-किस मकान में कौन-कौन किराएदार रहता है ?इसकी पूरी सूची शिकायतकर्ता ने नगर निगम को उपलब्ध कराई है | संबंधित विभागों के मंत्रियों को चाहिए कि वे स्वयं संज्ञान लेकर अधिकारियों की लापरवाही उनके भ्रष्टाचार घोटालों की सप्रमाण जानकारी देने वालों को अधिकारियों की तनख्वाह से पैसे काट कर घोटालों की पोल खोलने वाले पत्रकारों एवं आम नागरिकों को राशि दें ताकि अधिकारी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन पूरी सजगता से करें | अब देखने वाली बात यह है कि आवास घोटाला उजागर होने के बाद विभाग के मंत्री, अधिकारी कब तक आवासों के आवंटन को निरस्त कर फर्जी पत्रकारों एवं किरायेदारों को बेदखल कर बीएस यूपी योजना के तहत एवं प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पत्रकार कोटे के आवंटित किए गए आवासों को अपने कब्जे में लेकर घोटाला करने वालों पर कार्यवाही करते है |

  • श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी को फहमीदा खान द्वारा प्रधानमंत्री निवास के सामने सड़क पर पढ़ने के आव्हान की निंदा - सिक्ख समाज

    एनसीपी नेता मुंबई की फहमीदा खान द्वारा प्रधानमंत्री के बंगले के सामने नमाज, हनुमान चालीसा, श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी का पाठ करने की अनुमति मांगी है |

    छत्तीसगढ़ सिक्ख समाज ने फहमीदा खान द्वारा श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी को लेकर प्रधानमंत्री निवास के सामने सड़क पर पढ़ने के आव्हान की निंदा की है |

    छत्तीसगढ सिक्ख समाज का कहना है कि हमारा समाज इस तरह श्री गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगा | 

     

     

    एक नेतागिरी करने वाली महिला द्वारा सिख समाज के गुरु को इस तरह अपनी राजनीति के लिए सड़कों पर उपयोग करने की इजाजत कतई नहीं दी जाएगी |

    छत्तीसगढ़ सिख समाज इस संबंध में अति शीघ्र फहमीदा खान के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराएगा कि उन्होंने सिख समाज के गुरु - धर्म ग्रंथ के बारे में इस तरह का बयान क्यों जारी किया ?

    छत्तीसगढ़ सिक्ख समाज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी अपील की है कि इस तरह किसी की धार्मिक भावनाओं के खिलाफ उनकी इच्छा के खिलाफ अपनी मर्जी से धर्म ग्रंथ इस तरह सड़कों पर लाकर पठन-पाठन करना कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और ऐसी घोषणा करने वालों के ऊपर संविधान की संबंधित धाराओं के तहत तुरंत कार्यवाही की जाना चाहिए ताकि भविष्य में अन्य कोई व्यक्ति या महिला इस तरह सिक्ख समाज के पवित्र धर्म ग्रंथ को सड़कों पर लाकर राजनीति करने का प्रयास ना करें |

  • पाकिस्तान से डिग्री हासिल करने वाले छात्रों को भारत में रोजगार के अवसर नहीं दिए जाएंगे

    सभी भारतीय छात्रों को सलाह - उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पाकिस्तान ना जाएं

    पाकिस्तान से भारत आए शरणार्थी और भारत की नागरिकता प्राप्त उनके बच्चों को इस पाबंदी से छूट

     

     

    पाकिस्तान से डिग्री हासिल करने वाले छात्रों को भारत में रोजगार के अवसर नहीं दिए जाएंगे. UGC (विश्वविद्यालय अनुदान आयोग) और AICTE (अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद) ने ताज़ा नोटिफिकेशन जारी करते हुए जानकारी दी है कि पाकिस्तान में ली गई शैक्षणिक डिग्री से भारत में उच्च शिक्षा में दाखिला नही मिलेगा. साथ ही रोज़गार के अवसर के लिए भी ऐसे छात्र योग्य नहीं माने जाएंगे. यहां बात किसी एक डिग्री की नही बल्कि किसी भी डिग्री को लेकर की गई है. पब्लिक को दिए गए नोटिस के अनुसार "सभी भारतीय छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पाकिस्तान ना जाएं".

    पाकिस्तान से हायर एजुकेशन ना लेने की सलाह

    हालांकि पाकिस्तान से भारत आए शरणार्थी और भारत की नागरिकता प्राप्त उनके बच्चों को इस पाबंदी से छूट मिलेगी. पाकिस्तान से भारत आए शरणार्थी और भारतीय नागरिकता प्राप्त उनके बच्चे को भारत में रोज़गार के अवसर दिए जाएंगे, बशर्ते उन्हें केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) से सिक्योरिटी क्लेरेंस मिल गया है. एडवाइजरी में भारतीय छात्रों को साफ तौर से सलाह दी गई है कि हायर एजुकेशन के लिए पाकिस्तान जाने से बचें.

    UGC & AICTE has advised students not to travel to Pakistan for pursuing higher education. pic.twitter.com/L1vl5XmotQ

    — ANI (@ANI) April 23, 2022